जिंक को पानी देने का अनुबंध खत्म हो गया, मावली वाले पानी के लिए त्राहि-त्राहि

विधानसभा में उदयपुर

By: Mukesh Kumar Hinger

Published: 05 Mar 2021, 11:07 PM IST

उदयपुर. विधानसभा में गुरुवार को गोगुंदा में औद्योगिक क्षेत्र स्थापित करने का सवाल उठा तो एक दिन पहले बुधवार को विस में मावली विधायक धर्मनारायण जोशी ने उदयसागर से हिन्दुस्तान जिंक को पानी देने का अनुबंध दिसम्बर में खत्म हो गया। अब सरकार क्या करें कुछ नहीं कह सकते है मैने तो मुख्यमंत्री को भी पत्र लिखा था।


गोगुंदा में औद्योगिक क्षेत्र स्थापित होगा

गोगुंदा विधायक प्रताप लाल भील के गोगुंदा उपखंड मुख्यालय पर औद्योगिक क्षेत्र विकसित करने के सवाल पर सरकार की आरे से उद्योग मंत्री परसादी लाल ने कहा कि राज्य सरकार की बजट घोषणा 2021-22 में प्रदेश में औद्योगिक क्षेत्र स्थापित किए जाने से वंचित 147 उपखंड में चरणबद्ध रूप से औद्योगिक क्षेत्र स्थापित किए जाएंगे, इसमें गोगुुंदा भी शामिल है लेकिन इसमें प्रथम चरण में जो 64 उपखंड क्षेत्र है उसमें गोगुंदा नहीं है। विधायक के कब तक शामिल करने के सवाल पर मंत्री ने कहा कि अगले चरण में लिया जाएगा।

बागोलिया की डीपीआर बनी है, बस पानी लाए
इधर, बुधवार को विस में चर्चा के दौरान बोलते हुए मावली विधायक धर्मनारायण जोशी ने कहा कि यह बजट केवल आंकड़ों का मायाजाल है, इसके अलावा कुछ नहीं है। मुख्यमंत्री ने तीसरा बजट पेश किया है, तीसरे बजट में पुराने बजट की जो घोषणाएं है जनता उनकी राह देख रही है कि कब तक पूरी होगी। जोशी ने कहा कि बेरोजगारी भत्ते को लेकर एक सवाल किया उसमें जो आंकड़े आए, उदयपुर जिले में 2150 बेरोजगारों केा भत्ता मिला, झाड़ोल के कोटड़ा तहसील में 4 को मिला, लसाडिय़ा में 10 को, यह इस सरकार की उपलब्धि है। जोशी ने कहा कि मावली के बागोलिया बांध की डीपीआर बनी हुई है, मावली तहसील पानी के लिए त्राहि-त्राहि कर रही है, कोई घोषणा नहीं की है। जोशी ने कहा कि उदयसागर से पानी ले जाने के लिए आपको आश्चर्य होगा कि मानसी वाकल के लिए हिन्दुस्तान जिंक ने पैसा दिया था, दिसंबर में अनुबंध खत्म हो गया, मैने सरकार से, मुख्यमंत्री से प्रार्थना की। अभी इसकी मियाद बढ़ाई नहीं है परंतु मुझे लगता है सरकार पिछले दरवाजे से क्या करें, कुछ नहीं कह सकते है। जोशी ने कहा कि राजसमंद, वल्लभनगर का उप चुनाव है, माही का पानी जाखम में और जाखम का पानी वल्लभनगर में आए, वल्लभनगर व राजसमंद भी भर सकता है, डीपीआर बनी हुई है, सरकार पानी को लाने की व्यवस्था करें। जोशी ने कहा कि मावली में कॉलेज खुला है लेकिन भवन नहीं है, मावली में पुलिस उपाधीक्षक कार्यालय किराए पर चल रहा है।

सलूंबर रोड पर स्टेट हाइवे का काम बंद पड़ा

बुधवार को ही सलूंबर विधायक अमृतलाल मीणा बोलते हुए कहा कि पिछले दो वर्षों का जो बजट है उसमें मात्र 33 प्रतिशत ही जमीन पर उतरा है। महाराणा प्रताप की अंतिम राजधानी चावंड के विकास के लिए बजट में कुछ भी प्रावधान नहीं किया गया। स्टेट हाइवे 32 उदयपुर से सलूंबर पिछले दो साल से पीडब्ल्यूडी व वन विभाग की लापरवाही के कारण कार्य बंद पड़ा है। वहां आज 15 किलोमीटर की एनओसी नहीं मिल रही है। विधायक ने चावंछ व जावद में सामुदायिक चिकित्सालय व सलूंबर में जिला परिवहन कार्यालय खोलने की मांग की।

Show More
Mukesh Kumar Hinger Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned