scriptDebt-ridden youth with friends stole vehicles got arrested by police. | कर्ज में डूबे युवा ने दोस्तों के साथ चुराई 12 बाइक और 1 कार, आरोप में तीन गिरफ्तार | Patrika News

कर्ज में डूबे युवा ने दोस्तों के साथ चुराई 12 बाइक और 1 कार, आरोप में तीन गिरफ्तार

locationअहमदाबादPublished: Feb 13, 2024 02:05:57 pm

Submitted by:

Khushi Sharma

अहमदाबाद पुलिस ने वाहन चोरी के आरोप में तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। डेंटल स्टूडेंट ऑनलाइन गेमिंग के कर्ज में डूबने के कारण डॉक्टर बनने की बजाय चोरी करने लगा। कर्ज में डूबे युवा ने दोस्तों के साथ मिलकर चुराई 12 बाइक और 1 कार। इन्होंने सुप्रीम कोर्ट क्लर्क की कार को भी नहीं बख्शा।

कर्ज में डूबे युवा ने दोस्तों के साथ चुराई 12 बाइक और 1 कार, आरोप में तीन गिरफ्तार
कर्ज में डूबे युवा ने दोस्तों के साथ चुराई 12 बाइक और 1 कार, आरोप में तीन गिरफ्तार

जीवन में हर चरण पर दोस्तों को एक-दूसरे की मदद करते देखा जाता है। अहमदाबाद में दोस्ती का एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। शहर में ऐसे ही चोरों के एक गिरोह को पुलिस ने पकड़ा है। अहमदाबाद में पुलिस ने वाहन चोरी आरोप में तीन युवकों को गिरफ्तार किया।

डेंटिस्ट की पढ़ाई छोड़ चोरी करने लगा

पुलिस पूछताछ में पता चला तीनों गिरफ्तार हुए आरोपी दोस्त हैं और उनमें से एक डेंटल छात्र था। डेंटिस्ट्री की प्रथम वर्ष की पढ़ाई कर रहा था। लेकिन उसे ऑनलाइन गेमिंग की लत लग गई थी। राहुल ने ऑनलाइन गेम में अधिक पैसा खो दिया और कर्ज में डूब गया, अपने कॉलेज की फीस का भुगतान करने में भी असमर्थ हो गया, इसलिए उसने पढ़ाई छोड़ी। कर्ज चुकाने के लिए उसने अपने दोस्तों के साथ मिलकर वाहन चोरी करना शुरू कर दिया।

वहीं, योगेश पहले पान की दुकान चलाता था लेकिन कोरोना के दौरान जब उसका कारोबार चौपट हो गया तो उसने बाइक चोरी करना शुरू किया। जबकि दिलीप भी पैसे के लिए चोरी की वारदातों में शामिल हुआ।

इन्होंने मिलकर एक दर्जन मोटरसाइकिलों की चोरी को अंजाम दिया। यहां तक कि सुप्रीम कोर्ट के एक क्लर्क की कार को भी नहीं छोड़ा और सरकारी संपत्ति से एक कार चोरी कर ली।

सुप्रीम कोर्ट क्लर्क कार चोरी जांच में खुलासा हुआ

कुछ समय पहले सरकारी क्वार्टर से एक कार चोरी हो गयी थी, जिसकी शिकायत वस्त्रापुर थाने में दर्ज करायी गयी थी। पुलिस ने सीसीटीवी के आधार पर कार चोरों को पकड़ने की कोशिश की। जिसमें पुलिस ने कार चोरी के आरोप में राहुल चंपानेरी को कार समेत पकड़ लिया।

पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो राहुल ने अपने दोस्त योगेश उर्फ गोपाल बोराखटारिया और दिलीपभाई बोराखटारिया के साथ मिलकर वाहन चोरी करने की बात मानी। तीनों युवकों से पूछताछ में चोरी गिरोह में उनकी संलिप्तता से संबंधित चौंकाने वाली चाजों बात की है।

बताया कि उन्होंने न सिर्फ कार चुराई बल्कि अब तक 12 अलग-अलग बाइकें भी चुरा चुके हैं। वस्त्रपुर, सैटेलाइट, सोला, आनंदनगर और सरखेज से बाइक चुराने की बात कबूल की। पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर एक कार और बारह चोरी की बाइकें जब्त की और आगे जांच जारी रखी। यह खुलासा पूरे चोरी रैकेट का पर्दाफाश करता है और अहमदाबाद पुलिस के लिए एक महत्वपूर्ण सफलता है।

चोरी की बाइक पर 122 रैपिडो यात्रा

जो बाइक चोरी की उनमें ज्यादातर स्पलेंडर बाइक थीं। क्योंकि, इसमें एक सॉकेट बदलकर गाड़ी को सीधे स्टार्ट कर सकते थे। उसने एक-दो नहीं बल्कि बारह बाइक चोरी की थी। चोरी की गाड़ियों को ये लोग रैपिडो में इस्तेमाल करने की कोशिश करते थे। तीनों ने दिमाग का इस्तेमाल कर बाइक की नंबर प्लेट में हेरफेर किया और रैपिडो ऐप में बाइक रजिस्टर करके पैसे भी कमा रहे थे। जिसमें उन्होंने 122 राइड भी कन्वर्ट कीं।

ट्रेंडिंग वीडियो