सिपाही को प्रेमजाल में फंसाया, फिर हुआ ये खौफनाक अंजाम...

Dhirendra yadav

Publish: Nov, 15 2017 03:12:33 (IST)

Agra, Uttar Pradesh, India
सिपाही को प्रेमजाल में फंसाया, फिर हुआ ये खौफनाक अंजाम...

परिजनों ने बताया कि प्रेम जाल में फंसाया, उसके बाद कर रही थी ब्लैकमेल।

आगरा। पुलिसकर्मी को युवती से किस बात का खौफ था, उसने आत्महत्या क्यों की, ये सवाल अभी भी पुलिस को परेशान कर रहे हैं। सिपाही की आत्महत्या मामले में नया मोड़ उस समय सामने आया, जब मृतक सिपाही के परिवारीजन आगरा पहुंचे। परिवारीजनों ने युवती पर सिपाही को ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया। परिजनों का आरोप है, कि युवती ने सिपाही को प्रेमजाल में फंसा लिया था।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से हुआ साफ
थाना ताजगंज की विभव नगर चौकी पर तैनात सिपाही अक्षय गूजर ने आत्महत्या की थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृत्यु का कारण हैंगिंग यानी लटकना आया है। लेकिन यह साफ नहीं हो पाया कि उसने जान क्यों दी। न तो कोई सुसाइड नोट मिला और न ही उसके मोबाइल फोन से कोई जानकारी मिली। मोबाइल का डाटा डिलीट कर दिया गया था। पुलिस को उम्मीद है कि इस डाटा के रिकवर होने पर ही कुछ सुराग मिल सकता है। इसके चलते इसे फोरेंसिक साइंस लैब भेजा जाएगा।

ये बोले परिवारीजन
सिपाही के परिवारीजनों ने मंगलवार को थाना ताजगंज पहुंचकर कहा कि उसे एक युवती परेशान कर रही थी। उसे दोस्ती के नाम पर जाल में फंसा लिया था। अब ब्लैकमेल कर रही थे। उससे आठ लाख रुपये मांगे जा रहे थे। युवती का परिवार भी उसका साथ दे रहा था। इसी के चलते अक्षय तनाव में था। इसी तनाव के चलते उसने खुदकुशी की है। उन लोगों ने युवती और उसके परिवारीजनों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। हालांकि पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया।

ये भी पढ़ें -

सिपाही ने लगाई फांसी, पर उससे पहले Girlfriend से जानिए क्या हुई थी राज की बात
https://www.patrika.com/agra-news/police-constable-suicide-in-agra-1998284/

मोबाइल से खुलेगा राज
ताजगंज के थाना प्रभारी निरीक्षक का कहना है कि अभी तक ऐसा कोई साक्ष्य नहीं मिला है कि अक्षय को ब्लैकमेल किया जा रहा था। उसके मोबाइल को फोरेंसिक लैब भेजा जा रहा है। डिलीट किया गया डाटा रिकवर होने पर कुछ जानकारी मिल सकती है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned