Bild up India; लौटे हुनरमंद, पुराने काम-धंधों में फूंक सकते हैं जान

बिल्ड अप इंडिया...-माटी का कर्ज चुकाने को लालायित मगर कच्चे माल की दरकार, जिले में पावरलूम, टेबलवेयर, फेब्रिक, मार्बल उद्योग को मिलेगा बढ़ावा, चुनौतियां भी नहीं है कम

 

By: CP

Published: 24 May 2020, 09:02 AM IST

अजमेर. वैश्विक महामारी के दौर से गुजर रहे व्यापार एवं उद्योग-धंधों में कई जगह बदलाव की बयार देखने को मिल रही है। कई राज्यों से प्रवासी श्रमिकों के अपने पैतृक गांव, शहरों में आने के साथ बाहरी राज्यों के प्रवासी श्रमिकों के पलायन के बाद नई संभावनाएं एवं नई सोच भी अब विकसित हो रही है। अजमेर जिले में आने वाले कई हुनरमंद श्रमिक ऐसे हैं जो अपनी मेहनत और काबिलियत के बूते सैकड़ों-हजारों मील दूर किसी और जगह उद्योगों को जिलाए हुए थे। अब ऐसे लोगों की बड़ी खेप अजमेर जिले में ही काम की तलाश में है। ऐसे में स्थानीय स्तर कारगर प्रयास किए जाकर कुछ ऐसे उद्योग-धंधे जो किसी समय खूब चला करते थे, किंतु पिछले काफी समय से ट्रेंड से बाहर हैं, उनमें फिर से जान फूंक कर स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाए जा सकते हैं तो कुछ सरकार की ओर से खोली जाने वाली नई इकाइयों का इंतजार कर रहे हैं।

फैक्ट फाइल
20,000 श्रमिकों का अजमेर से अन्य राज्यों में पलायन।

12,000 श्रमिक अन्य राज्यों से अजमेर लौटे।

कहां कौनसे उद्योग प्रभावित
ब्यावर: मिनरल, पावरलूम, कप-प्लेट, चूडिय़ां

किशनगढ़: मार्बल, पावरलूम।
केकड़ी: कृषि, श्रम आधारित कार्य।

पुष्कर: फूल, कृषि, गारमेंट उद्योग।
सावर: मार्बल खनन।

पीसांगन: ईंट-भट्टा
बिजयनगर: पाइप फैक्ट्री, स्पिनिंग फैक्ट्री

इन नए उद्योगों का बन सकता है हब -फेब्रिक कपड़ा, टेबलवेयर इंडस्ट्री के लिए ब्यावर हब बन सकता है।

-गारमेंट उद्योग व गुलकंद उद्योग को पुष्कर में पंख लग सकते हैं।
-सावर में मार्बल रीको एरिया में रोजगार के नए अवसर।

-पीतल के बर्तन और जूती/चप्पल का पुराना उद्योग पीसांगन में पुनर्जीवित हो सकता है।

ये हैं चुनौतियां

-पुराने उद्योगों के लिए कच्चे माल की सप्लाई।
-हुनरमंद श्रमिकों को उद्योग स्थापना के लिए ऋण की सुनिश्चितता।

-ऐसे उद्योगों के उत्पाद के लिए बाजार की तलाश और बिक्री।
-श्रमिकों को स्किल डवलपमेंट के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था नहीं।

CP Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned