ऐसा दोस्त जिसने उसकी जान बचाने के लिए अपनी भी जान दे दी

Narendra Nath Awasthi | Publish: Sep, 02 2018 07:09:37 PM (IST) Unnao, Uttar Pradesh, India

मस्ती करने गए दो युवकों की गहरे गड्ढे में डूबकर मौत

उन्नाव. फैक्ट्री में नौकरी करने के बाद अपने दोस्तों के साथ मौज मस्ती करने निकले युवक की दोस्त को बचाने के चक्कर में गहरे पानी में डूबकर मौत हो गई। साथ ही दोस्त की भी मौत हो गई। घटना की जानकारी जैसे ही परिजनों को हुई, कोहराम मच गया। पुलिस ने गोताखोरों के सहयोग से शव को बाहर निकलवाया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक 6 भाइयों में तीसरे नंबर पर था। जिसकी पत्नी पूरी तरह विकलांग है। जबकि दूसरा मृतक दो भाइयों में छोटा था। जिसकी अभी शादी नहीं हुई थी। दोनों कानपुर के जाजमऊ नई चुंगी के रहने वाले थे। पोस्टमार्टम हाउस में मृतक के भाई ने बताया कि दोस्त को बचाने के चक्कर में रस्सी टूट गई और उसका भाई भी गहरे पानी में चला गया। मृतक जाजमऊ स्थित टेनरी में काम करता था।


मृतक कानपुर के जाजमऊ रहने वाले

कानपुर के जहाज मोड नई चुंगी निवासी इमामुद्दीन 30 पुत्र फजल अहमद अपने दोस्त छोटू 22 के साथ नदी पार करते हुए उन्नाव की तरफ निकल आया जहां गंगा घाट थाना अंतर्गत जाजमऊ चौकी के निकट गिट्टी प्लांट के पास गेंद खेलने लगे इसी बीच गेंद गहरे पानी में चली गई जिसको निकालने के लिए छोटू गया था लेकिन वह गहरे पानी में डूबने लगा जिस को बचाने के लिए इमामुद्दीन ने रस्सी के सहारे खींचने का प्रयास किया लेकिन इसी बीच रस्सी टूट गई और वह भी गहरे पानी में चला गया 7 गए दोस्तों ने चिल्लाना शुरु किया लेकिन जब तक गोताखोर पहुंचते तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। मृतक का भाई बदरुद्दीन ने बताया कि लखनऊ कानपुर बाईपास पर स्थित गिट्टी प्लांट के पास की घटना है जहां गड्ढे में गंगा नदी व बरसात का पानी भरा हुआ था जिसमें यह हादसा हो गया उन्होंने बताया कि इमामुद्दीन और छोटू कानपुर के जाजमऊ स्थित टेनरी में बेल्ट बनाने का काम करते थे। इमामुद्दीन की शादी को 7 वर्ष हो गए थे उसकी पत्नी ना बोल पाती है ना सुन पाती है जो विकलांग है वही छोटू की अभी शादी नहीं हुई है छोटू दो भाइयों में छोटा था पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया पोस्टमार्टम हाउस में बड़ी संख्या में इमामुद्दीन और छोटू के परिजन पहुंचे थे।

Ad Block is Banned