कभी खुद आत्महत्या करने में नाकाम हुई थी यह महिला, अब लोगों को इस तरह से दिखाती है मौत का आइना

कभी खुद आत्महत्या करने में नाकाम हुई थी यह महिला, अब लोगों को इस तरह से दिखाती है मौत का आइना

Arijita Sen | Publish: Sep, 16 2018 02:08:04 PM (IST) अजब गजब

सुसाइड से पहले यहां औरतों को मौत से मिलवाया जाता है।

नई दिल्ली। हम सभी इस बात को जानते हैं कि जिंदगी अनमोल है और किसी भी हाल में या किसी के लिए भी ईश्वर के इस अनमोल तोहफे को गंवाना नहीं चाहिए। लेकिन इतना जानने के बाद भी रोज कई लोग आत्महत्या कर जिंदगी को खत्म कर देते हैं। लेकिन यदि किसी इंसान को मौत से पहले ही उसके दर्दनाक अंजाम से मिला दिया जाएं तो शायद ही इंसान खुद को खत्म करने से पहले एकबार जरूर इस बारे में सोचेगा। इंसान को यही सोचने को मजबूर करता है ये ग्रेव क्लासरूम।

 

Grave classroom

जी, हां इस अनोखे क्लासरूम में मौत से पहले ही मौत के खौफ से इंसान का रूबरू करवाया जाता है। इस ग्रेव क्लासरूम में आत्महत्या की चाह रखने वाली औरतों की क्लास ली जाती है। जी, हां सूनने में ये भले ही अजीब लगें लेकिन कुछ ऐसा ही किया जाता है यहां।

ये ग्रेव क्लासरूम चार दीवारों से घिरा हुआ नहीं है बल्कि इसे एक खुले मैदान में बनाया गया है। इस मैदान में मिट्टी की परत जमा की गई है और सुसाइड से पहले यहां औरतों को मौत से मिलवाया जाता है।
ग्रेवयार्ड क्लासरूम को बनाने वाली का नाम लियू तेजी है जो कि महज तीस साल की है और लियू द्वारा इसे करीब तीन साल पहले चलाया गया था। दरअसल लियू के पति ने तीन साल पहले जब उसे छोड़ दिया तो वो अपनी जिंदगी से काफी निराश हो गई और मौत को गले लगाना बेहतर समझा लेकिन बाद में लियू को एहसास हुआ कि उसके जैसी लाखों औरतें लगभग हर दिन आत्महत्या करती हैं और ये सोचकर लियू ने ग्रेव क्लासरूम खोला और आज इस विधि के माध्यम से वो उसकी जैसी हजारों औरतों आत्महत्या के विचार से मुक्ति दिलाती है।

यहां महिलाओं को पहले मिट्टी से पूरी तरह ढक दिया जाता है फिर उन्हें अपने मौत के बारे में सोचने को कहा जाता है और मात्र इस डरावने सोच से ही औरतें सहम जाती है और जिंदगी को नए सिरे से शुरू करने की ओर एक नया कदम उठाती है।

Ad Block is Banned