फिर क्या हुआ जब घर पहुंची नवविवाहिता निकली किन्नर

लड़के वालों ने परिजनों को बुलाया उसके बाद जेवर व नकदी लेकर फरार हो गई दुल्हन।

 

By:

Published: 11 May 2018, 06:26 PM IST

उन्नाव. नवविवाहिता की मुंह दिखाई की रस्म चल रही थी कि घर वालों को पता चला कि लड़की किन्नर है। यह जानकर घर वालों के होश उड़ गए। उन्होंने तत्काल लड़की के मां-बाप को मामले की जानकारी दी। सूचना पाकर लड़की के मां-बाप मौके पर पहुंचे। लड़के पक्ष का कहना है कि लड़की वाले मानसिक बीमारी की बात तो स्वीकार करते हैं, लेकिन किन्नर की बात मानने को तैयार नहीं हैं। इस पर लड़के पक्ष के लोगों ने स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाकर डॉक्टर को दिखाया। जहां डॉक्टर ने उसे किन्नर घोषित किया। डॉक्टर के कहने के साथ ही लड़के के ससुराल वाले लड़की को लेकर धीरे से नौ दो ग्यारह हो गए। अपने साथ शादी और मुंह दिखाई में मिले जेवर भी ले गई। दूल्हा ने सफीपुर कोतवाली में तहरीर देकर अपनी आपबीती बताई है और न्याय की गुहार लगाई है। सफीपुर कोतवाली पुलिस ने बताया कि तहरीर मिली है जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

सफीपुर कोतवाली और फतेहपुर 84 थाना क्षेत्र का मामला

मामला सफीपुर कोतवाली क्षेत्र के गांव देवगन मऊ का है। उक्त गांव निवासी शिव शंकर पुत्र सुदर्शन ने बताया कि उसकी शादी गजफ्फरपुर पैसरा थाना फतेहपुर 84 में विगत बुधवार 9 मई को हुई थी। शादी हिंदू रीति रिवाजों के अनुसार हंसी-खुशी माहौल में संपन्न हुई। बारात विदा होकर घर आई। नवविवाहिता का स्वागत घर वालों ने बड़े उत्साह के साथ किया। शाम को मुंह दिखाई की रस्म शुरू हुई। परिजनों ने नवविवाहिता की मुंह दिखाई रस्म कराई जिसमें दुल्हन को मुंह दिखाई के रूप में रुपए व जेवरात मिले। मुंह दिखाई की रस्म के दौरान परिजनों को जानकारी हुई कि लड़की मानसिक रूप से बीमार है। इस पर चर्चा का बाजार शुरू हुआ। बात आगे बढ़ी तो जानकारी मिली कि नवविवाहिता दुल्हन जो घर में आई वह किन्नर है। यह जानकारी मिलते ही घर में हड़कंप मच गया।

दोनों पक्षों में तनातनी के बीच समझौते की बात हुई

शिव शंकर ने अपने ससुराल में फोन करके उन्हें बुलाया। इस पर मौके पर नवविवाहिता के मां-बाप के अलावा अन्य लोग भी पहुंचे। शिव शंकर के अनुसार लड़की के मां बाप मानसिक रूप से बीमार होने की बात तो स्वीकार कर रहे थे, लेकिन किन्नर होने की बात से इनकार कर रहे थे। इस पर शिव शंकर नवविवाहिता को लेकर स्थानीय सामुदायिक केंद्र पहुंचा। जहां डॉक्टर को दिखाया। डॉक्टर ने निरीक्षण के बाद उसके किन्नर होने की पुष्टि की। तनातनी के बीच दोनों पक्षों में समझौते की बात आई। जिस पर शादी में खर्च के साथ जेवर भी वापस करने की बात पर फैसला हुआ। इसी बीच मौका देखकर नवविवाहिता अपने जेवर और नगदी लेकर नौ दो ग्यारह हो गई। शिव शंकर ने थाने में तहरीर देकर पुलिस को मामले की जानकारी दी और न्याय की गुहार लगाई है। कोतवाली प्रभारी सफीपुर ने बताया है कि मामला संज्ञान में है जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

 

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned