सख्त लॉकडाउन: शहर से लेकर गांव तक छाई वीरानी, बेवजह निकले लोगों पर प्रशासन-पुलिस ने की कार्रवाई

Strict lockdown: कोरोना संक्रमितों (Corona positives) की बढ़ती हुई संख्या को देखते हुए सरगुजा कलक्टर (Surguja Collector) ने 13 से 23 अप्रैल तक जिले को घोषित किया है कंटेनमेंट जोन (Containment), पहले दिन से ही सड़कें हुई वीरान

By: rampravesh vishwakarma

Published: 13 Apr 2021, 08:20 PM IST

अंबिकापुर। कोरोना वायरस (Corona virus) से बचाव व रोकथाम के लिए लगाए गए १० दिन के लॉकडाउन के पहले दिन मंगलवार को जिला मुख्यालय समेत नगरीय व ग्रामीण क्षेत्रों में सड़कों से लेकर बाजारों तक पूरी तरह से सन्नाटा छाया रहा। लोग अपने घरों में रहकर परिवार के साथ दिनचर्या में मशगूल रहे।

शहर के प्रमुख मार्गों के साथ ही गली-मोहल्ले तक की दुकानें भी बंद रहीं। चौक चौराहों पर पुलिस-प्रशासन की टीम पूरे समय लॉकडाउन (Total lockdown) को सख्ती से लागू करने में जुटी रही। इक्का-दुक्का बाहर निकलने वालों को रोककर समझाइश दी गई। वहीं कुछ लोगों के खिलाफ चालानी कार्रवाई भी गई।

इस दौरान एसडीएम प्रदीप साहू ने बताया कि लॉकडाउन के पहले दिन कुछ लोग आवश्यक कार्य का बहना बनाकर बाहर निकले। पहले दिन उन्हें समझाइश दी गई, इसके बाद सख्ती से पालन कराया जाएगा।


लॉकडाउन (Strict Lockdown) के दौरान मंगलवार को को जिला मुख्यालय की सड़कों पर केवल प्रशासन व पुलिस की टीमें ही नजर आईं। पुलिस व प्रशासन की टीम मुख्य मार्गों, बाजारों की निगरानी करती रही। ताकि लोग वेवजह आवाजाही न करें। इसके साथ ही निगम की टीम का भी लॉकडाउन का पालन कराने में पूरा सहयोग रहा।

SDM Pradeep Sahu
IMAGE CREDIT: Ambikapur city

शहर व गांवों की ओर से जाने वाली सड़कों पर भी पूरी तरह से सन्नाटा पसरा रहा। कुछ लोग दोपहया व चारपहिया वाहन से शहर में निकले।

लेकिन शहर के घड़ी चौक पर एसडीएम प्रदीप साहू, निगम आयुक्त प्रभाकर पांडेय के मार्गदर्शन में तहसीलदार, नगर निगम व राजस्व की टीम ने लोगों को रोक कर समझाइश दी। वहीं कुछ ऐसे लोग जो बेवजह घूमते पाए, उनके खिलाफ चालानी कार्रवाई भी की गई।


जिले में चेक पोस्टों पर की जा रही सख्ती
लॉकडाउन के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए शहर में तीन लेयर में नाकाबन्दी की व्यवस्था की गई है। एसपी टीआर कोशिमा ने बताया कि पहले लेयर में शहर के आउटर में चिन्हाकिंत मार्गों पर 8 फिक्स पॉइंट बनाए गए हैं, जो शहर में प्रवेश द्वार के रूप में होंगे। दूसरे लेयर में शहर के अंदरूनी इलाकों के सभी चौक-चौराहों पर 18 फिक्स पॉइंट बनाए गए हैं और 6 पेट्रोलिंग दल की व्यवस्था की गई हैं।

आवश्यकता अनुसार यह पेट्रोलिंग टीम (Patroling team) विभिन्न जगहों पर पहुंचकर हालात को काबू करने में कारगर होंगी। इसका प्रभारी सीएसपी अंबिकापुर को बनाया गया है। करीब 300 जवानों की तैनाती की गई है। जो अलग-अलग पाली में ड्यूटी करेंगे।

Checking point
IMAGE CREDIT: Police and Administration in check post

अंतरजिला सीमा के चेक पोस्ट तथा अंदरूनी स्थानों पर बने चेक पोस्ट के अलावा शहर के प्रमुख चौक चौराहों पर भी चाक-चौबंद व्यवस्था के साथ सख्ती से नियमो का पालन कराया जा रहा है। शहर के बाहरी और अंदरूनी इलाकों में तैनात पुलिस के जवानों के अलावा पटवारी, तहसीलदार, आरआई भी संयुक्त रूप से रहेंगे।


बसों का परिचालन जारी, लेकिन यात्री परेशान
बस स्टैंड से एक जिले से दूसरे जिले व राज्यों तक बसों का परिचालन जारी रहा। वहीं बस स्टैंड में आने वाले यात्री भी परेशान रहे। बस स्टैंड परिसर के सारी दुकानें बंद थीं। इसकी वजह से यात्रियों काफी परेशान दिखे। यात्रियों को प्रतीक्षा बस स्टैंड में भोजन व पानी के लिए परेशानियों का सामना करना पड़ा।

Interstate bus stand
IMAGE CREDIT: Disolation in bus stand

आईजी बोले-लॉकडाउन के नियमों का करें पालन
आईजी आरपी साय ने सरगुजा संभाग के सभी नागरिकों से यह अपील है कि कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को दृष्टिगत रखते हुए सरगुजा संभाग के सरगुजा, कोरिया, जशपुर, सूरजपुर व बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में लॉकडाउन लगाया गया है।

लॉकडाउन हेतु जारी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए स्वयं सुरक्षित रह कर अपने परिवार व समाज को सुरक्षित रखने में अपना सहयोग प्रदान करें। इस दौरान किसी व्यक्ति को कोई समस्या होती है तो मेरे मोबाइल नंबर व वाट्सएप नंबर 94791-93500 पर संपर्क व आवेदन पत्र भेज सकते हैं।

COVID-19
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned