हजार इंजीनियरों ने दस हजार जगह मारा छापा

अजमेर डिस्कॉम ने 4654 जगह पकड़ी बिजली चोरी, जुर्माना लगाया 7.50 करोड़ रुपए

By: Pankaj

Published: 17 Jun 2020, 02:26 AM IST

उदयपुर . अजमेर विद्युत वितरण निगम ने डिस्कॉम के सभी 11 जिलों में बिजली चोरों के खिलाफ मुहिम छेड़ दी है। निगम की ओर से चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत इस बार 992 इंजीनियरों ने एक साथ 9047 जगहों पर छापा मारा। इनमें 4654 जगहों पर बिजली चोरी पकड़ी गई। इन पर 7.50 करोड़ रुपए जुर्माना लगाया गया है। उदयपुर में 206 जगह बिजली चोरी पकड़ी गई।
निगम की ओएण्डएम और विजिलेंस शाखा के अलावा मीटर एण्ड प्रोटेक्शन शाखा, स्टोर शाखा व प्रोजेक्ट शाखा के अभियंताओं को भी प्रत्येक शनिवार को सतर्कता जांच करने के लिए निर्देशित किया गया है। बीते सप्ताह निगम के 992 इंजीनियरों ने 11 जिलों में 9047 परिसरों की जांच की। जिसमें 4654 विद्युत चोरियां पकड़ी गई। निगम ने बिजली चोरों पर 7.50 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है।
सर्वाधिक चोरी नागौर में

सबसे अधिक नागौर जिले में 592 जगह विद्युत चोरी पकड़ी, जिन पर 121.79 लाख रूपए जुर्माना लगाया। अजमेर शहर वृत में 112, अजमेर जिलावृत में 156, भीलवाड़ा में 379, सीकर में 479, उदयपुर में 206, राजसमंद में 78, बांसवाड़ा में 122, डूंगरपुर में 86, चितौडगढ़ में 503, प्रतापगढ़ में 84 झुंझूनू में 483 जगह विद्युत चोरी पकड़ी। इसके अलावा निगम की एम एण्ड पी विंग ने भी 302, प्रोजेक्ट विंग ने 92, स्टोर विंग ने 40 और विजिलेंस विंग ने 318 विद्युत चोरियां पकड़ी। डिस्कॉम ने 622 जगह विद्युत के गलत इस्तेमाल के मामले दर्ज किए, जिसका 58.69 लाख रुपए जुर्माना लगाया गया।
विशेष अभियान शुरू

डिस्कॉम ने पिछले वर्ष की तरह इस बार फिर बिजली चोरी पर विशेष अभियान शुरू किया है। डिस्कॉम ने इस साल 14 प्रतिशत से कम बिजली छीजत का लक्ष्य रखा है। इसके लिए यह अभियान शुरू किया गया है।
वीएस भाटी, एमडी, एवीवीएनएल
निगम की ओर से बिजली चोरी करने वालों के खिलाफ छापामार कार्रवाई अभियान चलाया जा रहा है। इसमें उदयपुर जिले में भी 206 जगहों पर बिजली चोरी पकड़ी गई। आगे भी अभियान जारी रहेगा। इसके लिए पूरी टीम जुटी हुई है।

गिरीश कुमार जोशी, एइएन, उदयपुर सर्कल

Pankaj Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned