नगर निगम का अहम निर्णय: बहुमंजिला घर बनाने की एक साथ मिलेगी मंजूरी

उदयपुर. नगर निगम की एम्प्वायर्ड कमेटी की शुक्रवार को हुई बैठक में बड़ा निर्णय किया गया।

By: jyoti Jain

Published: 02 Dec 2017, 11:40 AM IST

उदयपुर . नगर निगम की एम्प्वायर्ड कमेटी की शुक्रवार को हुई बैठक में बड़ा निर्णय किया गया। अब मकान बनाने वालों को अलग-अलग मंजिल की अलग-अलग स्वीकृति के बजाय एक साथ स्वीकृति मिल जाएगी। यह सिर्फ आवासीय श्रेणी के लिए होगा।

 

READ MORE: video: यहां विपक्षियों ने नहीं भाजपाइयों ने खुद खींची एक-दूसरे की टांग, खूब लिए मजे... जानिए पूरा मामला


बैठक की अध्यक्षता महापौर चंद्रसिंह कोठारी ने की। अब तक निगम अलग-अलग चरणों में स्वीकृति देता रहा है। जैसे कि तीन मंजिला मकान बनाना है तो पहले प्रथम मंजिल, फिर दूसरी मंजिल और फिर तीसरी मंजिल की स्वीकृति दी जाती है। नई व्यवस्था में लोगों को बेवजह निगम के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे।

 

READ MORE: कोई व्यक्ति स्वास्थ्य से नहीं करता खिलवाड़, चुकाओ राशि, कोर्ट ने दिए आदेश


एम्पावर्ड कमेटी ने 40 प्लान मंजूर किए
कमेटी की बैठक शुक्रवार को महापौर चन्द्रसिंह कोठारी की अध्यक्षता में हुई। बैठक में कमेटी के समक्ष आए प्रकरणों पर चर्चा की गई तथा कमेटी ने करीब प्रकरणों का निस्तारण करते हुए प्लान को अनुमति दे दी, ये सभी प्लान करीब तीन मंजिला तक के भवनों की स्वीकृति के है। कुछ प्रकरणों पर निर्णय नहीं होने से उनको आगामी बैठक में निस्तारित किया जाएगा। बैठक में आयुक्त सिद्धार्थ सिहाग, डीटीपी प्रसून चतुर्वेदी सहित अधिकारी व सदस्य उपस्थित थे।

 

READ MORE: उदयपुर में डिजिफेस्ट देगा युवाओं और आईटी स्टार्टअप्स को बढ़ावा, कल से होगा शुरू


महापौर कोठारी तीन को जाएंगे वियतनाम
महापौर कोठारी रोड सेफ्टी की कार्यशाला में भाग लेने के लिए तीन दिसम्बर को वियतनाम के लिए रवाना होंगे। वे वहां की यात्रा से वापस 9 दिसम्बर को लौटेंगे।

 

 

read alos: बीस कर्मचारी संगठनों ने भरी हुंकार


उदयपुर. अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति की ओर से सामूहिक हस्ताक्षर किए। जनवरी 2016 से 7वें वेतनमान की मांग के साथ ही 2013 के बाद के कर्मचारियों के वेतनमान में की गई कटौती की निन्दा की।
महामंत्री प्रदीप गर्ग ने बताया कि विभिन्न गुटों में बटे 15 संगठनों को समिति में जोडऩे की सहमति दी। संयोजक दिनेश वैष्णव ने 35 संगठनों को साथ लेकर आंदोलन की बात कही। संस्थापक भंवरसिंह राठौड़, देवीलाल चौधरी, धूलसिंह चूण्डावत, मुबारिक हुसैन, अम्बालाल मेनारिया, लोकेन्द्र कोठारी, डालचन्द पालीवाल, हरिशंकर औदिच्य, चन्द्रप्रकाश चित्तौड़ा, अर्चना शर्मा, राकेश बंसल मौजूद थे।

jyoti Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned