कोविड के नोडल अधिकारी व गायनोलॉजिस्ट पति-पत्नी भी कोरोना पॉजिटिव, तीनों होम आइसोलेट

Covid-19: कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) महिला का प्रसव (Delivery) कराने के दौरान संपर्क में आए थे गायनोलॉजिस्ट दंपति, मिशन अस्पताल की एक महिला डॉक्टर (Female doctor) भी पॉजिटिव

By: rampravesh vishwakarma

Published: 22 Nov 2020, 10:19 PM IST

अंबिकापुर. स्वास्थ्य विभाग (Health department) का मानना है कि कोरोना की दूसरी लहर शुरू हो गई है। यह शुरूआती कोरोना (Covid-19) से अलग है। शुरूआत में ज्यादा संक्रमित हो रहे थे पर मौत के आंकड़े कम आ रहे थे।

त्योहार सीजन (Festival session) में बरती गई लापरवाही का खामियाजा लोगों को पुन: भुगतना पड़ सकता है। वहीं लोगों ने नियम का पालन भी करना बंद कर दिया है। कोरोना संक्रमण की चपेट में अब चिकित्सक भी आ रहे हैं।

Read More: कोरोना ने शहर के 2 और लोगों की ली जान, एक की अंबिकापुर तो दूसरे की रायपुर में मौत, मिले 79 नए पॉजिटिव


मेडिकल कॉलेज अस्पताल के कोविड नोडल अधिकारी (Covid nodal officer) डॉ. रौशन वर्मा भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। कुछ दिन पूर्व इनकी पत्नी भी संक्रमित पाई गर्इं थीं। वहीं मेडिकल कॉलेज अस्पताल के गायनोलॉजिस्ट दंपति डॉ. सुब्रत दास व डॉ. स्वप्निल भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

सुब्रत दास ने कुछ दिन पूर्व ही कोरोना पॉजिटिव गर्भवती (Pregnant) महिला का ऑपरेशन कर प्रसव (Delivery) कराया था। ये सभी डॉक्टर कोरोना (Corona) से जंग लडऩे के दौरान संक्रमित हो गए हैं। अब तक मेडिकल कॉलेज अस्पताल के 13 डॉक्टर, 21 स्टाफ नर्स व वार्ड ब्वॉय व 7 कर्मचारी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।

इनमें अब तक कई लोग स्वस्थ भी हो चुके हैं। लेकिन कुछ डॉक्टर व नर्स अभी भी कोरोना संक्रमित आने के बाद होम आइसोलेशन में हैं। वहीं मिशन अस्पताल (Mission hospital) की भी डॉक्टर मधु संक्रमित हो चुकी हैं।

Read More: कोरोना पॉजिटिव महिला की अंबिकापुर कोविड अस्पताल में मौत, अब तक 4058 संक्रमित


कोरोना से भी जंग लड़ रही आग से झुलसी मासूम
एक पांच साल की बालिका दोहरे जख्म के साथ मुस्कुराते हुए कोरोना से जंग (Fight with corona) लड़ रही है। वह बतौली के घुटरापारा की रहने वाली है। वह कुछ दिन पूर्व आग तापने के दौरान झुलस गई थी।

परिजन ने उसे मिशन अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया था। यहां जब उसका कोरोना टेस्ट कराया गया तो वह पॉजिटिव पाई गई। इसके बाद उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल स्थित कोविड सेंटर रेफर कर दिया गया। यहां वह दोहरे कष्ट के साथ मुस्कुराते हुए कोरोना से जंग लड़ रही है।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned