पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन
कांग्रेस का प्रदर्शन

Ajay Chaturvedi | Updated: 16 Sep 2017, 11:16:06 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

पेट्रो पदार्थों के दाम नियंत्रित करने के लिए राष्ट्रपति को भेजा पत्रक।

 

वाराणसी. पेट्रोल व डीजल की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि के विरोध में कांग्रेस उतरी सड़क पर और मैदागिन स्थित राजीव गांधी प्रतिमा के समक्ष जबरदस्त प्रदर्शन किया। साथ ही राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन भेजा। इससे पूर्व कांग्रेसजनों ने कांग्रेस भवन में बैठक भी की। इसमें वक्ताओं ने केंद्र सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि बहुत हुई पेट्रोल डीजल की मार का नारा देने वाले न जाने कहां चले गए। इस भाजपा ने अच्छे दिन का वादा कर झूठे सपने दिखाकर चुनाव जीता लेकिन अच्छे दिन तो दूर की बात देश को बुरे दिन की ओर ढकेल दिया। पेट्रोलियम पदार्थों के मूल्य में ऐसी वृद्धि सपने मे भी किसी ने नही सोची होगी, वो भी ऐसे समय मे जब अंतर्राष्ट्रीय बाजार मे तेल का मूल्य अपने निम्नतम स्तर पर है। ये मंहगाई से टूट चुकी जनता का सीधे गला दबा देना चाहते हैं मगर कांग्रेस ऐसा होने नहीं देगी। बढ़े मूल्य केंद्र सरकार को वापस लेना ही होगा इसके लिए कांग्रेस को जो कुर्बानी देनी पडे देगी।

कांग्रेस सेवादल के प्रदेश अध्यक्ष प्रमोद पाण्डेय ने कहा कि पेट्रोल डीजल के दामों मे निरंतर और बेतहाशा वृद्धि गरीब और मध्यम वर्गीय परिवार के साथ किसानों की कमर तोड़ देगी। हमें मिलकर इस सरकार का पुरजोर विरोध करना है और हम इस बढे दामो को समाप्त करा कर ही दम लेंगे। वहीं वरिष्ठ कांग्रेसी प्रो. अनिल उपाध्याय ने कहा कि भाजपा नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पूंजीपतियो के इशारे पर गरीब मेहनतकश मजलूमों का गला घोंटने का कोई भी मौका नहीं चूकना चाहती। लगातार पेट्रोलियम उत्पादों का दाम बढा कर समाज के हर वर्ग को प्रताड़ित करने का काम कर रही है। जनता पर इस मूल्य वृद्धि से भारी आर्थिक दबाव बढता जा रहा है। अब तो दो पहिया वाहन तक निकालने से लोग कतराने लगे हैं।

20 के प्रस्तावित आंदोलन पर हुई चर्चा
बैठक मे बीस सितंबर को प्रस्तावित सर्वदलीय संघर्ष समिति के बैनर तले अभिव्यक्ति की आजादी, असहमति के अधिकार और गौरी लंकेश के हत्यारों की आजतक गिरफ्तारी न होने को लेकर सभी विपक्षी दलों का संयुक्त मार्च के संदर्भ मे सभी बिंदुओं पर विस्तृत चर्चा करते हुए समस्त तैयारियां को अंतिम रूप दिया गया। सर्वदलीय संयुक्त मार्च बीस सिंतबर को दिन के ग्यारह बजे टाउनहाल, मैदागिन स्थित गांधी प्रतिमा से चलकर कबीरचौरा से होते हुए लहुराबीर स्थित आजाद पार्क पर समाप्त होगा।

बैठक एवं राजीव चौक पर हुए विरोध प्रदर्शन में प्रमुख रूप से प्रजानाथ शर्मा, सीताराम केसरी, प्रमोद पाण्डेय, प्रो.अनिल उपाध्याय, त्रिभुवन पाण्डेय, राघवेंद्र चौबे, राकेश चंद्र, फसाहत हुसैन, हसन मेंहदी, वीसी राय, पूनम कूंडू, मनीष सिंह, कल्पनाथ शर्मा, राम ऋंगार पटेल, प्रभात वर्मा, हाजी वकास अंसारी, मदनमोहन वर्मा, वकील अंसारी, विपिन सिंह, अशोक त्रिपाठी, धीरज शुक्ला, मिठाई लाल यादव, अशोक सिंह, कपूरिया आदि उपस्थित थे। संचालन महासचिव देवेंद्र सिंह ने किया और महानगर अध्यक्ष सीताराम केसरी ने आभार जताया, अध्यक्षता प्रजानात शर्मा ने की।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned