दोस्तों ने कहा हमारी कार से चलो, घर छोड़ देंगे, फिर सबने एक-एक कर...

दोस्तों ने कहा हमारी कार से चलो, घर छोड़ देंगे, फिर सबने एक-एक कर...

Abhishek Gupta | Publish: Nov, 15 2017 05:39:02 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

कानपुर-लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग पर हुई गैंगरेप की वरादत ने पुलिस महकमे में हड़कंप मचा दिया।

उन्नाव. कानपुर-लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग पर हुई गैंगरेप की वरादत ने पुलिस महकमे में हड़कंप मचा दिया। गैंगरेप के बाद महिला को सड़क किनारे फेंक दिया गया। बताया जा रहा है कि महिला घर से लड़कर निकली थी। उसे रास्ते में कुछ जान पहचान के लोग मिल गए जिनके साथ वह कार में सवार हो गई। कार में महिला का गैंगरेप किया गया और उसके बाद उसे सड़क किनारे चलती कार से ही फेंक दिया गया। घटना की जानकारी होने पर प्रशासनिक स्तर पर हड़कंप मच गया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि दुष्कर्मियों ने घर पहुंचाने के बहाने महिला को कार में बैठाकर कानपुर से उन्नाव तक उसका गैंगरेप किया।

घटना के बाद महिला को लखनऊ-कानपुर बायपास मार्ग पर गदन खेड़ा चौराहा के निकट पुराने खंडहर में बने विद्यालय के पास फेंक कर आरोपी फरार हो गए। राह चलते लोगों ने महिला को रोते बिलखते देखा, जिसके बाद उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया जहां महिला ने अपनी आपबीती सुनाई। महिला की दर्दनाक कहनी जंगल में आग की तरह फैल गई। पुलिस अधीक्षक, अपर पुलिस अधीक्षक सहित अन्य अधिकारियों ने घटनास्थल का निरीक्षण किया और जिला अस्पताल पहुंचकर पीड़ित महिला से बातचीत की। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आरोपी की गिरफ्तारी के लिए तीन टीम भेजी गई हैं।

गैंगरेप की घटना से मचा हड़कंप

जिला अस्पताल में पीड़िता ने बताया कि वह हमीरपुर की रहने वाली है और अपने रिश्तेदारी में अहमदाबाद गई थी। अहमदाबाद में रिश्तेदारों से लड़ाई होने पर वह ट्रेन में बैठकर अपने घर हमीरपुर के लिए निकली थी। पीड़िता ने बताया कि वह रात भर कानपुर में रही। हमीरपुर की गाड़ी पता करने पर मालूम हुआ कि कोई ट्रेन नहीं है। इसके बाद वह कानपुर बस अड्डा झकरकटी आ गई। जहां उसे जान पहचान के दो युवक मिले। उनसे बातचीत हुई और उन्होंने कहा कि वह भी हमीरपुर जा रहे हैं तो वो भी साथ चले।

पुलिस अधीक्षक ने आगे बताया कि पीड़िता ने इनकार किया, परंतु दुष्कर्मियों ने कहा कि कोई दिक्कत नहीं है, चलो साथ चलते हैं। पीड़िता को आरोपी गाड़ी में बैठाकर हमीरपुर जाने की जगह उन्नाव की तरफ चले आए। जहां रास्ते में उन्होंने बारी-बारी से रेप किया। घटना के बाद दुष्कर्मी उसे सदर कोतवाली क्षेत्र के गदन खेड़ा चौराहा और आरटीओ ऑफिस के बीच फेंक कर चले गए। महिला के चेहरे पर नाखून के बड़े-बड़े निशान थे। जिससे इस बात का पता चलता है कि गैंग रेप के दौरान महिला ने विरोध किया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पीड़िता को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आरोपियों को पकड़ने के लिए तीन टीमें लगाई गई है। शीघ्र ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा।

Ad Block is Banned