उदयपुर पुलिस ने बेच दी जब्त की गई एक डंपर अवैध बजरी!

udaipur police 11 दिन से थाना परिसर में पड़ा है बजरी के साथ जब्त डंपर

By: Sushil Kumar Singh

Published: 08 Dec 2019, 06:00 AM IST

उदयपुर/ गोगुंदा. udaipur police बजरी के अवैध परिहवन को लेकर सायरा क्षेत्र में हुई कार्रवाई के बाद डंपर पर लदी बजरी के गायब होने का मामला तूल पकड़ रहा है। प्रशासनिक अधिकारी कार्रवाई के समय बरामद डंपर में बजरी लदे होने की पुष्टि कर रहे हैं। वहीं खनन विभाग बजरी के अभाव में डंपर के खिलाफ कार्रवाई करने से इनकार कर रहा है। दूसरी ओर थाना परिसर में खड़े डंपर से गायब हुई बजरी को लेकर पुलिस का रवैया उदासीन बना हुआ है। त्रिकोणीय गुत्थी में उलझे इस मसले में डंपर मालिक, वाहन की जमानत नहीं करा पा रहा है। थाने में खड़े डंपर से गायब बजरी के बीच माइनिंग विभाग ने नियम कायदों का आइना दिखाया है। ऐसे में एक सवाल जन्म ले रहा है कि आखिरकार डंपर में लदी बजरी को जमीन खा गई या आसमां निगल गया। सवाल यह भी खड़ा हो रहा है कि आखिर थाने जैसी जगह पर जाकर बजरी कौन चुरा सकता है। एक प्रश्न लोगों में भी चर्चा बना हुआ है कि पुलिस ने ही एक डंपर बजरी का सौदा कर लिया। अब सवालों में उलझी गुत्थी का जवाब तो जांच प्रक्रिया के बाद ही मिलेगा, लेकिन पूरे मामले में पुलिस की कार्यशैली पर काई सवाल खड़े हो रहे हैं।हुआ यूं कि 26 नवंबर को सायरा के नायब तहसीलदार रणजीतसिंह ने सुबह तड़के पुनावली के निकट कार्रवाई कर अवैध परिहवन में लिप्त बजरी लदे तीन डंपर की पुष्टि की। बाद में थाना पुलिस के एक-एक (दो) जवानों को अलग-अलग डंपर चालक के साथ रवाना किया, जबकि तीसरे डंपर के साथ राजस्व विभाग का नुमाइंदा थाने पहुंचा। तीनों डंपर थाने में खड़े रहे। इस बीच खनन विभाग के दल ने थाने पहुंचकर बजरी लदे दो डंपर का चालान बनाया और वाहन मालिक से जुर्माना वसूल कर उन्हें छोड़ लिया। तीसरे खाली डंपर को लेकर माइनिंग विभाग ने हाथ खड़े कर दिए। दूसरी ओर पुलिस के पास डंपर बरामदगी का कोई कारण नहीं है। ऐसे में वाहन मालिक बीते दिनों से थाने के चक्कर काट रहा है, लेकिन उसकी समस्या को लेकर किसी के पास जवाब नहीं है। दूसरी ओर प्रशासनिक अमला स्पष्ट कह रहा है कि तीनों डंपर बजरी से लदे थे। कयास लगाया जा रहा है कि वाहन बरामदगी के दौरान थाने पहुंचने से पहले किसी एक डंपर चालक ने मौका पाकर धीरे-धीरे कर बीच रास्ते में ही पूरी बजरी को खाली कर दिया होगा, जिसका पुलिसकर्मी को अंदाजा भी नहीं हुआ होगा। इधर, मामले को लेकर खनन विभाग के कर्मचारी महेश मीणा को कई बार दूरभाष पर संपर्क करने के प्रयास किए, लेकिन सफलता नहीं मिली।

नियमानुसार की जब्तगी
पुलिस ने नियमानुसार कार्रवाई कर 26 नवंबर को तीन डंपर की जब्तगी की थी। udaipur police खनिज विभाग की ओर से कार्रवाई किए बिना डंपर नहीं छोड़ा जाएगा। शंकरलाल राव, थानाधिकारी, सायरा

Show More
Sushil Kumar Singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned