scriptAmbikapur's name is spreading in the country only due to the hard work | मंत्री सिंहदेव बोले- स्वच्छता दीदियों की मेहनत से ही देश-दुनिया में फैल रहा है अंबिकापुर का नाम | Patrika News

मंत्री सिंहदेव बोले- स्वच्छता दीदियों की मेहनत से ही देश-दुनिया में फैल रहा है अंबिकापुर का नाम

Cleanliness Award: स्वच्छता सम्मान समारोह (Cleanliness honoured programme) मेें स्वच्छता दीदी, स्वच्छताकर्मी व सामाजिक संगठन किए गए सम्मानित, 1 लाख से 10 लाख तक की जनसंख्या वाले शहरों में स्वच्छता सर्वेक्षण (Clean Survey) में अंबिकापुर को मिला हैै दूसरा स्थान

अंबिकापुर

Published: November 26, 2021 11:57:20 pm

अंबिकापुर. पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टीएस सिंहदेव के मुख्य आतिथ्य में शुक्रवार को राजमोहनी देवी भवन में स्वच्छता सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।

इस समारोह में अंबिकापुर नगर पालिक निगम द्वारा स्वच्छता में लगातार 5 वर्ष तक उत्कृष्ट प्रदर्शन करने पर स्वच्छता का बीड़ा उठाने वाली स्वच्छता दीदियों, निगम के स्वच्छताकर्मियों, सामाजिक संगठन तथा स्वच्छता के अम्बिकापुर मॉडल को देश दुनिया तक पहुंचाने वाले मीडिया प्रतिनिधियों को सम्मानित किया गया।
Cleanliness award
Cleanliness didi's honoured by Minister TS Singhdeo

समारोह को संबोधित करते हुए मंत्री सिंहदेव ने कहा कि स्वच्छता के अम्बिकापुर मॉडल को इस मुकाम तक पहुंचाने तथा शहर की स्वच्छता का बीड़ा उठाने वाली स्वच्छता दीदियों की लगन और मेहनत का सुखद परिणाम है कि अंबिकापुर का नाम देश-दुनिया में फैल रहा है।
इस ख्याति को बरकरार रखने तथा इसे और आगे बढ़ाने के लिए आने वाले स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 की तैयारी को अभी से शुरु करनी होगी। परिणाम से कुछ सबक जरूर मिलता है और कुछ कमियों की ओर ध्यान जाता है।
उन्होंने कहा कि इस बार के स्वच्छता सर्वेक्षण में नगर पालिक निगम एवं जिला प्रशासन ने कोई कमी नहीं छोड़ी थी लेकिन अंतिम समय में सीवरेज का पैमाना जोड़ दिए जाने पर अंबिकापुर का अंक कम हो गया, जिससे हम एक पायदान पीछे हो गए।
उन्होंने कहा कि अंबिकापुर में सीवरेज सिस्टम शुरू करने के लिए केंद्र एवं राज्य को अच्छा प्रस्ताव तैयार कर बजट की मांग की जा सकती है। इसके लिए पहले शहर के बाहरी क्षेत्रों में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरुआत की जा सकती है। समारोह को नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष प्रबोध मिंज, एमआईसी सदस्य शैलेन्द्र सोनी ने भी संबोधित किया।
समारोह में जिला पंचायत सदस्य राकेश गुप्ता, पार्षद हरमिंदर सिंह टिन्नी, रूही गजाला, गीता प्रजापति, विनोद एक्का, शमा कलीम, सुभाष पैकरा, गोरेलाल मुंडा सहित अन्य जनप्रतिनिधि अधिकारी-कर्मचारी, स्वच्छता दीदी एवं मीडिया प्रतिनिधि उपस्थित थे।

सीमित संसाधन के बावजूद यहां पहुंचना बड़ी बात
मंत्री टीएस सिंहदेव कहा कि आत्म स्वावलंबी नगर पालिक निगम के क्षेत्र में अंबिकापुर को ही देश में माना गया है। सीमित संसाधन होने के बावजूद यहां तक पहुंचना बड़ी बात है। अंबिकापुर से स्वच्छता में जो काम शुरू हुआ उसकी वजह से पूरे छतीसगढ़ ने इस मॉडल को अपनाया है, जिसके परिणाम स्वरूप छतीसगढ़ के 67 नगरीय निकाय को इस बार स्वच्छता में पुरस्कार मिला।

'शीर्ष पर पहुंचने में एक कदम रह गए पीछे'
छतीसगढ़ वनौषधि पादप विकास बोर्ड के अध्यक्ष बालकृष्ण पाठक ने कहा कि अम्बिकापुर नगर निगम को स्वच्छता के पहले पायदान पर ले जाने के लिए सभी मिलकर संकल्प लें कि शीर्ष पर पहुंचने में एक कदम पीछे रह गए हैं, उसे आगे बढ़ाना है। यदि हम इच्छा शक्ति दिखाएंगे तो काम जरूर सफल होगा।
छतीसगढ़ श्रम कल्याण मंडल के अध्यक्ष शफी अहमद ने कहा कि सभी की सहभागिता से अम्बिकापुर को यह उपलब्धि हासिल हुई है। जिन कमियों से पीछे रह गए उसे दूर करने के लिए वृहद योजना बनाना होगा। नया लक्ष्य प्राप्त करने के लिए हमें सोच भी बड़ा रखना होगा।

'सभी के सहयोग से बेहतर प्रदर्शन'
महापौर डॉ. अजय तिर्की ने कहा कि मार्च 2015 से अम्बिकापुर में ठोस अपशिष्ट प्रबंधन का काम शुरू किया गया तथा माह अगस्त तक 17 एसएलआरएम सेंटर बन गए। स्वच्छता दीदी, निगम अमले के जनप्रतिनिधि तथा नागरिकों के सहयोग से स्वच्छता में लगातार बेहतर प्रदर्शन रहा। उन्होंने कहा कि इस बार जिन क्षेत्रों में अंक कम हुआ है उस पर सुधार कर आगे बढऩा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

SSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगानिलंबित एडीजी जीपी सिंह के मोबाइल, पेन ड्राइव और टैब को भेजा जाएगा लैब, खुल सकते हैं कई राजसीएम बड़ा फैसला : स्कूल-होस्टल रहेंगे बंद, घर से ही होगी प्री बोर्ड परीक्षातीसरी लहर का खतरनाक ट्रेंड, डाक्टर्स ने बताए संक्रमण के ये खास लक्षणInd vs SA: चेतेश्वर पुजारा कर बैठे बड़ी भूल, कीगन पीटरसन को दिया जीवनदान; हुए ट्रोल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.