PM Modi US Visit: फ्लाइट में भी फाइलें निपटाते रहे, आज तड़के साढ़े तीन बजे पहुंचे अमरीका, उपराष्ट्रपति कमला हैरिस और कई कंपनियों के CEO से मिलेंगे

एयरपोर्ट पर पीएम मोदी का स्वागत करते अमरीका के विदेश मंत्रालय के कई अधिकारी नजर आये। वहीं, भारत के अमरीका में राजदूत तरणजीत सिंह संधु भी हवाईअड्डे पर उपस्थित थे।

 

 

By: Ashutosh Pathak

Updated: 23 Sep 2021, 09:16 AM IST

नई दिल्ली।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने तीन दिवसीय अमरीका दौरे के लिए तड़के करीब साढ़े तीन बजे वॉशिंगटन पहुंच चुके हैं। बारिश के बीच वॉशिंगटन में प्रधानमंत्री का जोरदार स्वागत किया गया। एयरपोर्ट पर पीएम मोदी का स्वागत करते अमरीका के विदेश मंत्रालय के कई अधिकारी नजर आये। वहीं, भारत के अमरीका में राजदूत तरणजीत सिंह संधु भी हवाईअड्डे पर उपस्थित थे।

पीएम मोदी के आने की खुशी में हवाईअड्डे पर कई भारतीय समुदाय के लोग भी पहुंचे थे जिनका अभिनंदन हाथ हिलाकर पीएम मोदी ने किया। मोदी बुधवार को राजधानी दिल्ली से एयर फोर्स-1 बोईंग 777-337 ईआर विमान से अमेरिका के लिए रवाना हुए थे। यह विमान हाल में भारत के प्रधानमंत्री के लिए विशेष रूप से निर्मित किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ज्वाइंट बेस एंड्रयूज, वाशिंगटन डीसी पर उनके स्वागत के लिए आए लोगों से मुलाकात करते नजर आये जिसकी तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर दिख रही हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके वाशिंगटन डीसी में भारतीय समुदाय के लोगों द्वारा उनका गर्मजोशी से स्वागत करने के लिए आभार व्यक्त किया।

प्रधानमंत्री मोदी का भारतीय समय के अनुसार अमरीका में आज कार्यक्रम -

- शाम 7.15 बजे Qualcomm के CEO क्रिस्टियानो एमॉन से मुलाकात करेंगे।

- शाम 7.35 बजे Adobe के चेयरमैन से मिलेंगे।

- शाम 7.55 बजे फर्स्ट सोलार के CEO मार्क विडमर से मुलाकात करेंगे।

- शाम 8.15 बजे General Atomics के सीईओ के साथ मीटिंग होगी।

- शाम 8.35 बजे ब्लैकस्टोन सीईओ से मुलाकात करेंगे।

रात 11 बजे ऑस्ट्रेलियाई पीएम स्कॉट मॉरिसन के साथ मीटिंग है।

* अगले दिन शुक्रवार, 24 सितंबर

- देर रात 12.45 बजे उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात करेंगे।

- देर रात 3 बजे जापानी प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा से मुलाकात करेंगे।

पीएम मोदी के वॉशिंगटन पहुंते ही भारतीय समुदाय के लोगों ने नारे लगाने शुरू कर दिए थे। जो तस्वीरें नजर आ रहीं हैं उसमें बारिश के बावजूद भारतीय-अमेरिकी पीएम मोदी का इंतजार करते नजर आ रहे हैं। पीएम मोदी इन लोगों से मिलने के लिए खासतौर पर अपनी गाड़ी से भी उतर गए।

यह भी पढ़ें:- भारत यात्रा के दौरान CIA का एक अधिकारी हवाना सिंड्रोम का हुआ शिकार, एक महीने में यह दूसरी घटना

पीएम मोदी अब यहां से सीधे पेंसिलवेनिया एवेन्यू स्थित होटल विलार्ड इंटरकॉन्टिनेंटल गए हैं और यही ठहरेंगे। पीएम बनने के बाद पीएम मोदी की ये सातवीं अमरीकी यात्रा है। कोविड के बाद से पीएम मोदी पहली बार भारत के पड़ोसी देशों के अलावा किसी दूसरे देश की यात्रा पर गए हैं।

दी गई जानकारी के अनुसार पीएम मोदी क्वाड लीडर समिट में भाग लेने के लिए अमरीका पहुंचे हैं और यहां वे ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन और जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा से भी मिलेंगे। अमरीका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ही इस सम्मेलन की मेजबानी कर रहे हैं। शुक्रवार को ही जो बाइडन क्वाड देशों के पहले सम्मेलन की मेजबानी करेंगे।

यह भी पढ़ें:- कनाडा चुनाव में भारतीयों का बोलबाला, रक्षा मंत्री हरजीत सज्जन समेत 17 ने जीत हासिल की।

इससे पहले, 23 सितंबर को भारतीय समयानुसार शाम 7:15 बजे से प्रधानमंत्री मोदी अपने होटल में ही अलग-अलग अमरीका की कई कंपनियों के सीईओ से मुलाकात करेंगे। इन सीईओ में क्वालकॉम के अध्यक्ष एवं सीईओ, एडोब के चेयरमैन, फर्स्ट सोलर के सीईओ, जनरल ऐटौमिक्स के चेयरमैन और सीईओ और ब्लैकस्टोन के संस्थापक शामिल होंगे। वहीं आज पीएम मोदी अमरीका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से भी मिलेंगे।

बता दें, अमेरिका रवाना होने से पहले पीएम मोदी ने एक बयान में अपनी पूरी यात्रा का ब्योरा भी दिया था। उन्होंने कहा है कि 'मैं अमरीकी राष्ट्रपति बाइडेन के साथ व्यापक वैश्विक रणनीतिक साझेदारी और पारस्परिक हित के क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान करूंगा। मैं दोनों देशों के बीच विशेष रूप से विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सहयोग के अवसरों का पता लगाने के लिए उप राष्ट्रपति कमला हैरिस से मिलने के लिए भी उत्सुक हूं।

पीएम मोदी ने आगे कहा, 'संयुक्त राष्ट्र महासभा में एक संबोधन के साथ अपनी यात्रा का समापन करूंगा, जिसमें कोविड महामारी, आतंकवाद से निपटने की आवश्यकता, जलवायु परिवर्तन और अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों सहित वैश्विक चुनौतियों पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा। अमेरिका की मेरी यात्रा संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ व्यापक वैश्विक रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने, हमारे रणनीतिक भागीदारों जापान और ऑस्ट्रेलिया के साथ संबंधों को मजबूत करने और महत्वपूर्ण वैश्विक मुद्दों पर हमारे सहयोग को आगे बढ़ाने का अवसर होगा।'

Narendra Modi
Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned