खाद्य मंत्री ने क्वारेंटाइन सेंटर में रह रहे प्रवासी मजदूरों से पूछा- तेज गर्मी पड़ रही है, कूलर की जरूरत हो तो बताएं

Covid-19: खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने गंगापुर क्वारंटाइन सेंटर का किया औचक निरीक्षण, मजदूरों ने व्यवस्था में जताई संतुष्टि

By: rampravesh vishwakarma

Published: 01 Jun 2020, 09:18 PM IST

अंबिकापुर. खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने सोमवार को अम्बिकापुर के गंगापुर स्थित क्वारंटाइन सेंटर का आकस्मिक निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे श्रामिकों से भोजन, विश्राम, स्वास्थ जांच तथा सफाई की व्यवस्था की जानकारी लेते हुए उनका हाल-चाल पूछा। श्रमिकों ने बताया कि यहां किसी प्रकार की तकलीफ नहीं है।


मंत्री ने गंगापुर स्थित नवीन प्री-मैट्रिक बालक छात्रावास, पिछड़ा वर्ग नवीन कन्या प्री-मैट्रिक कन्या छात्रावास तथा नई दिशा क्वारंटाईन सेन्टर में श्रमिकों से वहां जिला प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराए जा रहे व्यवस्थाओं की जानकारी ली। उन्होंने श्रमिकों से पूछा कि तेज गर्मी पड़ रही है कूलर की जरूरत हो तो बताएं।

प्री-मैट्रिक छात्रावास के श्रमिकों ने कहा कि भूतल होने के कारण कूलर की जरूरत नहीं है। इसके बाद मंत्री भगत ने दो मंजिला नई दिशा क्वारंटाइन सेंटर में कूलर लगाने तथा सुरक्षा के मद्देनजर पिछड़ा वर्ग प्री-मैट्रिक छात्रावास के बॉउंड्री वाल की ऊंचाई बढ़ाने और सीसीटीवी कैमरे लगाने के निर्देश दिए।

इसके साथ ही छात्रावास परिसर परिसर में साफ -सफाई पर विशेष धयान देने कहा। श्रमिकों के लिए खाना बनाने के स्थान से करीब 30 मीटर लंबी नाली निर्माण कराने कहा ताकि पानी का जमाव आस पास न हो।

इस दौरान आईजी रतन लाल डांगी, कलक्टर संजीव कुमार झा, पुलिस अधीक्षक आशुतोष सिंह, एसडीएम अजय त्रिपाठी, तहसीलदार ऋतुराज बिसेन सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।


सभी प्रवासी श्रमिकों का बनाएं राशन कार्ड
मंत्री भगत ने खाद्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि राशनकार्ड विहीन सभी प्रवासी श्रमिकों के लिए राशनकार्ड बनाने की कार्यवाही तेजी से करें। जिले के कोई भी प्रवासी श्रमिक राशन कार्ड से वंचित न हों।

अधिकारियों ने बताया कि नवीन प्री-मैट्रिक बालक छात्रावास क्वारंटाइन सेन्टर में 47 पुरूष, पिछड़ा वर्ग प्री-मैट्रिक कन्या छात्रावास क्वारेंटाइन सेन्टर में 32 महिला, प्रयास बालक छात्रावास क्वारंटाईन सेन्टर में 22 पुरूष तथा नई दिशा क्वारेंटाइन सेन्टर में 34 महिलाएं हैं। क्वारंटाइन अवधि पूरा होने पर घर में भी 14 दिन तक क्वारेंटाइन में रहने के लिए शपथ-पत्र लिया जाता है।

COVID-19 COVID-19 virus
Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned