America: पोर्टलैंड शहर में नस्लवाद के खिलाफ व्यापक प्रदर्शन, पुलिस पर प्रदर्शनकारियों ने बमों से किया हमला

HIGHLIGHTS

  • Protest In America: अमरीका के ओरेगन प्रांत के पोर्टलैंड शहर में बीते 100 दिनों से चल रहा व्यापक विरोध-प्रदर्शन शनिवार की रात हिंसक हो गया।
  • प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर बमों से हमला किया। इस हमले में एक पुलिस अधिकारी बुरी तरह से घायल हो गया।

By: Anil Kumar

Updated: 06 Sep 2020, 08:47 PM IST

वाशिंगटन। बीते कई महीनों से अमरीका के कई शहरों में नस्लवाद के खिलाफ प्रदर्शन ( Protest Against Racism In America ) हो रहा है। अमरीका के ओरेगन प्रांत के पोर्टलैंड शहर में बीते 100 दिनों से चल रहा व्यापक विरोध-प्रदर्शन शनिवार की रात हिंसक हो गया। प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प की इस घटना में कई पुलिस वाले और प्रदर्शनकारी घायल हो गए।

जानकारी के मुताबिक, प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर बमों से हमला किया। इस हमले में एक पुलिस अधिकारी बुरी तरह से घायल हो गया। दूसरी तरफ शनिवार को ही लुइसविले में सशस्त्र पुलिस समर्थक और नस्लभेद विरोधी प्रदर्शनकारियों के बीच भिड़ंत हो गई।

America: अश्वेत के मौत मामले में 7 पुलिस अफसर सस्पेंड, वीडियो सामने आने के बाद मामले ने पकड़ा तूल

इस दौरान पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को रोकने और तित-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे। पुलिस ने कई प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार करने की बात कही है, पर संख्या कितनी है ये नहीं बताई है। बता दें कि यह घटना केंटुकी में आयोजित वार्षिक घोड़ा दौड़ से पहले हुई है। ऐसे में इस कार्यक्रम पर खतरा मंडराने लगा है।

तीन महीने से रात में हो रहे हैं प्रदर्शन

आपको बता दें कि बीते तीन महीने से अधिक समय से पोर्टलैंड में रात के समय प्रदर्शन हो रहे हैं। पुलिस ने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने जो भी कुछ किया बहुत ही अपमानजनक और हिंसक था। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर बमों से हमला किया। इस दौरान एक पुलिस अधिकारी घायल हो गया।

पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हुए हिंसक घटना को लेकर न्यूयॉर्क टाइम्स के एक पत्रकार ने भी एक वीडियो शेयर किया। इस वीडियो में दिखाई दे रहा है कि प्रदर्शनकारी पुलिस पर बम फेंक कर भाग रहे हैं।

Kenosha Shooting: अश्वेत को गोली मारे जाने पर America में भड़का हिंसक प्रदर्शन, जानिए पूरा मामला

बीते तीन महीने से नस्लवाद के खिलाफ रात के समय हो रहे प्रदर्शन के दौरान कई बार ना केवल प्रदर्शनकारी और पुलिस आमने-सामने आए हैं बल्कि दक्षिणपंथी और वामपंथी समूह भी आपस में टकराए हैं।

नस्लवाद के खिलाफ व्यापक प्रदर्शन

आपको बता दें कि अमरीका में बीते कई महीनों से नस्लवाद के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया जा रहा है। अफ्रीकी-अमरीका अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस कस्टडी में मौत के बाद अमरीका के कई राज्यों में हिंसा भड़क गई थी। ये मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि एक और अश्वेत जैकब ब्लेक को पुलिस ने पिछे से गोली मार दी। इससे वह बुरी तरह से घायल हो गया। जैकब ब्लेक का अभी अस्पताल में इलाज चल रहा है। इसके अलावा मई में एक और अश्वेत नागरिक की पुलिस कस्टडी में मौत को लेकर प्रदर्शन किया जा रहा है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned