आरटीडीसी होटल में स्विमिंग पूल के लिए खोदा गड्डा बंद करें, कलक्टर बोले भराई का वीडियो व फोटो बनाकर भेजे

जयसमंद पहुंचे कलक्टर बोले रिनोवेशन करवा सकते लेकिन खुदाई नहीं

By: Mukesh Kumar Hinger

Published: 22 Jul 2021, 11:18 AM IST

उदयपुर/जयसमंद . जयसमंद में आरटीडीसी की होटल में स्वीमिंग पूल के लिए की गई खुदाई को भरा जाएगा और वहां अब पूल नहीं बनेगा यह निर्देश बुधवार को जिला कलक्टर चेतन देवड़ा ने जयसमंद जाकर मौका देखने के बाद हाथों हाथ खोदे गए गड्डे को भराने के निर्देश देकर पालना कराने को कहा।
कलक्टर ने वहां फटकार लगाते हुए अधिकारियों की मौजूदगी में स्वीमिंग पूल का गड्डा तीन दिन में भरते हुए फाटो व वीडियोग्राफी करवाने को कहा। उन्होंने स्वीमिंग पूल की खुदाई पाल पर होने की लापरवाही के लिए आरटीडीसी,जल संसाधन विभाग व वन विभाग के अधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि वे अपने दस्तावेज व रिपोर्ट गुरुवार तक दे।
इस दौरान सराड़ा उपखण्ड अधिकारी सुभाष चंद्र हेमानी, तहसीलदार रवींद्र सिंह चौहान, जल संसाधन विभाग के अधिशाषी अभियंता कैलाश जैन, रेंजर गौतमलाल, आरटीडीसी होटल के महाप्रबंधक सुनील माथुर, सराड़ा थानाधिकारी अनिल विश्रोई, होटल संचालक सुनील सुहालका आदि उपस्थित थे।
उल्लेखनीय है कि आरटीडीसी के होटल लीज पर देने के बाद वहां किए निर्माण को पूर्व में वन विभाग ने अवैध मानते हुए ध्वस्त किया और स्वीमिंग पूल बनाने पर सिंचाई व वन विभाग ने नोटिस दिया था। इस बात पर भी चर्चा थी कि कलक्टर ने मौका देखते हुए खुदाई को भरने को कहा जबकि एक दिन पहले होटल संचालक के साथ आरटीडीसी के अफसरों ने उदयपुर में दावा किया था कि होटल में स्वीमिंग पूल के निर्माण से पाल को खतरें को लेकर भ्रम फैलाया जा रहा है।

कलक्टर के निर्देश के बाद अब यह होगा
- स्वीमिंग पूल के लिए खोदी गई जगह पर आरसीसी की रिटेनिंग वॉल बनाकर बीच वाले भाग को सीमेंट क्रंक्रीट से भरा जाएगा। इस कार्य के दौरान उपखंड अधिकारी, तहसीलदार, गातोड़ सरपंच एवं वीरपुरा जल वितराण समिति अध्यक्ष की उपस्थिति रहेगी।
- होटल में रिनोवेशन कार्य जारी रहेगा।
- होटल का प्रवेश द्वार भी जयसमंद से जगत रोड की तरफ मुख्य सडक़ की तरफ करने के निर्देश दिए।

उदयपुर आने वाले सरपंचों ने वहीं दिया ज्ञापन
जयसमंद पंचायत समिति सरपंच संघ का प्रतिनिधिमंडल जो बुधवार को उदयपुर आकर कलक्टर को ज्ञापन देने वाला था। कलक्टर के वहां पहुंचने पर प्रतिनिधिमंडल ने वहीं कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में इस गंभीर लापरवाही में दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने, जयसमंद पाल व आरटीडीसी होटल में भविष्य में किसी भी तरह की खुदाई नही करने की मांग की। जनप्रतिनिधियों ने आरटीडीसी के अधिकारियों के खिलाफ कलक्टर के सामने ही आक्रोश जताया। ज्ञापन देने वालों में सेमारी प्रधान दुर्गा प्रसाद मीणा, संघ अध्यक्ष किशनलाल मीणा, सरपंच हमीरलाल मीणा, नवलराम मीणा, सलूम्बर उप प्रधान देवेन्द्रसिंह बस्सी आदि शामिल थे।

Show More
Mukesh Kumar Hinger
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned