परीक्षाओं से कुछ माह पहले MP में हुए शिक्षकों के तबादले और देखते ही देखते जिले में घट गए 300 शिक्षक

परीक्षाओं से कुछ माह पहले MP में हुए शिक्षकों के तबादले और देखते ही देखते जिले में घट गए 300 शिक्षक
परीक्षाओं से ठीक पांच माह पहले MP में हुए शिक्षकों के तबादले और देखते ही देखते जिले में घट गए 300 शिक्षक

Deepesh Tiwari | Publish: Oct, 12 2019 02:07:37 PM (IST) Vidisha, Vidisha, Madhya Pradesh, India

अब विद्यार्थी भुगत रहे खामियाजा...

विदिशा। ऑनलाइन तबादले के बाद जिले में जो स्थिति सामने आई उसमें 665 शिक्षक स्थानांतरित हो गए जबकि जिले में आने वाले शिक्षकों की संख्या 358 रही। अधिक शिक्षक जाने से विद्यार्थियों की पढ़ाई संकट में आ गई है।

मालूम हो कि करीब एक माह पूर्व ऑनलाइन तबादले की प्रक्रिया हुई थी। इसमें बड़ी संख्या में शिक्षकों ने तबादले के लिए आवेदन किए थे। इस प्रक्रिया में बाहर से आकर यहां शिक्षकीय कार्य कर रहे शिक्षकों को अपने जिले में वापस जाने का मौका मिला। एक माह बाद भी स्कूलों में शिक्षकों की रिक्त पदों की पूर्ति नहीं हो पाई है।

तबादलों को करीब एक माह का समय हो गया लेकिन शिक्षकों की पूर्ति नहीं की जा रही जबकि इस शिक्षा सत्र की परीक्षाओं के लिए पांच माह ही शेष रह गए। मार्च माह में विभिन्न कक्षाओं की परीक्षा शुरू हो जाएंगी जबकि शिक्षकों की कमी के कारण कोर्स पूरा नहीं हो पाएगा और इसका खामियाजा विद्यार्थियों को भुगतना पड़ेगा।

वहीं जिले में करीब 20 सीएसी के तबादले हुए उन्होंने स्कूलों मेें खाली पदों पर ज्वानिंग भी दे दी, लेकिन वे कार्य शिक्षा केंद्र में कर रहे। इससे स्कूलों में पद तो भर गए लेकिन पढ़ाई के लिए शिक्षक नहीं मिल पाए हैं।

जुगाड़ से पढ़ाई
शिक्षा विभाग अब जुगाड़ से पढ़ाई कराने के तरीके निकाल रहा। स्कूलों में पदस्थ शिक्षकों को समीप के स्कूल में पढ़ाई का दायित्व सौंपकर इस कमी की भरपाई करने के प्रयास हो रहे हैं।

विभाग के मुताबिक जिले में अतिशेष शिक्षक करीब 270 है। इससे रिक्त पदों की पूर्ति संभव है, लेकिन अधिकांश शिक्षक असरदार परिवारों से होने से विभाग इस दिशा में ज्यादा हिम्मत नहीं जुटा पा रहा।

विदिशा छोड़ हर ब्लॉक में शिक्षकों की कमी
विदिशा ब्लाक छोड़ सभी ब्लॉकों में शिक्षकों की संख्या कम हुई है। नटेरन ब्लाक में सर्वाधिक 196 शिक्षक बाहर गए जबकि इस ब्लाक में सिर्फ 54 शिक्षक ही आए है।

सिरोंज व कुरवाई में भी स्थिति ठीक नहीं है। सिरोंज में 121 शिक्षक जिले से बाहर तबादले पर गए तो वहीं अन्य जिलों से सिर्फ 38 शिक्षक ही आए। इसी तरह कुरवाई में 114 शिक्षकों के तबादले हुए, जबकि जिले में कुल 40 शिक्षक ही आए हैं।

यह बनी स्थिति
ब्लाक : शिक्षक गए : शिक्षक आए
विदिशा : 90 : 114
नटेरन : 196 : 54
ग्यारसपुर : 74 : 50
सिरोंज : 121 : 38
कुरवाई : 114 : 40
लटेरी : 70 : 62
कुल : 665 : 358

शिक्षकों की कमी की पूर्ति के लिए अतिथि शिक्षक रखे जा रहे हैं।युक्तियुक्त करण के लिए अतिशेष शिक्षकों के दावे-आपत्तियां बुलाने की प्रक्रिया की जाएगी।
- एसपी त्रिपाठी, डीईओ

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned