World Peace Day : जानिए कोरोना कैसे दुनिया में ‘अमन’ छीन सकता है

-दो स्थानों का सुधार होने के बावजूद भारत अभी एशियाई देशों में काफी पीछे
-विश्व शांति दिवस पर ग्लोबल पीस इंडेक्स का पूरा विश्लेषण (Complete analysis of Global Peace Index on World Peace Day)

By: pushpesh

Published: 21 Sep 2020, 03:24 PM IST

जयपुर. दुनिया में अमन कम हो रहा है। सामाजिक सुरक्षा, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय संबंध, आय और रोजगार में कमी जैसे मुद्दों पर असंतोष है। खासकर कोरोनाकाल के दौरान पनप रहा आक्रोश शांति की राह में बड़ी चुनौती है। कई देशों में सरकारों के खिलाफ प्रदर्शन इसी असंतोष का नतीजा है। इस वर्ष जून में जारी ग्लोबल पीस इंडेक्स 2020 (जीपीआइ) का विश्लेषण करें तो 2008 के बाद वैश्विक शांति में 2.5 फीसदी की गिरावट आई है। सर्वाधिक शांत और अशांत देशों के बीच फासला और बढ़ गया। इस बार महामारी से जुड़े प्रभाव भी सूचकांक में नजर आए।

शांति में गिरावट से आर्थिक नुकसान
जीपीआइ ने पिछले वर्ष शांति में गिरावट का असर क्रय शक्ति समता (पीपीपी) में गिरावट के रूप में देखा, जिससे 14.5 ट्रिलियन डॉलर के नुकसान का आकलन किया है। ये वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 10.6 फीसदी है। मसलन, सीरिया ने गृहयुद्ध के कारण हिंसा में पिछले वर्ष जीडीपी के 60 फीसदी के बराबर आर्थिक नुकसान उठाया। हालंाकि 2018-2019 के बीच इसमें सुधार हुआ है।
राहत की बात : आधे से अधिक देशों ने सैन्य बलों के आकार और परमाणु संपन्न राष्ट्रों ने परमाणु जखीरे को घटाया है।

कोविड-19 से आ रही अशांति की लहर
मार्च और अप्रेल के दौरान लॉकडाउन ने नागरिक अशांति को रोके रखा। इस दौरान प्रदर्शनकों की संख्या 90 फीसदी तक गिर गई। लेकिन यह अस्थाई शांति थी। महामारी के चलते हेल्थकेयर सिस्टम, शिक्षा और रोजगार से जुड़ा असंतोष शांति के संकेतकों को हिला सकता है। वैश्विक मंदी नागरिक असंतोष को और हवा दे सकती है। कई अफ्रीकी देशों में अकाल के हालात हो सकते हैं तो अन्य कई देशों में नाजुक हालात हो सकते हैं।

कोरोनाकाल में व्हाट्ऐप और फेसबुक का कितना हुआ प्रयोग, जानकर रह जाएंगे दंग

जानने योग्य बातें
-दुनिया के 20 सबसे शांतिपूर्ण देशों में 13 यूरोप के हैं। इसलिए यूरोप को दुनिया का सबसे शांतिपूर्ण महाद्वीप कहा जा सकता है।
-2019 में 96 देशों में हिंसक प्रदर्शन हुए।
-दंगों में 282 फीसदी और सामान्य हमलों में 821 फीसदी की वृद्धि हुई
-कुल 163 देशों की रैंकिंग में आइसलैंड 2008 से टॉप पर, अफगानिस्तान सबसे अशांत
-81 देशों में सुधार और 80 देशों में गिरावट आई है इंडेक्स में
-मध्यपूर्व और उत्तर अफ्रीकी देश सबसे कम शांतिप्रिय
-12 स्थानों की छलांग लगाई अजरबेजान ने
-139वीं रैंक के साथ भारत ने दो रैंक का सुधार किया

World Peace Day :  जानिए कोरोना कैसे दुनिया में ‘अमन’ छीन सकता है

जापान के नए प्रधानमंत्री रोज लगाते हैं 200 सिटअप्स

2020 के ग्लोबल पीस इंडेक्स का विश्लेषण
ये हैं टॉप पांच शांतिप्रिय देश
रैंक/देश स्कोर(वृद्धि/कमी)
1. आइसलैंड 1.078 (00)
2. न्यूजीलैंड 1.198 (00)
3. पुर्तगाल 1.247 (00)
4.ऑस्ट्रिया 1.275 (00)
5. डेनमार्क 1.283 (00)

fact news
Show More
pushpesh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned