विधवा नातिन ने फांसी लगाई तो नाना को लगा गहरा सदमा, अंतिम संस्कार से पहले उसने भी कर ली आत्महत्या

Commits suicide: नातिन के पति की 5-6 वर्ष पूर्व सडक़ दुर्घटना (Road accident) में हो गई थी मौत, इसके बाद से वह नाना के घर ही रह रही थी, बचपन से ही नाना ने उसे पाला था

By: rampravesh vishwakarma

Published: 08 Oct 2020, 09:34 PM IST

अंबिकापुर. विधवा नातिन ने बुधवार की सुबह जंगल में फांसी लगाकर आत्महत्या (Commits suicide) कर ली। उसके अंतिम संस्कार (Funeral) की तैयारी घर में चल ही रही थी कि सदमे में नाना ने भी जहर सेवन कर लिया।

उसे इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां इलाज के दौरान उसकी भी मौत हो गई। नातिन के बाद नाना की मौत से परिजनों में मातम पसर गया है।

ये भी पढ़े: गुस्से में मायके गई पत्नी को कई बार मनाने गया लेकिन नहीं आई साथ, वियोग में पति ने लगा ली फांसी


सूरजपुर जिले के जयनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम महावीरपुर निवासी 32 वर्षीय कमली यादव की पति की मौत सडक़ दुर्घटना में 5-6 साल पूर्व हो गई थी। उसकी एक बेटी थी। जो अपने दादा के घर में रहती है।

पति की मौत के बाद कमली अपने नाना 65 वर्षीय रामसाय के घर ग्राम वीरपुर में रहती थी। नाना ने उसे बचपन से पाला था, इस कारण नाना का नातिन से काफी लगाव था। अपनी जिन्दगी से हताश होकर नातिन कमली ने बुधवार की सुबह गांव से लगे जंगल में फांसी लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली।

ये भी पढ़े: सुसाइड नोट में लिखा- मैं मरना चाहता हूं, मेरी मौत का जिम्मेदार..., फिर फार्मासिस्ट ने लगा ली फांसी

सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव का पंचनामा व पीएम के बाद शव परिजन को सौंप दिया था। उसके अंतिम संस्कार की तैयारी चल ही रही थी कि सदमे में नाना रामसाय ने भी जहर सेवन (Eat poison) कर लिया। परिजन ने उसे इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया। यहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।


12 घंटे के भीतर निकली 2 अर्थी
नातिन के बाद नाना की मौत के बाद परिजनों में मातम पसर गया। फिर घर से 12 घंटे के भीतर 2 अर्थियां निकलीं। यह नजारा देख पूरा गांव गम में डूब गया।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned