बारिश बनेगी यहां के रहवासियों के लिए मुसीबत

बारिश बनेगी यहां के रहवासियों के लिए मुसीबत

Ashish Sikarwar | Publish: Jun, 15 2019 11:00:00 AM (IST) Ujjain, Ujjain, Madhya Pradesh, India

सात माह पहले हो चुका वर्क आर्डर, लेकिन अभी तक नहीं हो सका पुरानी व जर्जर पुलिया का कार्य शुरू

नागदा. नगर पालिका की लापरवाही का खामियाजा रहवासियों को बारिश के दिनों में भुगतना पड़ेगा। कारण विभिन्न प्रकार के पुलिया निर्माण कार्य नगर पालिका द्वारा पूरा नहीं किया जाना है। विड़बना यह है कि पुलिया निर्माण के वर्क आर्डर 7 माह पूर्व हो चुके है, लेकिन कार्य अब तक शुरू नहीं हो सका है। बारिश मुसीबत लेकर आएगी। कारण पुलिया पुरानी व जर्जर हो चुकी है। परेशानी यह है कि नगर पालिका नागदा द्वारा चेतनपुरा स्थित नाले की पुलिया के निर्माण कार्य का ठेका लगभग 6 माह पूर्व ही दे दिया है। ठेकदार को वर्क आर्डर भी मिल गया, लेकिन उसके बावजूद भी कार्य प्रारंभ नहीं हुआ है। नपा अधिकारियों ने 3 अप्रैल को पुलिया का निरीक्षण भी करेगा तथा और कहा था कि दो दिन में कार्य प्रारंभ हो जाएगा, लेकिन इस बात को भी 2 माह से अधिक समय हो गया।
अन्य कार्य में भी लापरवाही : शहर में गत 8 माह से चल रहे विभिन्न निर्माण कार्य में लापरवाही चल रही है। जो कार्य 7 माह में पूर्ण होने थे व 15 माह में भी पूर्ण नहीं हुए है। नपा ने 22 फरवरी 2018 को शहर के विभिन्न मुख्य मार्ग पर लगभग 3 करोड़ की लागत से सीमेंट कांक्रीट रोड का भूमि पूजन किया था। इनमें पहला मार्ग नपा कार्यालय बस स्टैंड से लेकर रामसहाय मार्ग, तिलक मार्ग, थाना चौराहा से चंबल मार्ग स्थित पुरानी नपा कार्यालय चौराहा तक बनेगा। इसी प्रकार दूसरा मार्ग चर्च गेट से लेकर चंद्रशेखर आजाद मार्ग, पाडल्या रोडचौराहा, सुभाष मार्ग, एमजी रोड, दशहरा मैदान रोड होते हुए चेतनपुरा पुलिया तक बनेगा। दोनों मार्ग की लंबाई लगभग 2 किमी है। इस कार्य का ठेका उज्जैन की रौनक कंस्ट्रेक्शन कंपनी को दिया गया है। कंपनी द्वारा सडक़ का कार्य तो पूरा कर दिया है, लेकिन बीच-बीच में से कई स्थानों पर उसे अधूरा छोड़ दिया गया है।
शहर में कहां-कहां बनना है पुलिया
नपा ने शहर के एक कौने में से गुजर रहे नाले पर स्थित तीन पुलिया की ऊंचाई बढ़ाने का प्रस्ताव पारित किया था। इनमें दशहरा मैदान, कृषि उपज मंडी के पीछे व जूना नागदा रोड पर ईदगाह के पीछे वाली पुलिया शामिल है। बारिश के दिनों में यह तीनों पुलिया जलमग्न हो जाती है, जिससे नाले के उस पार की बस्ती चेतनपुरा, आदिवासी बस्ती व बायपास पर जाने के लिए राहगीरों को परेशान होना पड़ता है। इन में जूना नागदा रोड की पुलिया तो 15 मिनट की बारिश में ही जलमग्न हो जाती है। चूंकि यह पुलिया नाले से महज 2 फीट की ऊंचाई पर है। बारिश के दिनों में पुलिया के जलमग्न होने से चेतनपुरा, आदिवासी बस्ती, जूना नागदा के रहवासियों को 5 किमी का अतिरिक्त चक्कर लगाना पड़ता है, साथ ही वर्तमान में पुलिया की चौढ़ाई भी कम है। एक समय में एक ही वाहन पुलिया से निकल सकता है।
तीनों पुलिया का निर्माण कार्य शीघ्र ही प्रारंभ होगा। 6 माह पूर्व ठेका दिया है वर्कआर्डर भी दे दिया है। तीनों पुलिया का निर्माण 36 लाख 50 हजार से अधिक की लागत से होगा।
शाहिद मिर्जा, उपयंत्री, नगर पालिका

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned