बढ़ गई है ठंड, इसलिए आज से महाशिवरात्रि तक गर्म पानी से स्नान करेंगे बाबा महाकाल

- गर्भगृह में फुलझड़ी जलाकर मनाई दीपावली
- बाबा को चढ़ाया गया 56 भोग का प्रसाद

By: Ashtha Awasthi

Published: 15 Nov 2020, 12:13 PM IST

उज्जैन। उज्जैन स्थित विश्व प्रसिद्ध महाकालेश्वर मंदिर (Mahakal Temple) में दीपावली (Deepawali) उत्सव धूमधाम से मनाया गया। अल सुबह बाबा के दरबार में दीपावली मनाई गई। वहीं दूसरी ओर प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर में शनिवार को भस्मारती के दौरान भगवान महाकाल को गर्म जल से स्नान कराया गया। बता दें कि इसे अभ्यंग स्नान कहते हैं।

mahakal_1563765724.jpeg

स्नान से पहले बाबा को चंदन का उबटन लगाया गया। चूंकि कार्तिक मास की चौदस से सर्दियों की शुरुआत मानी जाती है, इसलिए ठंड से बचने के लिए बाबा महाकाल को गर्म जल से स्नान कराने की परंपरा है। अब आने वाली महाशिवरात्रि तक बाबा को गर्म जल से स्नान कराया जाएगा।

मनाई गई दीपावली

14 नवंबर को महाकाल राजा के दरबार में अन्नकूट महोत्सव मनाया गया। सुबह 4 बजे होने वाली भस्म आरती के दौरान बाबा महाकाल को 56 पकवानों का महाभोग लगाया गया। साथ ही यहां परंपरानुसार हर त्योहार की शुरुआत सबसे पहले होती है, इसी कड़ी में दीपोत्सव की शुरुआत की जाती है।

19_07_2020-mahakaleshwar_temple_ujjain_entry_news_2020719_74154.jpg

इस साल केवल 21 पुरोहितों ने ही मिलकर पूजन अभिषेक किया। हर साल इस अवसर पर कलेक्टर, प्रशासक, सहायक प्रशासनिक अधिकारी और आम लोगों की मौजूदगी में पूजा की जाती थी लेकिन कोरोना की गाइड लाइन का पालन करते हुए पूजन के समय इस वर्ष आम जनों के दर्शन पर प्रतिबंध था। सरकारी अधिकारियों को भी निमंत्रण नहीं दिया गया था।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned