पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ भारत बंद, प्रशासन अलर्ट

पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ भारत बंद, प्रशासन अलर्ट

Sarveshwari Mishra | Publish: Sep, 10 2018 11:06:44 AM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

कांग्रेस के भारत बंद को 21 राजनीतिक दलों ने अपना समर्थन दिया है।

वाराणसी. पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस ने आज भारत बंद का आह्वान किया है। कांग्रेस के भारत बंद को 21 राजनीतिक दलों ने अपना समर्थन दिया है। हर जगह बंद को देखते हुए हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। वहीं बनारस में बंद का असर अभी अधिक नहीं दिख रहा है।

बता दें कि लगातार बढ़ रही पेट्रोल और डीजल की कीमतों के खिलाफ कांग्रेस के साथ समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, राष्ट्रीय लोकदल, डीएमके, तृणमूल कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, राष्ट्रीय जनता दल, एमडीएमके, जेडीएस, झारखंड मुक्ति मोर्चा, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी समेत कई दल इस बंद में शामिल हैं।


प्रशासन अलर्ट
पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोत्तरी और रुपये की गिरती कीमत को लेकर कांगेस ने 10 सितंबर को भारत बंद का बुलाया है। यह जानकारी कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने दी है। यह भारत बंद सुबह 9 बजे से दिन में 3 बजे तक जारी रहेगा, जिससे आम लोगों को परेशानी न हो। अंतरराष्ट्रीय कीमतें कम होने के बावजूद देश में तेल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। मोदी सरकार ने पिछले साढ़े चार साल में पेट्रोल-डीजल पर टैक्स लगाकर करीब 11 लाख करोड़ रुपये कमाया, वो किसकी जेब में गया, सरकार आज तक इसका जवाब नहीं दे पाई।


वहीं एक आरटीआई का हवाला देते हुए 29 ऐसे देश हैं जहां सरकार 34 रुपया और 37 रुपया प्रति लीटर के हिसाब से तेल बेच रही है। उन्होंने कहा पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार केंद्र सरकार से पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने की बात कह रहे हैं इससे आमजनों को 10 से 15 रुपये की राहत मिलेगी, लेकिन सरकार की कोई फैसला नहीं ले रही है।

इससे पहले एससी/एसटी एक्ट को लेकर हुआ था भारत बंद

एससी-एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को बदलकर नया कानून बनाने के विरोध में सवर्ण संगठनों ने गुरुवार को भारत बंद किया था।

Ad Block is Banned