scriptKeeping pace with modern resources, farmers are getting rich due to ad | आधुनिक संसाधनों के साथ कदमताल, उन्नत खेती से किसान हो रहे मालामाल | Patrika News

आधुनिक संसाधनों के साथ कदमताल, उन्नत खेती से किसान हो रहे मालामाल

उन्नत तरीके अपनाकर लागत कम व उत्पादन ज्यादा ले सकते हैं किसान, बेहतर कृषि के तरीके बता रहे संबंधित विभाग, धार्मिक पहचान वाले उज्जैन जिले में अब कृषि क्षेत्र भी नई कदमताल कर रहा है। कुछ आधुनिक संसाधनों के साथ किसान खेती की ओर कदम बढ़ा रहे हैं तो मौसम-कृषि विज्ञान केन्द्र से मदद लेेने वाले किसानों की संख्या भी बढ़ रही है। शहर के साथ अंचल के विकासखंडों से किसान केन्द्र आते हैं तो वैज्ञानिक भी गांव तक पहुंंच रहे हैं।

उज्जैन

Published: January 29, 2022 11:10:38 am

उज्जैन. धार्मिक पहचान वाले उज्जैन जिले में अब कृषि क्षेत्र भी नई कदमताल कर रहा है। कुछ आधुनिक संसाधनों के साथ किसान खेती की ओर कदम बढ़ा रहे हैं तो मौसम-कृषि विज्ञान केन्द्र से मदद लेेने वाले किसानों की संख्या भी बढ़ रही है। शहर के साथ अंचल के विकासखंडों से किसान केन्द्र आते हैं तो वैज्ञानिक भी गांव तक पहुंंच रहे हैं।
वर्तमान समय में जो किसान कृषि विशेषज्ञों की सलाह एवं आधुनिक तकनीकों को अपनाकर कृषि कर रहे हैं उनकी लागत कम व उत्पादन बेहतर हो रहा है। कई किसान जैविक खेती भी करने लगे हैं। जैविक तरीके से उत्पादित उपज की पूछ परख सामान्य से ज्यादा रहती है। वहीं वर्तमान में कृषि के अलावा विशेषज्ञों की सलाह अनुसार पशुपालन, मधुमक्खी पालन, जैविक खाद निर्माण आदि कार्य भी करें तो किसान अतिरिक्त आमदनी अर्जित कर सकते हैं। किसानों को कृषि व उद्यानिकी फसलों की बुआई, देखरेख सहित सभी तरह की जानकारियां कृषि विज्ञान केंद्र, कृषि विभाग और उद्यानिकी विभाग द्वारा दी जाती है। वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डॉ जीआर अंबावतिया ने बताया कि किसानों को समय-समय पर उन्नत खेती की तकनीक की जानकारी दी जाती है। इससे किसानों को लाभ भी होता है। कई किसान उन्नत तकनीक से खेती कर आज अन्य किसानों के लिए मिसाल बन गए हैं। साथ ही किसान अगर कुछ अलग प्रयोग करें तो उनका मुनाफा बढ़ सकता है।
अच्छी फसल के लिए यह भी कर सकते हैं किसान
केंचुआ खाद उत्पादन इकाई: केंचुआ खाद खेतों में डालने से उत्पादन तो बेहतर होता ही है वहीं इस खाद को काफी आसानी से तैयार किया जा सकता है। किसान स्वयं के खेतों के उपयोग के अलावा जैविक खाद को विक्रय भी कर सकते हैं, जिससे अतिरिक्त आय हो सकती है।
जीवामृत: यह गाय के गोबर से तैयार होता है। जीवामृत का छिड़काव करना फसलों के लिए लाभदायक होता है।
मिट्टी परीक्षण: आज के समय मिट्टी परीक्षण करना बहुत जरूरी हो गया है। खेत में कोई भी बीज बोने से पहले अगर मिट्टी की जांच हो जाए, तो बेहतर उत्पादन लिया जा सकता है। इससे मिट्टी में पोषक तत्वों की कमी होने पर किसान फसल के लिए उपयुक्त उपाय कर सकता है।
सिंचाई तकनीक: खेतों में बुआई करने के बाद सबसे जरूरी होती है सिंचाई। मौसम मेहरबान रहा तो ठीक, नहीं तो किसानों को सिंचाई के लिए भी मशक्कत करना होती है। वर्तमान समय में सिंचाई की भी नई-नई तकनीके विकसित हो रही है। उद्यानिकी फसलों में तो स्प्रिंकिलर से सिंचाई काफी फायदेमंंद होती है।
यह भी किसानों के लिए फायदेमंद
कृषि विज्ञान केंद्र की अन्य प्रदर्शन इकाई अंतर्गत किसानों को फसल प्रसंस्करण द्वारा आय सृजन करने एवं स्वरोजगार से जोडऩे के लिए केंद्र के सेल काउंटर पर प्रसंस्कृत पदार्थ जैसे रोस्टेड अलसी, गिलोय पाउडर, मशरूम पाउडर, गाय के गोबर से निर्मित हवन कंडा इत्यादि के बारे में जानकारी दी जाती है। केंद्र के अन्य प्रदर्शन इकाई जैसे नर्सरी यूनिट, फसल संग्रहालय, सोलर प्लांट, वेदर स्टेशन, प्रकाश प्रपंच, अजोला उत्पादन इकाई, गोपालन इकाई, रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम इत्यादि के बारे में जानकारी लेकर किसान लाभान्वित हो रहे हैं।
आधुनिक संसाधनों के साथ कदमताल, उन्नत खेती से किसान हो रहे मालामाल
आधुनिक संसाधनों के साथ कदमताल, उन्नत खेती से किसान हो रहे मालामाल

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

30 साल बाद फ्रांस को फिर से मिली महिला पीएम, राष्ट्रपति मैक्रों ने श्रम मंत्री एलिजाबेथ बोर्न को नया पीएम किया नियुक्तदिल्ली में जारी आग का तांडव! मुंडका के बाद नरेला की चप्पल फैक्ट्री में लगी भीषण आग, मौके पर पहुंची 9 दमकल गाडि़यांबॉर्डर पर चीन की नई चाल, अरुणाचल सीमा पर तेजी से बुनियादी ढांचा बढ़ा रहा चीनSri Lanka में अब तक का सबसे बड़ा संकट, केवल एक दिन का बचा है पेट्रोलIAS अधिकारी ने भारत की थॉमस कप जीत पर मच्छर रोधी रैकेट की शेयर की तस्वीर, क्रिकेटर ने लगाई फटकार - 'ये तो है सरासर अपमान'ताजमहल के बंद 22 कमरों का खुल गया सीक्रेट, ASI ने फोटो जारी करते हुए बताई गंभीर बातेंकर्नाटक: हथियारों के साथ बजरंग दल कार्यकर्ताओं के ट्रेनिंग कैम्प की फोटोज वायरल, कांग्रेस ने उठाए सवालPM Modi Nepal Visit : नेपाल के बिना हमारे राम भी अधूरे हैं, नेपाल दौरे पर बोले पीएम मोदी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.