लेकसिटी विश्व में दसवें, एशिया में छठे स्थान पर, द लीला पैलेस पैलेस एशिया में नंबर वन

लेकसिटी विश्व में दसवें, एशिया में छठे स्थान पर, द लीला पैलेस पैलेस एशिया में नंबर वन

Bhagwati Teli | Updated: 13 Jul 2019, 12:53:04 PM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

यह इस शहर और इससे जुड़े पर्यटन व्यवसाय के लिए बेहद खुश खबर है। विश्व मानचित्र पर अपने नैसर्गिक सौंदर्य, झीलों, ऐतिहासिक धरोहरों और अरावली उपत्यकाओं के बूते अलग स्थान रखने वाली इस पर्यटन नगरी को एक सर्वे में समूचे विश्व में दसवां और एशिया में छठां स्थान मिला है। वैसे तो यह शहर सैकड़ों छोटी-बड़ी होटल्स और रिसोर्ट के अलावा अपनी अनोखी मेहमान नवाजी और लोक लुभावनी संस्कृति के दम पर पहले ही देसी-विदेशी सैलानियों की पहली पसंद बना हुआ था। लेकिन, पिछले दिनों न्यूयार्क की ट्रेवल मैग्जीन ट्रेवल लेजर के माध्यम से दुनियाभर में हुए ऑन-लाइन सर्वे के आधार पर उदयपुर udaipur की होटल द लीला पैलेस Hotel Leela Palace को दुनिया की 100 सर्वश्रेष्ठ होटल्स तथा एशिया के श्रेष्ठ रिसोर्ट में पहले नंबर पर शुमार किया गया है।

उदयपुर. यह इस शहर और इससे जुड़े पर्यटन व्यवसाय के लिए बेहद खुश खबर है। विश्व मानचित्र पर अपने नैसर्गिक सौंदर्य, झीलों, ऐतिहासिक धरोहरों और अरावली उपत्यकाओं के बूते अलग स्थान रखने वाली इस पर्यटन नगरी को एक सर्वे में समूचे विश्व में दसवां और एशिया में छठां स्थान मिला है। वैसे तो यह शहर सैकड़ों छोटी-बड़ी होटल्स और रिसोर्ट के अलावा अपनी अनोखी मेहमान नवाजी और लोक लुभावनी संस्कृति के दम पर पहले ही देसी-विदेशी सैलानियों की पहली पसंद बना हुआ था। लेकिन, पिछले दिनों न्यूयार्क की ट्रेवल मैग्जीन ट्रेवल लेजर के माध्यम से दुनियाभर में हुए ऑन-लाइन सर्वे के आधार पर उदयपुर udaipur की होटल द लीला पैलेस को दुनिया की 100 सर्वश्रेष्ठ होटल्स तथा एशिया के श्रेष्ठ रिसोर्ट में पहले नंबर पर शुमार किया गया है।

इतना ही नहीं, विश्व की 25 होटल ब्रांड्स में लीला दसवे नंबर पर है। न्यूयार्क में आयोजित अवार्ड समारोह में गु्रप प्रेसिडेंंट राजीव कौल यह सम्मान ग्रहण करेंगे। जनरल मैनेजर राजेश नाम्बी ने बताया कि वे दक्षिण भारतीय हैं। भले ही वे इस शहर में पैदा होकर पले-बढ़े नहीं, लेकिन अन्ना लैंड से बन्ना लैंड आकर उन्हें मेवाड़ की संस्कृति से जुडऩे का जो सुअवसर मिला उसके लिए वह इस धरा के ऋणी रहेंगे। इस समूह ने अगर मेवाड़ की माटी से बहुत कुछ लिया तो सामाजिक सरोकारों के माध्यम से लौटाने का काम भी किया है। जिनमें स्थानीय लोगों को रोजगार, झील संरक्षण के सतत ईमानदार प्रयास, होटल के आसपास क्षेत्र की सडक़ों का रखरखाव, गांव और संस्थाओं को गोद लेकर जीवन स्तर ऊंचा बनाने आदि के प्रयास प्रमुख हैं।


पर्यटन को मिलेगी बूस्टर डोज


होटल सिवरेज और वेस्ट के बारे में किए सवाल पर वे बताते हैं कि पिछले कलक्टर के दिशा-निर्देश और होटल की विश्व स्तरीय पैमानों के अनुसार झीलों और पर्यावरण संरक्षण के हर संभव प्रयासों की पालना नियमानुसार की जा रही है। यही एक कारण है कि देश में अहमदाबाद, दिल्ली और मुंबई से हर साल आने वाले पर्यटकों की संख्या उत्तरोत्तर बढ़ती जा रही है। एयर कनेक्टिविटी सुविधा के साथ ही बेंगलुरु और हैदराबाद जैसे शहरों के सैलानी भी जुड़े हैं। इधर, फॉरेन टूरिट्स में सर्वाधिक यूएस, यूके, फ्रांस, स्विट्जरलैंड, ऑस्ट्रेलिया और स्पेन से इस शहर की खूबसूरती और झीलों के कारण प्रतिवर्ष लेकसिटी आते हैं। इस मौके पर कमर्शियल एंड हैड लाइजनिंग दिनेशन नायर और उप महाप्रबंधक प्रतीक स्वरूप, ट्रेनिंग मैनेजर मनीष राणावत, सेक्यूरिटी और लाइजन मैनेजर विक्रमसिंह चौहान तथा एचआर मैनेजर खाजाराम भादुरी भी उपस्थित थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned