scriptbhu iit event new machine for sanitization | घड़ी, बेल्ट और पर्स सहित अन्य जरूरी सामान होंगे सेनेटाइज, 10 मिनट में दम तोड़ देगा कोरोना वायरस, बीएचयू आईआईटी ने बनाई खास मशीन | Patrika News

घड़ी, बेल्ट और पर्स सहित अन्य जरूरी सामान होंगे सेनेटाइज, 10 मिनट में दम तोड़ देगा कोरोना वायरस, बीएचयू आईआईटी ने बनाई खास मशीन

locationवाराणसीPublished: Apr 08, 2020 01:35:57 pm

Submitted by:

Hariom Dwivedi

बीएचयू आईआईटी के प्रोफेसर डॉ. पी के मिश्रा का दावा- कर्मचारियों को कोरोना संक्रमण के खतरे से बचाने में मददगार साबित होगी यह मशीन

घड़ी, बेल्ट और पर्स सहित अन्य जरूरी सामान होंगे सेनेटाइज, 10 मिनट में दम तोड़ देगा कोरोना वायरस, बीएचयू आईआईटी ने बनाई खास मशीन
बीएचयू आईआईटी के साथ मिलकर काम करने वाले गौरव ने माइक्रोवेव की तरह एक मशीन बनाई है, जिसमें अल्ट्रा वॉयलेट रेस से वायरस का खात्मा का दावा किया गया है
वाराणसी. देश में कोरोना वायरस से के बढ़ते खतरे कप देखते हुए बीएचयू आईआईटी ने एक ऐसी मशीन का अविष्कार किया है जिससे छोटी-छोटी चीजें भी सेनेटाइज हो जाएंगी। यह मशीन उन लोगों की सुरक्षा को देखते हुए बनाई गई है जो इमरजेंसी सेवा में लगे हुए हैं। ताकि वायरस से किसी तरह का खतरा न हो सके। इस मशीन को जल्द बाजार में भी उतारने की तैयारी है।
आईआईटी बीएचयू ने शोध में पाया की कर्मचारियों, डॉक्टर और अधिकारी समेत तमाम ऐसे लोग हैं जो खुद तो सेनेटाइजर से बचाव कर पाते हैं, लेकिन इनकी उपयोगी चीजें जैसे बेल्ट, घड़ी, पर्स, चाभी, अंगूठी इत्यादि इत्यादि सामग्री सेनेटाइज नहीं हो पाती जिससे इन्हें इस संक्रमण का खतरा बना रहता है। इसके लिए बीएचयू आईआईटी के साथ मिलकर काम करने वाले गौरव ने माइक्रोवेव की तरह एक मशीन बनाई है, जिसमें अल्ट्रा वॉयलेट रेस से वायरस का खात्मा का दावा किया गया है। इसे बनाने में दो से तीन दिन लगा है।
मशीन से जुड़ी खास बातें
मशीन को बनाने वाले गौरव बताते हैं की यह अल्ट्रावायलेट किरणों से कोरोना के वायरस को मार देगी। यह मशीन सी कैटोगरी की अल्ट्रावायलेट किरणें छोड़ती हैं। कोई भी वायरस इसमें 10 से 15 मिनट तक जिंदा नहीं रह सकता। इस मशीन में एक पंखा भी लगा है जो वायरस को रोटेट करके किरणों के नजदीक लाने का काम करता है। बीएचयू आईआईटी के प्रोफेसर डॉ. पी के मिश्रा ने बताया कि इस मशीन को बड़े पैमाने पर मार्केट में लाने के लिए पहल की जा रही है। यह कम लागत में इजाद की हुई एक बढ़िया मशीन है, जिसे डॉक्टर, पुलिस विभाग, सफाई विभाग अपने कर्मचारियों को इस संक्रमण के खतरे से बचाने में मददगार साबित होंगे। निश्चित ही यह मशीन कारगर है।

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.