अपना दुखड़ा सुनाने सडक़ पर आए ग्रामीण, सांसद गाड़ी से नीचे भी नहीं उतरे

बिजली-पानी, सडक़ की समस्याओं से जूझ रहे ग्रामीण

By: govind saxena

Published: 15 Sep 2021, 09:35 PM IST

त्योंदा. सांसद यहां से गुजर रहे हैं, इसकी जानकारी मिलते ही आसपास के ग्रामीण अपनी समस्याओं को लेकर सडक़ पर आ खड़े हुए। रसूलपुर की नट बस्ती के लोगों ने सडक़ पर खाली बर्तन रखकर पानी के इंतजाम की गुहार लगाना चाही तो रसूलपुर की अन्य समस्याओं के लिए ग्रामीणों सांसद का वाहन रोककर बात करना चाही, लेकिन सांसद वाहन से नीचे भी नहीं उतरे। गाड़ी में बैठे बैठे ही उनकी समस्याएं सुनीं ज्ञापन लिया और चलते बने।


ज्ञापन में ग्रामीणों ने बताया कि नट बस्ती में पानी की समस्या एवं सडक़ ना होने के कारण लोग परेशान हैं। किसी गर्भवती महिला को अगर पीड़ा होती है तो कंधे पर लेकर मेन रोड तक जाना पड़ता है। महिलाओ को एक किमी दूर से पानी लाना पड़ रहा है। तखत सिंह कुशवाहा ने बताया कि समस्या को लेकर ग्राम के स्थानीय जनप्रतिनिधि से लेकर विधायक को भी कई बार अवगत कराया गया, लेकिन केवल आश्वासन ही मिला। रहवासियों ने बस्ती में पानी एवं सडक़ की समस्या को जल्द दूर करने की मांग सांसद से की है। लेकिन सडक़ पर पहुंचे बस्ती के रहवासियों की भीड़, खाली बर्तन लेकर बैठी महिलाओं और रोकते लोगों के कहने पर भी सांसद वाहन से भी नीचे नहीं उतरे।


वहींं रसूलपुर स्थानीय बस्ती के ग्रामीणों ने भी गांव में ट्रांसफार्मर की समस्या को लेकर सांसद को ज्ञापन सौंपा। ग्रामीणों ने कहा कि रसूलपुर में बीते करीब 7 माह से पठारी रोड मोड पर रखा ट्रांसफार्मर, एवं भारत सिंह की चक्की सहित मस्जिद के पास रखा विद्युत ट्रांसफार्मर खराब पड़ा हुआ है। इसी ट्रांसफार्मर से ग्राम नल जल योजना कि पानी की एबं विद्युत सप्लाई सहित ग्राम की आटा चक्की चलती है, पूरा गांव परेशान है। ग्राम सभा के माध्यम से पंचायत द्वारा प्रस्ताव भी भेजा गया। बिजली कंपनी से गुहार लगाई, सीएम हेल्पलाइन में भी शिकायत के बाद ट्रांसफार्मर नहीं बदला गया। ग्रामीणों ने कहा कि यदि 5 दिन में ट्रांसफार्मर नहीं बदले गए तो आंदोलन एवं चक्काजाम करेंगे। इस दौरान रामहरि शर्मा, संजीव, दीपक, अनुज, मंगल सिंह, अशोक, पूरन सिंह अनेक ग्रामीण मौजूद थे।

govind saxena Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned