अंटार्कटिका की बर्फ के नीचे तैरने वाले लुइस ने क्यों लिया जोखिम

-दस मिनट तक माइनस 50 डिग्री से कम तापमान पर की तैराकी (Lewis Pugh swims under melting Antarctic ice sheet )

By: pushpesh

Updated: 18 Feb 2020, 03:58 PM IST

जयपुर.

अंटार्कटिका में पहली बार बर्फ की मोटी चादर के नीचे तैरने वाला ब्रिटिश तैराक लुइस पुघ ने जान जोखिम में डालकर जलवायु परिवर्तन के खतरों की तरफ ध्यान दिलाया है। 50 वर्षीय पुघ ने मायनस 50 डिग्री से नीचे तापमान पर सिर्फ एक टोपी, काला चश्मा और स्विम अंडरवियर में 10 मिनट तैराकी की। इसके बाद पुघ ने ट्वीट किया कि मैं दुनिया को यह संदेश देने के लिए पूर्वी अंटार्कटिका गया था कि यदि जलवायु परिवर्तन को रोकने के लिए वैश्विक उपाय नहीं किए गए तो वह दिन दूर नहीं जब दुनिया का बड़ा हिस्सा जलवायु आपातकाल की जद में होगा।

उन्होंने इस वर्ष ब्रिटेन के ग्लासगो में होने वाले जलवायु परिवर्तन सम्मेलन में इस ओर ध्यान आकर्षित करने का प्रयास किया है। अपने इंस्टाग्राम पोस्ट पर उन्होंने तैराकी के सुंदर और भयानक अनुभव को साझा किया है। पुघ ने बताया कि कैसे वे उस वक्त गंभीर खतरे में पड़ गए, जब तैरते वक्त एक बड़ी दरार में पानी तेजी से नीचे जाने लगा। वह पानी पुघ को भी नीचे की तरफ खींच रहा था, लेकिन सौभाग्य से पुघ इस खतरे से बच गए। पुघ का अगला लक्ष्य ग्रीनलैंड की सुपर ग्लेशियर झील में तैराकी करना है।

pushpesh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned