लोगों के स्वास्थ्य को लेकर सजग सेहत का महकमा

jholachhap doctors झोलाछापों को भेजा जेल, चिकित्सा विभाग व पुलिस की कार्रवाई में हुए गिरफ्तार

उदयपुर/ झल्लारा. jholachhap doctors सलूम्बर उपखण्ड अधिकारी के निर्देश पर गठित चिकित्सा विभाग के दल व पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई कर दो जगहों पर मरीजों को उपचार सेवाएं दे रहे दो झोलाछाप डॉक्टर्स की धरपकड़ की। आरोपियों को अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश हुए। इससे पहले भबराना चिकित्सा प्रभारी डॉ. संपतलाल मीणा ने रिपोर्ट देकर बताया कि भबराना सहित समीपवर्ती इलाकों में झोलाछाप डॉक्टर्स आमजन के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने में लगे हैं। इस पर विभागीय टीम के साथ चौकी से हेड कांस्टेबल महिपालसिंह व जवान महेंद्रसिंह मियाला ने भबराना में संचालित अवैध क्लीनिकों का निरीक्षण किया। दस्तावेज व योग्यता के अभाव में उपचार करते मिले श्यामलाल विश्वास को पुलिस ने गिरफ्तार किया। मौके से पुलिस को गर्भपात सहित करीब ३२ तरह की एलोपैथिक दवाइयंा मिली। कार्रवाई की सूचना के बाद समीपवर्ती दूसरे झोलाछाप दुकानों का शटर गिराकर भाग निकले। दूसरी ओर बरोड़ा गांव में डॉ. प्राजकता खंकाल, ईंटालीखेड़ा चिकित्सा प्रभारी डॉ मनोज कुमावत, डॉ आशीष डोडा की टीम ने अवैध प्रैक्टिस कर रहे नित्यरंजन सरकार को गिरफ्तार किया। थानाधिकारी शिवसिंह चौहान ने बताया कि मामले में दोनों ही आरोपियों को अदालत में पेश किया गया। बता दें कि क्षेत्र में झोलाछाप डॉक्टर्स की बिरादरी बड़ी तादाद में लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रही है। इतना ही नहीं दुकानों में दवाइयां दिखाकर गरीब तबके की जेब लूटने में भी झोलाछापों की ओर से कोई कसर नहीं छोड़ी जा रही।

मेवल में सर्च अभियान, नहीं मिले झोलाछाप डॉक्टर्स
गींगला पसं. चिकित्सा व स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मंगलवार को मेवल क्षेत्र में झोलाछापों की धरपकड़ को लेकर अभियान छेड़ा, लेकिन विभागीय दल को कोई सफलता हाथ नहीं लगी। इधर, दल की भनक लगते कई झोलाछाप मौके से भाग निकले। बाद में दल सदस्यों ने मौका कार्रवाई कर उनके क्लीनिक सीज किए। सलूम्बर उपखण्ड अधिकारी के निर्देश पर करावली पीएचसी प्रभारी डॉ. प्रमोद कुमार व ओरवाडिया पीएचसी प्रभारी डॉ. संजय शर्मा के नेतृत्व में चिकित्सकीय टीम ने करावली, माकड़सीमा व ओरवाडिय़ा गांवों में अवैध संचालित दवा क्लीनिकों, बंगाली दवाखानों में दबिशें दी। लेकिन, इससे पहले भनक लगते ही झोलाछाप डॉक्टर्स मौके से भाग निकले। इस बीच टीम ने क्लीनिक और अवैध दुकानों पर भीतर से बरामद चिकित्सा सामग्री के आधार पर क्लीनिक सीज किए। बता दें कि चिकित्साधिकारी की ओर से कार्रवाई को लेकर स्थानीय पुलिस थाने को सूचना दी गई, लेकिन जवानों की अनुपस्थिति में बिना देर लगाए चिकित्सकीय दल ने सीधे छापामारी की।
सीज की कार्रवाई
ओरवाडिय़ा व करावली पीएचसी प्रभारियों के नेतृत्व में गठित चिकित्सा दल ने उनके क्षेत्र में छापामार की कार्रवाई की। jholachhap doctors झोलाछाप डॉक्टर्स के भाग निकलने पर क्लीनिक सीज किए।
डॉ. गजानंद गुप्ता, बीसीएमओ, सलूम्बर

Show More
Sushil Kumar Singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned