उदयपुर में वाजपेयी की योजना वाले चौराहा का नाम भी अटल बिहारी वाजपेयी

उदयपुर में वाजपेयी की योजना वाले चौराहा का नाम भी अटल बिहारी वाजपेयी

Mukesh Hingar | Publish: Sep, 28 2018 11:36:55 PM (IST) | Updated: Sep, 28 2018 11:36:56 PM (IST) Udaipur, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news

उदयपुर. राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा निर्माणाधीन 6-लेन हाईवे पर देबारी में गे्रेटर सेपरेटर चौराहा का नाम स्वर्ण चतुर्भुज परियोजना के कर्णधार पुर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी के होगा और वहां पर उनकी प्रतिमा भी लगेगी। यह निर्णय नगर विकास प्रन्यास (यूआईटी) ने किया, साथ के साथ ही यूआईटी ने विधानसभा चुनाव से पहले 2125 लाख रुपए के विकास कार्य भी स्वीकृत किए है।
यूआईटी ट्रस्ट की शुक्रवार को चेयरमैन रवीन्द्र श्रीमाली की अध्यक्षता में हुई। बैठक में तय किया गया कि चौराहा पर पूर्व वाजपेयी की प्रतिमा लगाने एवं चौराहा उनके नाम किया जाएगा, यह प्रस्ताव न्यास अनुशंषा सहित राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण को भेजा जाएगा, साथ ही बडग़ांव में विकसित की जा रही रामगिरी पहाड़ी को अटल स्मृति उपवन के नाम से विकसित करने का निर्णय किया गया। बैठक में उदयपुर शहर में विभिन्न विकास कार्यों के लिए 2125.07 लाख रुपए की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति की पुष्टि की गई। इन कार्यों में कई सडक़ों के सुदृढीकरण के कार्य भी है। यूआईटी सचिव उज्ज्वल राठौड़ ने बताया कि प्रतापनगर चौराहे पर फ्लाईओवर निर्माण कार्य के लिए नगरीय विकास विभाग के मुख्य अभियंता की अनुशंषा प्राप्त होने के उपरांत प्राप्त न्यूनतम निविदा दर को न्यास की अनुशंषा सहित राज्य सरकार को सक्षम निविदा स्वीकृति के लिए प्रेषित किये जाने तथा कार्य की सक्षम तकनीकी स्वीकृति राशि 17.50 करोड़ की जारी करने का निर्णय लिया गया। इस अवसर अजमेर विद्युत वितरण निगम के अधीक्षण अभियंता एस.के. सिन्हा, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधिशाषी अभियंता संजय श्रीवास्तव, यूआईटी विशेषाधिकारी ओ.पी. बुनकर, भूमि अवाप्ति अधिकारी पुष्पेन्द्र सिंह शेखावत, मुख्य लेखाधिकारी दलपत सिंह राठौड़, अधीक्षण अभियंता संजीव शर्मा आदि उपस्थित थे।
--
इन बड़े कार्यों पर मुहर
- एन.एच. 8 से यू.आई.टी स्कीम (दत्तात्रेय आश्रम) तक सडक़
- मेलड़ी माता मंदिर से नवा घर तक सडक़
- हाड़ा रानी सर्कल सवीना से कृषि उपज मण्डी तक सडक़
- सज्जनगढ़ बायोलॉजिकल पार्क के पास हवाला गांव तक वैकल्पिक मार्ग निर्माण
- बेडवास (सातोडी मगरी) में अर्फोडेबल आवासीय योजना के 480 आवास गृहों में पेयजल व्यवस्था
- खेलगांव के समीप अनुपयोगी रिक्त पड़ी मार्बल स्लरी डम्पिंग यार्ड की भूमि पर एडवेंचर स्पोट्स विकसित किया जाएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned