CM का चौथा वाराणसी दौरा, फिर जल निगम को मिला अल्टीमेटम

Ajay Chaturvedi

Publish: Sep, 17 2017 06:18:44 (IST)

Varanasi, Uttar Pradesh, India
CM का चौथा वाराणसी दौरा, फिर जल निगम को मिला अल्टीमेटम

सड़कों को दुरुस्त करने की सीमा तय, 21 सितंबर तक सारी सड़कें होंगी दुरुस्त। सीएम ने दिया निर्देश

 

वाराणसी. मुख्यमंत्रयोगी आदित्यनाथ चौथी बार पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र के विकास कार्यों की समीक्षा को रविवार को बनारस आए। इस बार भी उनके निशाने पर जल निगम के अधिकारी रहे। उन्होंने नाराजगी जताते हुए साफ किया कि युद्धस्तर पर अभियान चला कर पेयजल परियोजनाओं को पूरा करें। इस मुद्दे पर उन्होंने जल निगम के अधिकारियों को अल्टीमेटम भी दिया। बता दें कि मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ जब पहली बार बनारस आए थे तब भी उनके निशाने पर जल निगम के अधिकारी थे। उस वक्त भी उन्होंने नाराजगी जताई थी। अल्टीमेटम दिया था, लेकिन पेयजल की न तो ओवर हेड टंकियां चालू हुईं न फीडर मेन की पाइप लाइन दुरुस्त हुई। लिहाजा सीएम को एक बार फिर से वही प्रक्रिया दोहरानी पड़ी। उन्होंने सख्त हिदायत दी कि अब कार्रवाई अवश्य होगी। उन्होने दूषित एवं मल-जल पेयजलापूर्ति हर हालत में रोके जाने पर जोर दिया।

 

सीेएम व कमिश्नर

पीएम के जन्मदिन पर काशी पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वच्छता का अलख पूरी दुनिया में जगाने की इच्छा व्यक्त की। कहा कि काशी प्रधानमंत्री का संसदीय क्षेत्र है और प्रधानमंत्री की प्राथमिकता के कार्यक्रम में स्वच्छता प्रमुख है। स्वच्छता एक आन्दोलन बने और इसकी शुरूआत प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से हो, तो इसका संदेश पूरी दुनिया में जाएगा। उन्होंने कहा कि स्वच्छता कार्यक्रम का पूरी दुनिया में काशी नेतृत्व करे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब देश की बागडोर संभाली तब राजनैतिक परिदृश्य अस्थिरता का था और देश एवं प्रदेश में जो भी विकास योजनाएं बनती रहीं वह धर्म विशेष एवं वोट बैक के दृष्टिगत् बनाई जाती रहीं। गरीबों को ध्यान में नही रखा जाता रहा लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने शपथ ग्रहण के साथ ही कहा था कि उनकी सरकार देश के गांव, गरीब, मजदूर, सफाईकर्मी सहित समाज के अन्तिम पक्ति में बैठे विकास से वंचित मजलूमों की है। देश के प्रधानमंत्री की यह सबसे बड़ी घोषणा रही।

 

 

 

सीएम योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्म दिवस पर वाराणसी के चौकाघाट सिथत सांस्कृतिक संकुल सभागार में आयोजित सफाई मित्रों के सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में स्वच्छता मित्रों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होने कहा कि स्वच्छता को सेवा से जुड़ने का जो कार्य शुरू किया गया है, वह अद्भुत है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को जिनकी चिंता है। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री के जन धन योजना से 30 करोड़ गरीबों का बैंक खाता खोला गया जिसके माध्यम से वे गरीब लोग जो बैको में जाने को भी नही सोचते रहे आज बैकों से लेन देन करते हैं। इतना ही नहीं ‘‘आम के आम और गुठलियों के भी दाम’’ मुहावरे का उदाहरण देते हुए उन्होने कहा कि गरीब जो बैकों में पैसे के अभाव में अपना खाता नही खोल पाते रहे, प्रधानमंत्री ने निःशुल्क बैक खाता खुलवाया और गरीबों के बैक खाते पर अपरिहार्य स्थिति में मृत्यु होने पर दो लाख तक का बीमा तथा धनराशि न होने पर भी बैक खाता के आधार पर पांच हजार रूपये तक की धनराशि अपने बैक खाता से निकालने की व्यवस्था दी गई। उन्होने बताया कि कोई भी गरीब व्यक्ति भूखा न रहने पाये यह सुनिश्चित कराने के लिए हर गरीब व्यक्ति का राशन कार्ड बनवाया जा रहा है तथा राशन कार्ड को आधार कार्ड से जोड़ कर यह सुनिश्चित कराया जा रहा है कि कोई भी गरीब परिवार राशन कार्ड से वंचित न रहने पाए। कोशिश है कि हर गरीब एवं पात्र व्यक्ति को सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान ने अनाज प्राप्त हो। हर गरीब व्यक्ति के पास शौचालय हो, यह अभियान चलाया जा रहा है, ताकि दिसंबर 2017 तक प्रधानमंत्री का संसदीय क्षेत्र पूरी तरह खूले में शौचमुक्त हो जाय। उन्होंने बताया कि कोई भी गरीब व्यक्ति अपने मकान की छत के नीचे रहे इसके लिये प्रशानमंत्री गरीब आवास योजना चलाई जा रही है। बताया कि 24 लाख लोगो के पास अपना छत नहीं है। वाराणसी में ऐसे गरीब लोगो का सर्वे हो चुका है और प्रधानमंत्री अपने आगामी वाराणसी दौरे के दौरान 15 हजार गरीब पात्र परिवारों को आवासों का प्रमाण पत्र मुहैया कराएंगें। उन्होने प्रधानमंत्री गरीब आवास योजना के चयनित लाभार्थियों का पुनः सत्यापन कराये जाने हेतु जिलाधिकारी को निर्देशित करते हुए कहॉ कि कोई पात्र गरीब व्यक्ति आवास से वंचित न रहने पाये। इस अवसर पर उन्होने 50 मोटर साइकिल दस्ते के पुलिस जवानों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। साथ ही कानून व्यवस्था को सुदृढ़ करने पर जोर दिया। उन्होने कहा कि अपराधियों पर कानून का शिकंजा कसने में यह मोटर साइकिल दस्ता प्रभावी होगा। कहा कि अपराधियों में कानून का डर अब दिखने लगा है। लेकिन अभी उनमें और डर होना चाहिेए ताकि आम जनमानस राहत की सांस ले सके।

 

सीएम योग

मंडलीय ऑडीटोरियम में विकास कार्यो की समीक्षा के दौरान श्री काशी विश्वनाथ ट्रस्ट द्वारा 13 करोड़ की लागत से बनाये जा रहे अन्न क्षेत्र के निर्माण कार्य को तय समयसीमा में चालू कराने का निर्देश दिया। कहा कि इस अन्न क्षेत्र में जहां गरीबों को निःशुल्क भोजन मुहैया कराया जाएगा, वहीं आम जनमानस भी काफी कम मूल्य पर भोजन कर सकेगा। उन्होने अन्न क्षेत्र में भी स्वच्छ एवं आधुनिक रसोई की व्यवस्था कराने की हिदायत दी। लोक निर्माण विभाग, नगर निगम एवं वीडीए सहित एनएच के अधिकारियों को अपने-अपने सड़कों को अभियान चलाकर गड्ढामुक्त किये जाने का निर्देश दिया। उन्होने 21 सितम्बर तक शहर की प्रमुख सड़कों को पूरी तरह दुरूस्त कराने का निर्देश दिया। साथ ही शत-प्रतिशत एलईडी स्ट्रीट लाइट लगाने की हिदायत भी दी। मुख्यमंत्री ने उर्जा संचयन पर जोर देते हुए कहा कि यह सुनिश्चित कराया जाय कि दिन के उजाले में कोई स्ट्रीट लाइट न जलने पाए। कहा कि सरकारी कार्यालयों में दिन में लाइटें नहीं जलनी चाहिए। एयरपोर्ट से सर्किट हाउस आते वक्त मुख्यमंत्री की नजर की सड़क के दोनों किनारो पर पड़े कूड़े की ढ़ेर पर पड़ी तो उन्होने इसका जिक्र बैठक में करते हुए सड़क के किनारे पड़े पालीथिन एवं कूड़ों का तत्काल निस्तारण करने की हिदायत दी। उन्होने वाराणसी क्षेत्र में चल रहा या पूर्ण हो चुकी 17 परियोजनाओं की चर्चा करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा इन परियोजनाओं को जनसामान्य के लिये लोकापर्ण एवं शिलान्यास अपने 22/23 सितम्बर को वाराणसी दौरे के दौरान किया जाएगा।

 

सीएम योगी आदित्य नाथ

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned