scriptPrayagraj District Task Force will address Kovid patients | अब जिला टास्क फोर्स करेगी कोविड मरीजों का पता, जाने क्या है माइक्रो प्लान | Patrika News

अब जिला टास्क फोर्स करेगी कोविड मरीजों का पता, जाने क्या है माइक्रो प्लान

लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री की अध्यक्षता में संगम सभागार में जनपद स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक की गई। बैठक में कोविड-19 संवेदीकरण व नियंत्रण और कोविड-19 के लक्षण युक्त व्यक्तियों, नियमित टीकाकरण से छूटे बच्चों, 60 वर्ष के अधिक आयु के कोविड-19 टीके की पहली खुराक ना प्राप्त करने वालों के चिन्हीकरण को लेकर प्लान तैयार किया गया।

इलाहाबाद

Updated: January 21, 2022 10:18:51 pm

प्रयागराज: संगमनगरी में माघ मेला समेत पूरे जनपद में कोरोना का कहर जारी है। लगातार हो रहे मरीजों में इजाफा को लेकर जिला प्रशासन ने ठोस कदम उठाया है। कोरोना कंट्रोल करने को लेकर प्रयागराज जिलाधिकारी ने जिला स्तरीय टास्क फोर्स को निर्देशित किया है कि माइक्रो प्लान के अनुसार जनपद में टीमों का गठन किया जाए। इस प्लान के तहत जिले अब तक ऐसे कितने लोग हैं जो टीकाकरण नहीं कराया है। इसके साथ ही कोविड-19 लक्षण वाले लोगों का भी चिन्हीकरण हो।
अब जिला टास्क फोर्स करेगी कोविड मरीजों का पता, जाने क्या है माइक्रो प्लान
अब जिला टास्क फोर्स करेगी कोविड मरीजों का पता, जाने क्या है माइक्रो प्लान
इस तरह करेगी टीम काम

जिलाधिकारी ने कहा कि इस प्लान में ग्रामीण क्षेत्रों में टीम में आशा बहने व आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को अनिवार्य रूप से रखा जाए। डोर टू डोर सर्वे में उन्होंने जनपद स्तरीय अधिकारियों डीपीआरओ और डीपीओ को निर्देशित किया है कि डीपीओ अपने सारे सीडीपीओ के साथ बैठक करके माइक्रो पलान बनवा लें। प्रत्येक टीम में एक आशा एवं एक आंगनबाड़ी कार्यकत्री रहेगी, ये सभी सीडीपीओ सुनिश्चित करेंगे।
डीएम ने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित किया है कि डोर-टू-डोर सर्वे में सहायक पंचायत राज अधिकारी एवं रोजगार सेवक सहयोग करेंगे, जो भी डाटा आयेगा सर्वे के दौरान जो लक्षणयुक्त पाये जायेंगे, उन्हें मेडिकल किट उपलब्ध करायी जायेगी। जो मरीज गम्भीर रूप से पीड़ित होंगे, उन्हें सम्बंधित टीम अपने अधीक्षक को सूचित करेगी। अधीक्षक उन्हें आगे के लिए रेफर करेंगे।
छुटे काम जल्द हो पूरे

डोर-टू-डोर सर्वे में जो भी अभी तक किन्हीं कारणों से छूटे है, उन्हें चिन्हित कर टीकाकरण सुनिश्चित किया जाए। कोविड-19 के लक्षण वाले व्यक्तियों को टीम के द्वारा मेडिकल किट उपलब्ध कराई जाए व कोविड-19 केंद्र में सूचीबद्ध निकटवर्ती जांच केंद्रों के बारे में बताया जाए। सर्वेक्षण टीम द्वारा घर-घर जाकर जागरूकता के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा तैयार किया गया स्टीकर लगाया जाए।
यह भी पढ़ें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लेकर किन्नर महामंडलेश्वर ने की भविष्यवाणी, जाने कौन बनेगा यूपी का सीएम


जिलाधिकारी ने कहा कि विभिन्न संचारी रोगों तथा कोविड-19 संक्रमण के खतरे एवं बचाव के विषय में जागरूकता फैलाने हेतु व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाए। चैराहों पर लोगों को भीड़ न लगाने दे और सोशल डिस्टेंसिंग के पालन हेतु जागरूक किया जाए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची शिवसेना, संजय राउत बोले-विशेष सत्र बुलाना कानून के मुताबिक नहींMaharashtra Political Crisis: 30 जून को फ्लोर टेस्ट के लिए मुंबई वापस पहुंचेगा शिंदे गुट, आज किए कामाख्या देवी के दर्शनMumbai News Live Updates: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ शिवसेना की अर्जी सुप्रीम कोर्ट में मंजूर, आज ही होगी सुनवाईनवीन जिंदल को भी कन्हैया लाल की तरह जान से मारने की मिली धमकी, दिल्ली पुलिस से की शिकायतUdaipur Kanhaiya Lal Murder: बैकफुट पर गहलोत सरकार, अब मंत्री बोले, 'ऐसे लोगों को ठोके पुलिस' और दी जाए 'फांसी'Udaipur Murder Case: राजस्थान में एक माह तक धारा 144, पूरे उदयपुर में कर्फ्यू, जानिए अब तक की 10 बड़ी बातेंअमरनाथ यात्रा 2022 : जम्मू से कड़ी सुरक्षा के बीच श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवानानुपुर शर्मा के सपोर्टर की उदयपुर में हत्या के बाद हाई अलर्ट पर UP, अफसरों को सतर्क रहने के निर्देश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.