इंदौर से महाकाल सवारी देखने आ रहे परिवार पर टूटा कहर, रास्ते में हो गई ये घटना

इंदौर से महाकाल सवारी देखने आ रहे परिवार पर टूटा कहर, रास्ते में हो गई ये घटना

Lalit Saxena | Publish: Sep, 04 2018 11:53:19 AM (IST) Ujjain, Madhya Pradesh, India

पंथपिपलाई के पास हादसा, चलती बाइक से गिरा महिला का पर्स, उठाने उतरी तो कार ने रौंद डाला

उज्जैन. महाकाल की शाही सवारी के दर्शन करने आ रहे इंदौर के एक दंपती के साथ इंदौर रोड पंथपिपलाई पर हादसा हो गया। चलती बाइक पर महिला का पर्स सड़क पर गिरा, पति ने बाइक साइड में रोकी और महिला पर्स उठाने के लिए गई। इसी दौरान तेज गति से आ रही कार ने महिला को कुचल दिया। सिर में गंभीर चोट व अधिक खून बहने से महिला की अस्पताल ले जाने के दौरान ही मौत हो गई। घटना के वक्त दंपती की 7 साल की बच्ची भी थी। दुर्घटना में कार का अगला कांच भी टूटा और गाड़ी बंद हो गई। मौके पर भीड़ लगते ही कार में सवार पूरा परिवार गाड़ी मौके पर छोड़ भाग निकला।

इंदौर निवासी सुधीर शर्मा, बच्ची व पत्नी नेहा के साथ सवारी दर्शन के लिए सोमवार सुबह बाइक से आ रहे थे। पंथपिपलाई व खान बड़ोदिया के नजदीक नाग मंदिर के पास ये हादसा हुआ। कंधे पर लटके पर्स में महिला का मोबाइल, नकदी व अन्य सामान था। पर्स गिरने पर पति सुधीर ने साइड में बाइक रोकी और पत्नी पर्स लेने गई। इसी बीच पीछे से आ रही महाराष्ट्र पासिंग कार क्रमांक एमएच 02-3122 ने जोरदार टक्कर मार दी। गंभीर चोट लगने पर आसपास के लोग व इंदौर से आ रहे उज्जैन निवासी संजू मालवीय व अन्य ने एक कार चालक को रोका और घायल को उज्जैन के निजी हॉस्पिटल भिजवाया। जहां नेहा को मृत घोषित कर दिया। दुर्घटना के बाद पति व बच्चीं बदहवास हो गए। बाद में इंदौर से उनके अन्य परिजन अस्पताल पहुंचे और शव इंदौर लेकर रवाना हो गए। सुधीर कुछ साल पहले तक उज्जैन के सखीपुरा में रहते थे, बाद में इंदौर शिफ्ट हो गए।

एंबुलेंस से पहले कार चालक ने की मदद
घटना के दौरान आसपास के लोगों ने 108 एंबुलेंस को सूचित किया, लेकिन काफी देर तक मदद नहीं मिली। फिर मौजूद लोगों ने इंदौर की ओर से आ रही एक कार को रोका। इसके चालक ने घायल व परिजन को कार में बैठाया ओर अस्पताल तक छोड़ा।

बस ने कार को टक्कर मारी, रेलिंग में जा घुसी
सोमवार सुबह कार से फ्रीगंज ब्रिज तरफ आ रहे इंजीनियर की कार को पीछे से आ रही बस ने टक्कर मार दी, जिससे कार चालक का संतुलन बिगड़ा और कार ब्रिज पर लगी रेलिंग से टकरा गई। हालांकि दुर्घटना में कोई घायल नहीं हुआ। देवासगेट पुलिस ने मामले में बस चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। यश अग्रवाल पिता रमेशचंद गुप्ता निवासी सेठी नगर इंजीनियर है और वह अपनी स्विफ्ट कार क्रमांक एम 09 सीएल 8579 से करीब 3 बजे धन्नालाल की चाल तरफ से टर्न होते हुए फ्रीगंज ब्रिज चढ़ रहा था जबकि पीछे से फ्र ी इंडिया बस क्रमांक एमपी 41 पी 6677 ग्रांड होटल तरफ से आ रही थी। बस चालक ने लापरवाही से वाहन चलाते हुए टर्न ले रही कार को पीछे से टक्कर मारी, जिससे ड्राइवर यश का संतुलन बिगड़ गया और बस की दूसरी टक्कर लगने पर कार ब्रिज पर लगी रेलिंग से जा टकराई।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned