बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के कुलपति ने पहली कर्नल की वर्दी

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के कुलपति ने पहली कर्नल की वर्दी
bhu vc title of colonel

बीएचयू के तीसरे कुलपति बने प्रो. त्रिपाठी जिन्हें मिला एनसीसी की ओर से सम्मान

वाराणसी. महामना की बगिया बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में एक और अध्याय जुड़ गए जब कुलपति प्रो. जीसी त्रिपाठी ने कर्नल की वर्दी पहनी। कुलपति व उनके परिवार के साथ ही पूरे बीएचयू के लिए मंगलवार का दिन गौरवपूर्ण रहा। प्रो. त्रिपाठी को एनसीसी में कर्नल व कर्नल कमांडेंट की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया। 
 केएन उडप्पा सभागार में आयोजित समारोह में एनसीसी संगठन द्वारा एनसीसी में 'कर्नलÓ की मानद उपाधि और हिन्दू विश्वविद्यालय स्थित एनसीसी की इकाईयों (यूनिट्स) में 'कर्नल कमाण्डेन्टÓ की उपाधि से सम्मानित किया गया। कुलपति प्रो. त्रिपाठी को यह उपाधि मेजर जनरल सुरेंद्र सिंह मामक, एडीशनल डायरेक्टर जनरल एनसीसी निदेशालय उ0प्र0, लखनऊ एवं ब्रिगेडियर एके गोयल, ग्रुप कमाण्डर, एनसीसी ग्रुप मुख्यालय (अ), वाराणसी द्वारा प्रदान की गयी। 
 कुलपति को जब मानद उपाधि के सम्मान से नवाजा जा रहा था, इस अवसर पर उनके माता-पिता और बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय के सेवारत शिक्षाविद् व सेवानिवृत्त शिक्षाविद् तथा अन्य कर्मचारी एवं एनसीसी के वरिष्ठ अधिकारीगण तथा कैडेट्स उपस्थित थे। इस अवसर पर मेजर जनरल सुरेन्द्र सिंह मामक एवं ब्रिगेडियर एके गोयल ने कहा कि वैसे तो एनसीसी से काशी हिन्दू विश्वविद्यालय का रिश्ता पुराने समय से ही चला आ रहा है उक्त परिसर में एनसीसी के क्रियाकलाप तथा प्रशिक्षण शिविर संचालित होते रहे हैं जिसमे कुलपति महोदय का सहयोग (प्रशिक्षण शिविर हेतु भवन, बिजली और पानी इत्यादि) मिलता रहा है। कर्नल की उपाधि मिलने के बाद कुलपति एनसीसी को नये शिखर तक पहुँचायेंगे। 
  कुलपति प्रो: जीसी त्रिपाठी नेरक्षा मन्त्रालय एवं नेशनल कैडेट कोर को धन्यवाद दिया और साथ ही यह आश्वासन भी दिया कि एनसीसी के सामाजिक गतिविधियों व प्रशिक्षण में जो भी सहयोग एवं साधन की आवश्यकता होगी उसे वे उपलब्ध करायेंगे तथा राष्ट्र निर्माण में अपना पूर्ण सहयोग व मार्गदर्शन प्रदान करते रहेंगे। उपाधिक मिलने से गदगद कुलपति प्रो0 त्रिपाठी ने सभागार में उपस्थित अपने पिताजी श्री लालजी त्रिपाठी तथा माताजी श्रीमती सोमवती त्रिपाठी के चरण छूकर आशीर्वाद लिया। इस मौके पर उनकी पत्नी उषा रानी त्रिपाठी, पुत्र श्री अवनीश त्रिपाठी तथा अनुज श्री योगेश चन्द्र त्रिपाठी सहित अन्य परिजन उपस्थित थे। इस अवसर पर कुलसचिव डॉ. केपी उपाध्याय तथा छात्र अधिष्ठाता प्रो0 एमके सिंह भी मंचासीन थे। कार्यक्रम में बीएचयू के वित्ताधिकारी अभय कुमार ठाकुर, कृषि विज्ञान संस्थान के निदेशक प्रो0 रवि प्रताप सिंह, वाणिज्य संकाय प्रमुख प्रो0 आशाराम त्रिपाठी, चिकित्सा अधीक्षक डॉ0 ओपी उपाध्याय सहित शिक्षक, अधिकारी, छात्र-छात्राएॅ व एनसीसी कैडेटस मौजूद थे।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned