दूसरे दिन भी नहीं हो सकी जंगल में जलाई गई महिला की शिनाख्त, पीएम के बाद डॉक्टरों ने बताई ये बात

Chhattisgarh Crime: शिनाख्ती के लिए कुछ परिवार आए सामने लेकिन नहीं कर सके पहचान, पुलिस ने पीएम पश्चात शव को मरच्यूरी में रखवाया

अंबिकापुर. राजपुर-प्रतापपुर मार्ग पर स्थित मुरका के जंगल में युवती की जली हुई लाश (Young girl murder) रविवार की मिली थी। लाश की शिनाख्त न होने के कारण राजपुर पुलिस ने शव को देर रात अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल भिजवा दिया था। सोमवार को शव की शिनाख्ती के लिए कुछ लोग मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचे थे लेकिन चेहरा व शरीर का अधिकांश हिस्सा जल (Burnt alive) जाने के कारण पहचान नहीं हो सकी।

सोमवार को फॉरेंसिक व चार चिकित्सकों की टीम द्वारा शव का पीएम किया गया। पीएम पश्चात शव को शिनाख्ती के लिए मरच्यूरी में रखवाया गया है। शॉट पीएम रिपोर्ट के आधार पर शरीर पर हथियार से गहरे चोट के भी निशान मिले हैं। फिलहाल महिला से बलात्कार की पुष्टि नहीं हो सकी है। (Chhattisgarh crime)


राजपुर थानांतर्गत राजपुर-प्रतापपुर मार्ग पर ग्राम मुरका जंगल में बांध से लगे एक युवती का जली हुई लाश मिला था। सूचना पर राजपुर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच की।

लाश के पैरों में पायल तथा हाथ में कंगन के कारण शव महिला के होने की पुष्टि की गई। पुलिस द्वारा शव की शिनाख्ती के प्रयास किए गए, पर लाश काफी जल जाने के कारण किसी ने उसकी पहचान नहीं की।

एसपी के निर्देश पर राजपुर पुलिस ने फॉरेंसिक जांच व पीएम के लिए बॉडी को देर रात मेडिकल कॉलेज अस्पताल अंबिकापुर भिजवाया दिया था। चेहरा व शरीर जल जाने के कारण दो दिन बाद भी शव की पहचान नहीं हो पाई है।


शरीर पर गहरे चोट के निशान की पुष्टि
सोमवार की दोपहर मेडिकल कॉलेज अस्पताल की एक महिला डॉक्टर सहित चार चिकित्सकों की टीम ने महिला के जले हुए शव का पीएम किया। डॉक्टरों की टीम में डॉ. संजीव खाखा, डॉ. जेएस सरूता, महिला डॉक्टर अनुपमा मिंज व फॉरेंसिक एक्सपर्ट डा.ॅ संतु बाग शामिल थे।

इस दौरान चिकित्सकों ने शॉर्ट पीएम के आधार पर पुलिस को बताया कि शरीर पर धारदार हथियार के चोट के निशान पाए गए हैं। वहीं अभी युवती के साथ बलात्कार की पुष्टि नहीं हो पाई है। पुलिस के अनुसार फॉरेंसिक रिपोर्ट आने के बाद ही बलात्कार या अन्य कारणों का पता चल पाएगा।


शिनाख्त करने पहुंचे कई लोग
कोतवाली क्षेत्र के ग्राम असोला निवासी एक महिला पिछले 21 नवंबर से लापता है। महिला के पति ने कोतवाली में गुम इंसान कायम कराया है। महिला का अब तक कोई पता नहीं चल पाया है। वह सामूहिक बलात्कार पीडि़ता भी है। दो माह पूर्व 7 लोगों ने उसका अपहरण कर सामूहिक बलात्कार किया था।

इस मामले में 3 आरोपी जेल में भी हैं। जबकि चार लोग अभी भी फरार हैं। अज्ञात महिला की जली हुई लाश मिलने की सूचना पर गायब महिला के पति ने परिजन के साथ मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंच कर शव की पहचान करने की कोशिश की। पर लाश काफी जल जाने के कारण पहचान नहीं हो सकी।

महिला के पति का कहना है कि साड़ी का जो टुकड़ा बरामद हुआ है मेरी पत्नी के कपड़े से मैच कर रहा है। पर लाश को पहचान नहीं कर सका। इस दौरान गांधीनगर थाना क्षेत्र से भी एक परिवार शव की पहचान करने पहुंचा था।

अंबिकापुर की क्राइम की खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- ambikapur Crime

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned