script डिवाइडर से फिर टकराई कार, निर्माण की खामी सुधारने से नहीं सरोकार | Car collides with divider again, not concerned with correcting | Patrika News

डिवाइडर से फिर टकराई कार, निर्माण की खामी सुधारने से नहीं सरोकार

locationअजमेरPublished: Feb 04, 2024 11:32:46 pm

Submitted by:

Dilip Sharma

सड़क-चौराहों के निर्माण की तकनीकी खामियों से हो रही दुर्घटनाएं

जवाहर रंगमंच और सावित्री चौराहे पर सड़क के बीच बने डिवाइडर लगातार सड़क दुर्घटनाओं का सबब बने हुए हैं। लगातार होती सड़क दुर्घटनाओं का कारण निर्माण में तकनीकी खामी होना बताया जा रहा है। जिसके सुधार की संबंधित महकमे सुध नहीं ले रहे।

डिवाइडर से फिर टकराई कार, निर्माण की खामी सुधारने से नहीं सरोकार
डिवाइडर से फिर टकराई कार, निर्माण की खामी सुधारने से नहीं सरोकार
जवाहर रंगमंच और सावित्री चौराहे पर सड़क के बीच बने डिवाइडर लगातार सड़क दुर्घटनाओं का सबब बने हुए हैं। लगातार होती सड़क दुर्घटनाओं का कारण निर्माण में तकनीकी खामी होना बताया जा रहा है। जिसके सुधार की संबंधित महकमे सुध नहीं ले रहे। उधर, ऐसे पॉइंट को जिला प्रशासन और यातायात पुलिस भी नजरअंदाज किए हुए है।रविवार शाम जवाहर रंगमंच के सामने बारिश के दौरान कार डिवाइडर से टकरा कर क्षतिग्रस्त हो गई। गनीमत रही कि कार सवारों को चोट नहीं आई। हालांकि कार का अगला व्हील क्षतिग्रस्त हो गया। उधर, चालक क्षतिग्रस्त कार को मौके पर ही छोड़ गया। जिससे काफी देर तक रास्ता बाधित रहा। कुछ देर बाद क्रेन की मदद से क्षतिग्रस्त वाहन को हटाया गया।
ऐसी बदइंतजामियां. . .सावित्री चौराहे से जवाहर रंगमंच तक सड़क के बीच बनाए गए डिवाइडर बनाने में तकनीकी खामी के चलते लगातार दुर्घटनाएं हो रही हैं। जानकारों के मुताबिक डिवाइडर की चौड़ाई कम होने से तेज रफ्तार वाहन चालक को नजर नहीं आता। चालक भ्रम में डिवाइडर पर वाहन चढ़ा देते हैं।
-डिवाइडर पर लगाए जाने वाले अधिकांश पोल क्षतिग्रस्त हो चुके हैं। जो खड़े हैं उन पर रेडियम नहीं लगा है। जिससे वाहन चालक को डिवाइडर नजर नहीं आता।-स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में सीमेंट की ईंटों से डिवाइडर तो बना दिया गया लेकिन प्रशासन फुटपाथ खाली नहीं करा रहा। ऐसे में चौपहिया वाहन बीच में चलने, ओवरटेक के फेर में दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैं।
-सावित्री चौराहा पर डिवाइडर के पास ही प्राइवेट वाहन, सिटी ट्रांसपोर्ट के सवारी टेम्पो खड़े रहते हैं। जिससे अन्य रनिंग थ्रू वाहनों को कम सड़क मिलती है।-स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में चौराहे-तिराहे बनाकर ट्रैफिक लाइट शुरू नहीं की गई। जिससे गफलत में दुर्घटनाएं हो रही हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो