Heavy rain: लोगों ने रात में भागकर बचाई जान, कई लोग हुए बेघर

Heavy rain: लोगों ने रात में भागकर बचाई जान, कई लोग हुए बेघर

Satish More | Publish: Sep, 03 2018 11:21:50 AM (IST) Ashoknagar, Madhya Pradesh, India

लोगों ने रात में भागकर बचाई जान, कई लोग हुए बेघर

अशोकनगर/ ईसागढ़/ कदवाया. जिले में एक दिन में हुई बारिश से 25 साल का रिकॉर्ड टूट गा। 24 घंटे में ईसागढ़ में 21.5 सेमी और चंदेरी में 29.5 सेमी बारिश हुई। इससे दोनों ही तहसीलों के एक दर्जन गांवों में बाढ़ आ गई और तालाबों की पार फूटने से 17 मकान पानी के बहाव में बह गए और आधी रात का सन्नाटा चीखों में गूंज गया और लोगों ने भागकर अपनी जान बचाई। इसके अलावा अन्य गांवों में भी एक सैंकड़ा से अधिक मकान धरासाई हो गए। वहीं करीब पांच हजार बीघा की फसल पानी के बहाव में बह गई।

 

सबसे ज्यादा नुकसान ईसागढ़ तहसील के भर्रोली गांव में हुआ। आधी रात को गांव के तालाब की पार फूटने से निचली बस्ती में पानी भर गया और गांव के संजीव, सरूपीबाई, घनश्याम, प्रानसिंह, मुकेश, लाखन सहित 17 परिवारों के मकान पानी के तेज बहाव में बह गए, इन परिवारों ने रात को भाग कर अपनी जान बचाई, साथ ही घरों में रखा गृहस्थी का सामान भी बह गया। वहीं सिरनी गांव में भी तालाब की पार फूटने से पांच घर धरासाई हो गए, तेज बहाव में रात को गांव के बिल्ला केवट का मकान तो बहा ही, साथ ही उसकी बाइक भी पानी के बहाव में नदी में बह गई।

सुबह जानकारी मिली तो कलेक्टर डॉ.मंजू शर्मा और एसडीएम नीलेश शर्मा ने अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे। साथ ही सरकारी वाहनों से इन प्रभावित परिवारों को सुरक्षित जगह पर पहुंचाया गया। भर्रोली गांव के इन 17 परिवारों को एक किमी दूर स्थित सिंगपुर गांव के स्कूल में ठहराया गया, तो वहीं सिरनी गांव के परिवारों को गांव के स्कूल में ही रुकने की व्यवस्था कराई। साथ ही उन्हें खाना की भी व्यवस्था कराई गई। वहीं ईसागढ़ में भी तालाब का पानी ओवरफ्लो होने से देसवारी मोहल्ले के दर्जनों घरों में पानीभर गया और जमुनिया गांव में तालाब की पार फूटने से तीन बकरियां बह गईं और मकान भी धरासाई हो गए।

चंदेरी शहर के एक सैंकड़ा घरों में रातभर भरा रहा पानी

वहीं तेज बारिश से चंदेरी शहर में भी कई मोहल्लों में गलियों में पानी भर गया और करीब एक सैंकड़ा घरों में एक से दो फिट तक पानी भर जाने से लोगों ने रात जागकर गुजारी। बाल उद्यान की दीवार गिरने से मारुति कार दब गई और सीमेंट की गोदाम में पानी भर गया, इससे 6 00 कट्टी सीमेंट पानी में डूबकर खराब हो गया। वहीं फतेहाबाद में आदिवासी बस्ती में पानी भर गया और माधव खो खाई मोहल्ला में पानी भरने से लोगों को फतेहाबाद के वृद्धाश्रम में पहुंचाया गया। प्रशासन ने प्रभावितों को करीब 300 पैकेट खाना वितरित कराया और जेसीबी से नाली खुदवाकर पानी निकासी की व्यवस्था कराई।

नाले में बहे व्यक्ति को ग्रामीणों ने बचाया

भर्रोली निवासी 40 वर्षीय विश्ववीर रघुवंशी सुबह नाला पार कर अपने खलिहान की तरफ जा रहे थे, जो नाले के तेज बहाव में बह गए। हालांकि उन्होंने पेड़ पकड़कर खुद को बहने से तो बचा लिया, लेकिन बाहर नहीं निकल सके। इससे चिल्लाकर उन्होंने ग्रामीणों को आवाज लगाई। बाद में ग्रामीणों ने मौके पर पहुंचकर करीब आधे घंटे की मशक्कत के बाद रस्सियों के सहारे विश्ववीरसिंह को पानी के बहाव में से बाहर निकाला।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned