5 करोड़ की डिविडिंग मशीन खरीदी फिर भी उदयपुर की झीलें जुगाड़ से हो रही सफाई

5 करोड़ की डिविडिंग मशीन खरीदी फिर भी उदयपुर की झीलें जुगाड़ से हो रही सफाई

चंदनसिंह देवड़ा/उदयपुर.नगर निगम ने करीब 5 करोड़ की लागत से डिविडिंग मशीन झीलों में पसरी जलीय घास और कचरे को साफ करने के लिए खरीदी लेकिन अभी भी स्वरुपसागर और दूसरी झील में जुगाड़ की नाव से मजदूर सफाई कर रहे है। स्वरुप सागर में मजदूरों द्वारा जुगाड़ की बोट बना रखी है उस पर खड़े होकर पानी में लम्बे लम्बे बांस की आंकड़ी घुमाकर जलीय घास निकाल कर किनारे डाली जा रही है। निगम के अधिकारियों का कहना है कि दूधतलाई और स्वरुपसागर में डिविडिंग मंशीन को ले जाने का रास्ता नहीं होने से मजबूरी है कि इसी तरह झीलों का साफ रखा जा सके। इस काम में लगे ठेके के मजदूरों को हर वक्त जलीय जहरीले जीव के काटने का डर सताता है। किनारे पर यह कमर तक पानी में उतर कर तो कभी कभी तैरते हुए भी पानी में से कचरा निकालते है। इसके बाद किनारे पर लाकर जमा किया जाता है।

Chandan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned