आत्मनिर्भर: समूह की महिलाओं ने सम्हाली खरीदी केन्द्र की जिम्मेदारी

भरेवा खरीदी केन्द्र में शुरु किया गेहूं खरीदी का काम

By: ayazuddin siddiqui

Published: 18 Apr 2021, 06:42 PM IST

उमरिया. ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाएं स्व सहायता समूह के माध्यम से स्थानीय स्तर पर उपलब्ध संसाधनों का उपयोग कर सामाजिक उत्तरदायित्वों के निर्वहन में अग्रणी भूमिका निर्वहन कर रही है। जिले के मानपुर जनपद पंचायत में ग्रामीण आजीविका मिशन के माध्यम से गठित जमुना स्व सहायता समूह की महिलाओं ने ग्राम भरेवा में गेहंू उपार्जन का कार्य प्रारंभ किया है। जमुना स्व सहायता समूह की 12 महिलाएं गेहूं उपार्जन से संबंधित सभी दायित्वों का स्वयं निर्वहन कर रही है। चाहे वह बारदानो की प्रिटिंग का कार्य हो , चाहे लेखा जोखा कार्य हो, साप्टवेयर फीडिंग का कार्य हो और चाहे उपार्जन के भुगतान किसान के खातो में की फीडिंग आदि से संबंधित कार्य हो।
जिला प्रशासन द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आव्हान पर महिलाओ को अधिक से अधिक रोजगार के अवसर उपलब्ध कराकर आर्थिक रूप से आत्म निर्भर बनाने के लिए वर्तमान सत्र में गेहूं खरीदी कार्य की जिम्मेदारी महिला स्व सहायता समूहों को सौपने का निर्णय लिया है। इसी कड़ी में मानपुर जनपद के गेहूं खरीदी केंद्र भरेवा में जमुना स्व सहायता समूह की महिलाओं को इसकी जिम्मेदारी सौंपी गई है। खरीदी केंद्र भरेवा में 16 अप्रैल से किसानों द्वारा खरीदी के लिए गेहूं लाना प्रारंभ कर दिया गया है। स्व सहायता समूह की महिलाएं एसएमएस के माध्यम से केंद्र में पंजीकृत किसानों को मैसेज करके उपार्जन के लिए सूचना देती है । किसान सूचना प्राप्त कर अपनी बारी का ध्यान रखते हुए खरीदी केंन्द्रों तक पहुंचते है। जिसके बाद खरीदी केन्द्र में शासन के निर्देशानुसार सभी आवश्यक व्यवस्थाएं समूह की महिलाओं द्वारा की गई है। जैसे किसानो की बैठक व्यवस्था, सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने हेतु गोले बनाना, पेयजल की व्यवस्था आदि शामिल है।

Show More
ayazuddin siddiqui
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned