ये प्यास है बड़ी-1 : उदयपुर में यहां 8 माह से 150 परिवार पानी के लिए परेशान, कोई नहीं समझ रहा इनका दर्द

अमरपुरा जागीर के 150 घरों की समस्या, पंचायत और समिति में उलझी गुत्थी

By: madhulika singh

Published: 16 May 2018, 03:21 PM IST

राकेश पचौरी/ लूणदा. ग्राम पंचायत अमरपुरा जागीर में करीब 8 माह से 150 परिवार पानी के इधर-उधर भटकने को विवश हैं, लेकिन इनकी व्यथा कोई सुनने वाला नहीं। ग्रामीणों ने सरपंच से लेकर राजस्थान संपर्क पोर्टल तक शिकायतें की, लेकिन समाधान नहीं हुआ। राजस्व लोक अदालत शिविर के दौरान समाधान की मांग की गई, लेकिन सप्ताहभर बीतने के बाद भी न हैण्डपम्प ठीक हुए और न ही टैंकरों की व्यवस्था की गई।

अमरपुरा जागीर में पूर्व में पनघट योजना लगी हुई थी। उसके लिए पंचायत द्वारा एक शपथ पत्र तैयार कर के समिति का गठन किया गया व समिति पनघट देखरेख व पैसा जमा करने का काम करती। पैसा जो भी बचता उस पैसों को पंचायत में जमा करवाया जाता, जिससे की पंचायत बिजली विभाग को पैसा जमा कराती थी। ग्रामीणों को पेयजल सुचारू रूप से सप्लाई हो रहा था, लेकिन आठ माह पूर्व न तो समिति ने पैसा इक्कठा किया और न पंचायत ने बिजली विभाग को पैसा जमा कराया। इसके चलते बिजली विभाग ने कनेक्शन काटकर ट्रांसफार्मर खोल ले गए। इन सब चक्कर में गांव में जनता पानी के लिए प्यासी हो गई। ग्रामीण जब भी पानी की समस्या को लेकर पंचायत पहुंचते तो पंचायत क हती समिति ने पैसा जमा नहीं कराया। बिजली विभाग ने कनेक्शन काट दिया कह कर पल्ला झाड़ दिया जाता है। अमरपुरा गांव के भंवर लाल जाट, विजय सिंह राठौड़, मोखम सिंह राठौड़, सुरेश जाट सहित कई ग्रामीणों ने कहा की जल्द से जल्द पंचायत व विभाग की ओर से उपाय नहीं किया गया तो आन्दोलन किया जाएगा।

दो माह पूर्व पंचायत को मिला नोटिस
एवीवीएनएल भीण्डर की ओर से ग्राम पंचायत अमरपुरा जागीर क ो नोटिस जारी कर बकाया राशि जमा कराने को कहा था। उसमें सात दिनों के अन्दर पैसा नहीं जमा कराने को कहा। पंचायत के पांच लाख 12 हजार 573 रूपए जमा करवाने का उल्लेख किया गया, जिसमें सात हजार 997 रूपए ऑफिस के, 3 लाख 22 हजार 869 रूपए पनघट और एक लाख 64 हजार 876 नाहपुरा गांव में पनघट के बिजली बिल के बकाया थे।

 

READ MORE : मीरां की धरती पर हो रहा मीरां का अपमान, इस कद्र हो रही दुर्गति क‍ि आप भी हो जाएंगे शर्मसार

 

सभी हैण्डपम्प खराब
अमरपुरा जागीर गांव में 6-7 हैण्डपम्प हैं, लेकिन एक भी चालू नहीं है। हैण्डपम्प चालू हो तो ग्रामीणों को गर्मी में कुछ राहत मिलेगी। जाट मोहल्ला, मेघवाल बस्ती, सेन बस्ती आदि में लगे हैण्डपम्प बंद हैं।

इनका कहना...
समिति पैसा इक्ठ्ठा कर रही है, पैसा जमा करवा कर व्यवस्था सुचारू की जाएगी।
रणजीतसिंह सांरगदेवोत, सचिव, अमरपुरा जागीर
पैसा थोड़ा बहुत इक्कठा हुआ था, लेकिन कुछ ग्रामीणा पैसा नहीं दे रहे है। मुझे नहीं लगता कि अब पनघट चालू होगी। फिर भी समिति सदस्य पैसा जुटाने का प्रयास कर रहे हैं।
छोगालाल जाट, अध्यक्ष, पनघट प्रबन्ध समिति
यह पंचायतीराज की ही जिम्मेदारी है। पंचायत प्रशासन को इसमें हस्तक्षेप कर समिति की ओर से पैसा जुटाकर इसे चालू कराना चाहिए।
अनिल कुमार शर्मा, उपखण्ड अधिकारी, वल्लभनगर
संपर्क पोर्टल पर भी समाधान नहीं
अमरपुरा ग्राम पंचायत निवासी भंवरलाल जाट ने बताया कि राजस्थान संपर्क पोर्टल पर भी समस्या को लेकर तीन-तीन बार शिकायत दर्ज कराई, लेकिन इन पर भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। पहली बार 31 मार्च, दूसरी बार 15 अप्रेल व तीसरी बार 31 अप्रैल को शिकायत की थी।

Show More
madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned