scriptHusband took the meeting, the Zilla Parishad ordered an inquiry | प्रधान पति ने ली बैठक जिला परिषद ने दिए जांच के आदेश | Patrika News

प्रधान पति ने ली बैठक जिला परिषद ने दिए जांच के आदेश

बीडीओ मसूदा से जांच रिपोर्ट तलब

अजमेर

Published: November 19, 2021 08:28:07 pm

अजमेर. जिला परिषद सीईओ डॉ.गौरव सैनी ने मंगलवार को पंयायत समिति मसूदा के विकास अधिकारी को मसूदा प्रधान पति के प्रधान की हैसियत से बैठक लेने की शिकायत पर जांच के निर्देश दिए हैं। विकास अधिकारी को तीन दिन में अपनी रिपोर्ट देनी होगी। प्रधान पति की शिकायत करते हुए रमेश रैगर ने बताया कि प्रधान पति न केवल अधिकारियों की बैठक ले रहे है बल्कि प्रशासन गावों के संग अभियान में मंच का संचालन किया जा रहा है। यह पंचायती राज नियमों के विरुद्ध है। शिकायतकर्ता ने प्रधानपति के बैठकों में शामिल होने तथा मंच संचालन के फोटो भी शिकायत के साथ ही जिला परिषद को भेजे हैं। सीईओ ने निर्देश दिए हैं कि यदि शिकायत सही पाई जाती है तो 2 जून 2020 के अनुसार कार्रवाई प्रस्तावित की जाए।
ajmer
ajmer
यह हो सकती है कार्रवाई
पंचायत राजविभाग के प्रमुख सचिव के अनुसार चुने हुए प्रतिनिधि स्वंय उनकी कुर्सी पर बैठे तथा स्वंय के स्तर पर कार्य सम्पादित करे। स्वंय के द्वारा कार्य संचालन नहीं कर यदि अपने रिश्तेदार/ सम्बन्धी द्वारा कार्य सम्पादित कराया जाता है तो यह कर्तव्यों के निर्वहन में असर्मथता एवं दुराचरण की श्रेणी में आता है। किसी पंचायती राज संस्थाओं में ऐसा व्यवहार पाया जाता है तो सम्बन्धित महिला चेयरपर्सन / ऑफिस बेरियर के विरुद्ध पंचायतीराज अधिनियम की धारा 38 के तहत कार्यवाही की जाएगी। साथ ही इस व्यवहार में सहयोग करने वाले अधिकारी/ कर्मचारी के खिलाफ भी सीसीए नियमों के तहत कार्यवाही की जाएगी।
अन्य जगहों पर भी यही हाल
शहर से लेकर गावों तक कमोबेश यही हाल है। पार्षद पति, सरपंच पति, जिला परिषद सदस्य पति, पंचायत समिति सदस्य पति भी अकसर बैठकों में नजर आते हैं।

read more: दुव्यर्वहार की शिकायत पर कर्मचारी सस्पेंड

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.