Bone health, Diet and Exercise: वर्कआउट के दाैरान कम कैलाेरी डाइट करेगी ये नुकसान

Bone health, Diet and Exercise: वर्कआउट के दाैरान कम कैलाेरी डाइट करेगी ये नुकसान
Bone health, Diet and Exercise: वर्कआउट के दाैरान कम कैलाेरी डाइट करेगी ये नुकसान

Yuvraj Singh Jadon | Updated: 13 Sep 2019, 04:01:34 PM (IST) वेट लॉस

Bone health, Diet and Exercise: आप अगर वर्कआउट करने के शाैकीन है आैर माेटापा घटाने के लिए आपने अपने आहार के ताैर पर कम कलाैरी या लो कार्ब डाइट प्लान का चुनाव किया है ताे सावधान हाे जाइए।

Bone health, Diet and Exercise: आप अगर वर्कआउट करने के शाैकिन है आैर माेटापा घटाने के लिए आपने अपने आहार के ताैर पर कम कलाैरी या लो कार्ब डाइट प्लान का चुनाव किया है ताे सावधान हाे जाइए। क्याेंकि यह आपकी हड्डियों की सेहत के लिए खतरनाक हाे सकता है।जर्नल ऑफ बोन एंड मिनरल रिसर्च में प्रकाशित एक नर्इ रिसर्च में इस बात का खुलासा हुआ है। शाेध के अनुसार वर्कआउट के साथ कम कलाैरी की डाइट ( Combining Exercise And Dieting ) लेने से आपकी हड्डियां कमजाेर हाे सकती हैं।

रिसर्च की वरिष्ठ लेखिका माया स्टाइलर ने कहा, "महिलाओं के लिए यह महत्वपूर्ण है क्योंकि उम्र बढ़ने के साथ-साथ हमारी हड्डियों का स्वास्थ्य कम होने लगता है। आपकी कैलोरी का सेवन और व्यायाम दिनचर्या आपकी हड्डियों की मजबूती और अस्थिभंग के जोखिम को प्रभावित कर सकती है।"

चूहाें पर किए गए इस शाेध का उद्देश्य कम कलाैरी डाइट लेने पर अस्थि मज्जा वसा ( Bone Marrow Fat ) और समग्र अस्थि स्वास्थ्य ( overall bone health ) पर पड़ने वाले प्रभावाें काे देखने के लिए किया गया था। शाेधकर्ताआें ने रिसर्च के लिए चूहाें के चार समूह बनाएं-एक समूह काे नियमित आहार ( Regular Diet ), दूसरे समूह काे कम कलाैरी आहार ( calorie-restricted ), तीसरे समूह काे नियमित आहार व एक्सरसाइज ( regular diet + exercise ) आैर चाैथे समूह काे कम कलाैरी आहार व एक्सरसाइज ( calorie-restricted + exercise ) के ताैर बांटा गया। कैलोरी-प्रतिबंधित समूह के चूहाें काे रेगुलर डाइट वाले चूहों की तुलना में 30 प्रतिशत कम भोजन परोसा गया।

अध्ययनकर्ताआें ने पाया कि कैलोरी-प्रतिबंधित समूह के चूहों ने अपना वजन कम किया,लेकिन उनके Bone Marrow Fat में भी वृद्धि हुई। या यूं कहे कि कम कलाैरी डाइट से उनकी हड्डियों की संख्या घटने लगी।

शाेधकर्ताआें का कहना है कि लम्बे समय से ही अस्थि मज्जा वसा का बढ़ना हड्डियों की सेहत के लिए नुकसानदायक माना गया है क्याें यह उन्हे कमजाेर बनाता है।अाैर यह बात जानवर से लेकर मानव तक सब पर लागू हाेती है।कम वसा आमतौर पर बेहतर हड्डियों के स्वास्थ्य का एक संकेत है।

स्टाइलर ने कहा ने कहा कि यदि मानवीय दृष्टिकोण से देखा जाए ताे कम कैलोरी आहार जो स्वाथ्यवर्धक माना जाता है,आपकी हड्डी के स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है, विशेष रूप से जब आप वर्कआउट करते हाें।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned