इसी पैंथर ने किया था बालिका का शिकार, गोली मार कर किया दहशत का खात्मा

Madhulika Singh | Updated: 15 Aug 2019, 12:44:22 PM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

बालिका के शरीर पर दांत के निशान इसी पैंथर के मिले, विसरे लिए , पीएम रिपोर्ट में आया पैंथर भूखी थी

मुकेश हिंगड़/ उदयपुर. अहमदाबाद हाइवे पर परसाद वन क्षेत्र में बुधवार को पैंथर को वन विभाग ने ट्रैंक्विलाइज कर दिया लेकिन पैंथर की मौत भी हो गई। शाम को पोस्टमार्टम में सामने आया कि पैंथर को गोली भी लगी। यह भी सामने आया कि मंगलवार को पैंथर की शिकार हुई बालिका कल्पना के शरीर पर लगे पैंथर के दांत के निशान इसी पैंथर के थे। वैसे मृत पैंथर के शरीर से विसरा लिया गया है जिसे हैदराबाद भेजा जाएगा। बुधवार को सुबह ग्रामीणों की अलग-अलग जगह भीड़ जमा थी और वे गुस्से में थे। इस बीच डीएफओ अजय चित्तौड़ा को सूचना मिली कि कोल्यारी एनीकट और पडूना नाला के पास पैंथर दिखा है। कोल्यारी की सूचना वन विभाग के स्टाफ की थी तो डीएफओ और टीम वहां पहुंची। वहां एक खड़े एक युवा ने टीम को बताया कि पैंथर उसने देखा और वह गूफा में गया है। तत्काल वन विभाग ने गूफा के बाहर जाल लगा दिया।

.... कल्पना का शव 24 घंटे बाद उठाया

ग्रामीणों का आक्रोश इस कदर था कि कल्पना का शव घटना स्थल से नहीं उठाने दिया। ग्रामीणें ने प्रशासन के गैर जिम्मेदाराना रवैये को लेकर पूर्व में हुई घटना के दौरान मुआवजे के रूप में रखी गई शर्ते नहीं मानने एवं सरकार द्वारा कोई ठोस आश्वासन नहीं देने के कारण शव नहीं उठाने दिया। कलक्टर, एसपी, तथा जनप्रतिनिधियों व ग्रामीणों एवं प्रशासन के बीच करीब 4 घण्टे तक वार्ता चली। समझाइश के बाद शव पहाड़ी से उठाकर परसाद सामुदायिक अस्पताल ले गए। वहां डॉ. कुलदीप लोहार के साथ टीम ने पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंपा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned