पीएम मोदी की रवांडा यात्रा: कैटल डिप्लोमेसी के तहत तोहफें में दी 200 गायें, नरसंहार स्मारक भी गए

पीएम मोदी की कैटल डिप्लोमेसी: रवांडा को तोहफें में दी 200 गायें

By: Siddharth Priyadarshi

Published: 24 Jul 2018, 03:08 PM IST

किगली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को रवांडा की एक गांव को २०० गायें उपहार में दीं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रवांडा के रवेरू मॉडल गांव के दौरे पर गए और ‘गिरिंका’ योजना के तहत रवांडा के लोगों को 200 गायें दीं। इंडियन पीएम ने अपने इस कदम से पूरी दुनिया को चौंका दिया है। पूरी दुनिया में भारत सरकार के गाय देने की चर्चा हो रही है। मोदी का रवांडा दौरा किसी भारतीय प्रधानमंत्री का पहला दौरा है।

रवांडा को भारत सरकार की तरफ से गाय देने के पीछे का मुख्य कारण है कि भारत की तरह रवांडा में भी गायों का बहुत सम्मान है। रवांडा सरकार की ओर से चलाई जा रही है एक योजना है जिसका नाम 'गिरिंका' है। इस योजना के तहत सरकार वहां पर कुपोषण दूर करने के लिये 3.50 लाख गांवों को गाय देगी। इसा गाय से पैदा हुई बछिया अपने पड़ोसी को देनी होगी।

नरसंहार स्मारक भी गए पीएम

पीएम मोदी रवांडा में किगाली नरसंहार स्मारक गए। पूर्वी अफ्रीकी देश में तुत्सी लोगों के खिलाफ 1994 में हुए नरसंहार के दौरान मारे गए 2,50,000 से अधिक लोगों को यहीं दफनाया गया था। तत्कालीन बहुमत वाली हुतु सरकार ने 100 दिनों के अंदर तुत्सी समुदाय के लाखों लोगों की हत्या कर दी थी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने मोदी के दौरे के संबंध में ट्वीट किया, "दिन की एक जबरदस्त शुरुआत! प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किगाली में नरसंहार स्मारक केंद्र का दौरा किया।"

भारत करता है हिंसा पीड़ितों का सम्मान

विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने कहा कि "भारत हिंसा के सबसे खतरनाक रूप का सामना करने वाले पीड़ितों का सम्मान करता है।"उन्होंने कहा, "यह रवांडा में शुरू हुए सुलह की अनुकरणीय और सराहनीय प्रक्रिया का भी प्रतीक है।"

भारत और रवांडा की बीच कई समझौते

बता दें कि पीएम मोदी तीन अफ्रीकी देशों की पांच दिवसीय यात्रा पर सोमवार को रवांडा पहुंचे। वहां के बाद वह युगांडा और दक्षिण अफ्रीका जाएंगे।रवांडा के राष्ट्रपति पॉल कागमे के साथ प्रतिनिधिस्तर की वार्ता के बाद, भारत और रवांडा ने रक्षा, कृषि, डेयरी उत्पाद, चमड़ा और संबद्ध क्षेत्रों समेत आठ समझौतों पर हस्ताक्षर किए। मोदी ने यह भी घोषणा की कि भारत रवांडा में एक नया उच्चायोग खोलेगा। रवांडा के लिए भारतीय उच्चायुक्त का आवास युगांडा में है।

Siddharth Priyadarshi Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned