scriptFourth railway track will be laid between Sabarmati-Vatwa | साबरमती-वटवा के बीच चौथा रेल ट्रैक बिछाया जाएगा | Patrika News

साबरमती-वटवा के बीच चौथा रेल ट्रैक बिछाया जाएगा

locationअहमदाबादPublished: Feb 02, 2024 10:34:28 pm

Submitted by:

Rajesh Bhatnagar

मेहसाणा-पालनपुर सेक्शन का ट्रैक डबलिंग भी होगा

अंतरिम बजट में गुजरात के लिए रेलवे को लेकर कई प्रावधान, परिव्यय 8587 करोड़ रुपए

साबरमती-वटवा के बीच चौथा रेल ट्रैक बिछाया जाएगा
रेल, संचार और इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव।
अहमदाबाद. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर सेे गुरुवार को पेश किए गए 2024-25 के अंतरिम बजट में गुजरात के लिए रेलवे को लेकर कई प्रावधान किए हैं।

रेल, संचार और इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कहा कि साबरमती-वटवा के बीच चौथा रेल ट्रैक बिछाया जाएगा, मेहसाणा-पालनपुर सेक्शन का ट्रैक डबलिंग भी होगा।
गुजरात राज्य के लिए परिव्यय 8587 करोड़ रुपए है, जो वर्ष 2009-2014 के लिए 589 करोड़ के औसत परिव्यय का 14 गुना है। 2009-14 के बीच 132 किमी प्रति वर्ष की तुलना में अब 701 किमी प्रति वर्ष ट्रैक बिछाने का काम किया जा रहा है।
गुजरात में कुल 30,789 करोड़ रुपए का निवेश हो रहा है। गुजरात में 97 फीसदी रूट का विद्युतीकरण हो चुका है। गुजरात में 28 वन स्टेशन वन प्रोडक्ट (ओएसओपी) स्टॉल कार्यरत हैं जबकि अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत 87 स्टेशनों का पुनर्विकास किया जा रहा है। सूरत और सोमनाथ स्टेशनों के पुनर्विकास का काम तेजी से चल रहा है।
मौजूदा नई दिल्ली-मुंबई मार्ग (वडोदरा-अहमदाबाद सहित) पर गति को बढ़ाकर 160 किमी प्रति घंटा/200 किमी प्रति घंटा करने के लिए दिल्ली-मुंबई के बीच 12 घंटे का यात्रा समय प्राप्त करने के मिशन के लिए 2662 करोड़ रुपए उपलब्ध कराए जाएंगे। वडोदरा-अहमदाबाद ट्रेन सुरक्षा प्रणाली (500 आरकेएम) विकसित की जाएगी। इनके अलावा साबरमती में ट्रेन सेटों के लिए रखरखाव डिपो की स्थापना पर 2.5 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।
गुजरात में प्रमुख परियोजनाएं :

परियोजना 2024-25 में प्रस्तावित निवेश (करोड़ रुपए में)
सामाख्याली-गांधीधाम चौहरीकरण 100
दाहोद-इंदौर वाया सरदारपुर, झाबुआ और धार 600
छोटा उदेपुर-धार 350
नई बंदरगाह कनेक्टिविटी (अंब्रेला कार्य 23-24) 80
गेरतपुर-साणंद, बोटाद-अहमदाबाद (16.51 किमी) के बीच नई ब्रॉड गेज लाइन इंटरसेक्शन 200
भीमनाथ-धोलेरा 100

प्लान हेड शीर्ष 14 के अंतर्गत प्रस्तावित परिव्यय-गेज परिवर्तन (2742 करोड़ रुपए) :
परियोजना वर्ष 2024-25 में प्रस्तावित निवेश (करोड़ रुपए में)

भुज-नलिया का नलिया से वायोर तक विस्तार सहित (24.65 किमी) 350
अहमदाबाद-हिम्मतनगर-उदयपुर में मोडासा-शामलाजी रोड भी शामिल 100
मियागाम-करजण-डभोई-समलाया गेज परिवर्तन विद्युतीकरण के साथ 225
कलोल-कड़ी-कटोसण रोड 100
समनी-जंबूसर 120
समलाया-टिम्बा रोड 90
नडियाद-पेटलाद 90
पेटलाद-भादरण 90
हिम्मतनगर-खेड़ब्रह्मा 90
आदराज मोती-विजापुर 150
विजापुर-आंबलियासण 150
भीलडी-विरमगाम मेटिरियल मॉडिफिकेशन के साथ भीलडी-पाटण नई लाइन, मेहसाणा-तारंगा हिल गेज परिवर्तन 10
राजकोट-वेरावल, वांसजलिया-जेतलसर तक, शापर-सरडिया (46 किमी), सोमनाथ-कोडिनार (36.91 किमी) के लिए नए मेटिरियल मॉडिफिकेशन के साथ 10
अहमदाबाद-मेहसाणा 12
खिजड़िया-अमरेली 10
मियागाम-करजण-चोरंदा-मालसर 20
जंबूसर-कवि 20
कोसंबा-उमरपाड़ा 20
चोरंदा-मोटीकोरल 20
प्लान हेड 15 के तहत प्रस्तावित परिव्यय - दोगुना (943 करोड़ रुपए) :

परियोजना वर्ष 2024-25 में प्रस्तावित निवेश (करोड़ रुपए में)

राजकोट-कानालुस 50
आणंद-गोधरा 50
सुरेंद्रनगर-राजकोट 50
मेहसाणा-पालनपुर 50
वटवा-अहमदाबाद-साबरमती के बीच चौथी लाइन 30
रमगाम-सामाख्याली 30
उधना-जलगांव विद्युतीकरण सहित 80
छायापुरी-बाजवा के बीच मल्टी ट्रैकिंग (2 किमी) 10
गांधीधाम-आदिपुर के बीच चौहरीकरण 10
बारेजड़ी नांदेज (गेरतपुर)-साणंद चौथी लाइन (38.20 किमी) 10
सोमनाथ में अतिरिक्त ट्रैक बिछाने का प्रावधान 10

ट्रेंडिंग वीडियो