सज्जनगढ़ बायो पार्क की रानी थी बीमार, च‍िक‍ित्‍सकों नेे क‍िया सफल ऑपरेशन

सज्जनगढ़ बायो पार्क की रानी थी बीमार, च‍िक‍ित्‍सकों नेे क‍िया सफल ऑपरेशन

Mukesh Hingar | Updated: 12 Jan 2018, 08:26:07 PM (IST) Udaipur, Rajasthan, India

रानी का सफल ऑपरेशन

उदयपुर . सज्जनगढ़ बॉयोलॉजिकल पार्क में शुक्रवार को मादा पैंथर रानी का सफल ऑपरेशन किया गया। 10 वर्षीय रानी ने पिछले आठ-दस दिन से खाना-पीना बंद कर दिया था जिसके चलते इसके स्वास्थ्य में लगातार गिरावट हो रही थी।

उप वन संरक्षक (वन्यजीव) हरिणी वी. ने बताया कि ऑपरेशन के लिए मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया जिसमें जयपुर चिडियाघर के वरिष्ठ वन्यजीव चिकित्सा डॉ. अरविंद माथुर एवं सज्जनगढ बॉयोपार्क के डॉ. करमेन्द्र प्रताप सिंह शामिल थे। मादा पैंथर पायोमैट्रा से ग्रसित थी जिससे उसकी ओवरियो-हिस्ट्रेक्टोमी कर एक लीटर मवाद से भरी बच्चे दानी निकाली गई। दो घंटे के ऑपरेशन के दौरान मादा पैंथर को फ्लूडथैरेपी एवं अन्य आवश्यक जीवन रक्षक दवाइयां दी गई। उसे 24 घंटे गहन चिकित्सकीय निगरानी में रखा गया है।

 

READ MORE : पेड़़ ग‍िरने से हुई थी दो लोगों की मौत तो ज‍िम्‍मेदारों ने इसे कहा एक्‍ट ऑफ गॉड, लेक‍िन कोर्ट ने नहीं माना और ठहराया न‍िगम को दोषी

 

नयागांव एसबीआई में 15 हजार रुपए भी नहीं!
भाणदा. खेरवाड़ा उपखंड क्षेत्र में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) की नयागांव शाखा में 15 हजार रुपए की एक साथ निकासी भी नहीं हो पा रही। बैंक प्रबंधन का कहना है कि करेंसी की कमी है। दरअसल, भाटडिय़ा सरेरा निवासी सवितादेवी पत्नी नाथूलाल गुरुवार को नकद निकासी के लिए उक्त बैंक पहुंची थी। बीमार पति के लिए उसे 15 हजार रुपए की जरूरत थी। उसके खाते में रकम भी पर्याप्त थी। महिला ने अपेक्षित राशि का विदड्रॉल फार्म भरकर कैश काउंटर पर जमा करवाया। इसके उलट उसे मात्र दो हजार रुपए का भुगतान किया गया। बैंक में भीड़ के चलते घंटों कतार में रहने के बाद भी जब महिला की मांग और जरूरत पूरी नहीं हुई तो वह मायूस लौट गई। राजस्थान पत्रिका ने शाखा प्रबंधक ओम प्रकाश तेली से बातचीत की। समस्या और सवाल पर उन्होंने बताया कि बैंक में नई करेंसी का अभाव है। पर्याप्त राशि नहीं होने से उपभोक्ताओं को पूरी राशि नहीं मिल पा रही है। नई करेंसी आने पर व्यवस्था में सुधार आ जाएगी और उपभोक्ताओं को अपेक्षित राशि का भुगतान हो पाएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned