Corona news अंबाजी, डाकोर, सोमनाथ, द्वारका और पावागढ़ मंदिर 20 मार्च से रहेंगे बंद

Corona news, Ahmedabad, News, Gujarat temple, close, CM Vijay rupani, Gujcet cancel, मंदिरों में नियमित होने वाली सेवा-पूजा रहेगी जारी, पर्यटकों पर रहेगी रोक, -राज्य सरकार के विभिन्न संवर्गों में भर्ती के लिए 31 मार्च तक आयोजित होने वाली सभी परीक्षाएं स्थगित, -30 मार्च को होने वाली गुजकेट की परीक्षा भी स्थगित, महाराष्ट्र की ओर जाने वाली एसटी निगम की बस सेवाएं भी बंद, मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में गांधीनगर में हुई उच्चस्तरीय बैठक

By: nagendra singh rathore

Published: 19 Mar 2020, 08:24 PM IST

अहमदाबाद. गुजरात में कोरोना वायरस के दो पॉजिटिव मामलों की पुष्टि होने के बाद गुजरात सरकार हरकत में आ गई है। गुजरात सरकार ने गुरुवार को कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए कई और अहम निर्णय किए हैं। जिसके तहत राज्य के प्रमुख मंदिरों अंबाजी, डाकोर, सोमनाथ, द्वारका, पावागढ़ को 20 मार्च से बंद रखा जाएगा। इन मंदिरों में श्रद्धालुओं को दर्शनों का लाभ नहीं मिल सकेगा। इसके अलावा 30 मार्च को होने वाली गुजकेट की परीक्षा भी स्थगित कर दी गई है। महाराष्ट्र की ओर जाने वाली एसटी की बसों को भी बंद कर दिया है। अन्य राज्यों से गुजरात में जो बसें प्रवेश करती हैं उन बसों में आने वाले यात्रियों की राज्य की चेकपोस्टों पर स्क्रीनिंग की जाएगी और उसके बाद ही उन्हें प्रवेश दिया जाएगा। कोई शंकास्पद व्यक्ति नजर आने पर उसे तत्काल अस्पताल पहुंया जाएगा।
मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और उप मुख्यमंत्री नितिनभाई पटेल की अध्यक्षता में गुरुवार को हुई उच्चस्तरीय बैठक में यह निर्णय किए गए हैं।
मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री ने मौजूदा हालात में राज्य के पांच मुख्य तीर्थ स्थलों को 20 मार्च, 2020 से दर्शनार्थियों के लिए पूरी तरह से बंद करने का निर्णय किया है।
इन यात्राधामों में अंबाजी, द्वारका, सोमनाथ, डाकोर और पावागढ़ के मंदिरों में सिर्फ नियमित रूप से होने वाली सेवा-पूजा ही चालू रखी जाएगी, लेकिन श्रद्धालुओं के लिए इन मंदिरों में दर्शन संपूर्ण रूप से बंद रहेगा।

सभी भर्ती परीक्षाएं रद्द, अब 14 अप्रेल बाद होंगी
मुख्य सचिव डॉ. अनिल मुकीम, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव के. कैलाशनाथन, प्रधान सचिव एम.के. दास, सामान्य प्रशासन विभाग के प्रधान सचिव कमल दयानी और मुख्यमंत्री के सचिव अश्विनी कुमार की उपस्थिति में आयोजित इस बैठक में लिए गए अन्य महत्वपूर्ण निर्णयों के अनुसार राज्य सरकार की सेवाओं में विभिन्न संवर्ग में भर्ती के लिए 31 मार्च, 2020 तक जो परीक्षाएं ली जानी थी, वे सभी परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। अब ये परीक्षाएं आगामी 14 अप्रैल, 2020 के बाद ली जाएंगी। इसी तरह, 30 मार्च, 2020 को आयोजित होने वाली गुजकेट की परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं और ये परीक्षा अब 14 अप्रैल, 2020 के बाद ली जाएंगी।

चेकपोस्टों पर होगी यात्रियों की स्क्रीनिंग

गुजरात में कोरोना वायरस अन्य राज्यों से आने वाले व्यक्ति-यात्रियों के जरिए न फैले, उस दिशा में सतर्कता बरतते हुए राज्य सड़क परिवहन निगम की महाराष्ट्र जाने वाली बस सेवाओं को बंद कर दिया गया है। अन्य राज्यों से आने वाली निजी यात्री और ट्रांसपोर्ट बस सेवाओं के यात्रियों की राज्य की 16 चेकपोस्ट पर स्क्रीनिंग करने का अहम निर्णय भी बैठक में लिया गया है।
मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री ने कहा कि गुजरात में स्वास्थ्य सतर्कता की दिशा में अग्रिम कदम उठाने के चलते कोरोना वायरस को फैलने से रोकने में सफलता मिली है, परन्तु अभी भी जनसहयोग से और भी चौकसी बरतते हुए गुजरात में कोरोना वायरस प्रवेश न करे उसकी पर्याप्त सावधानी राज्य सरकार और स्वास्थ्य विभाग रख रहे हैं।

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और उप मुख्यमंत्री नितिनभाई पटेल की अध्यक्षता में गुरुवार को हुई उच्चस्तरीय बैठक में यह निर्णय किए गए हैं।
मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री ने मौजूदा हालात में राज्य के पांच मुख्य तीर्थ स्थलों को 20 मार्च, 2020 से दर्शनार्थियों के लिए पूरी तरह से बंद करने का निर्णय किया है।
इन यात्राधामों में अंबाजी, द्वारका, सोमनाथ, डाकोर और पावागढ़ के मंदिरों में सिर्फ नियमित रूप से होने वाली सेवा-पूजा ही चालू रखी जाएगी, लेकिन श्रद्धालुओं के लिए इन मंदिरों में दर्शन संपूर्ण रूप से बंद रहेगा।

सभी भर्ती परीक्षाएं रद्द, अब 14 अप्रेल बाद होंगी
मुख्य सचिव डॉ. अनिल मुकीम, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव के. कैलाशनाथन, प्रधान सचिव एम.के. दास, सामान्य प्रशासन विभाग के प्रधान सचिव कमल दयानी और मुख्यमंत्री के सचिव अश्विनी कुमार की उपस्थिति में आयोजित इस बैठक में लिए गए अन्य महत्वपूर्ण निर्णयों के अनुसार राज्य सरकार की सेवाओं में विभिन्न संवर्ग में भर्ती के लिए 31 मार्च, 2020 तक जो परीक्षाएं ली जानी थी, वे सभी परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। अब ये परीक्षाएं आगामी 14 अप्रैल, 2020 के बाद ली जाएंगी। इसी तरह, 30 मार्च, 2020 को आयोजित होने वाली गुजकेट की परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं और ये परीक्षा अब 14 अप्रैल, 2020 के बाद ली जाएंगी।

चेकपोस्टों पर होगी यात्रियों की स्क्रीनिंग

गुजरात में कोरोना वायरस अन्य राज्यों से आने वाले व्यक्ति-यात्रियों के जरिए न फैले, उस दिशा में सतर्कता बरतते हुए राज्य सड़क परिवहन निगम की महाराष्ट्र जाने वाली बस सेवाओं को बंद कर दिया गया है। अन्य राज्यों से आने वाली निजी यात्री और ट्रांसपोर्ट बस सेवाओं के यात्रियों की राज्य की 16 चेकपोस्ट पर स्क्रीनिंग करने का अहम निर्णय भी बैठक में लिया गया है।
मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री ने कहा कि गुजरात में स्वास्थ्य सतर्कता की दिशा में अग्रिम कदम उठाने के चलते कोरोना वायरस को फैलने से रोकने में सफलता मिली है, परन्तु अभी भी जनसहयोग से और भी चौकसी बरतते हुए गुजरात में कोरोना वायरस प्रवेश न करे उसकी पर्याप्त सावधानी राज्य सरकार और स्वास्थ्य विभाग रख रहे हैं।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned