China ने किया पलटवार, अमरीकी लोगों के वीजा पर लगाई पाबंदी

Highlights

  • चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि अमरीका के कर्मचारियों पर वीजा ( Visa) पर प्रतिबंध लगाने का फैसला लिया गया है।
  • इससे पहले अमरीका ने चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (Communist Party) के अधिकारियों पर वीजा प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया था।

By: Mohit Saxena

Updated: 29 Jun 2020, 09:08 PM IST

बीजिंग। हांगकागं (Hongkong) के मसले पर चीन ने अमरीका पर पलटवार किया है। चीन (China) ने भी अमरीका से आने वाले लोगों के वीजा पर पाबंदी लगाने का निर्णय लिया है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने सोमवार को बताया कि चीन ने अमरीका के कर्मचारियों पर वीजा पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है।

चीन के सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स (Global Times) के मुताबिक चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि अमरीका के खराब बर्ताव के बाद यह फैसला लिया गया है। इससे पहले अमरीका ने चीनी लोगों के वीजा पर पाबंदी लगाने का फैसला किया था।

अमरीका पहले ही लगा चुका है पाबंदी

अमरीका ने शुक्रवार को चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (सीसीपी) के अधिकारियों पर वीजा प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया था। अमरीका ने उन पर हांगकांग में मानवाधिकारों और स्वतंत्रता के बुनियादी अधिकारों के हनन का आरोप लगाया था।

इसके बाद चीन ने इस फैसले का कड़ा विरोध किया है। हांगकांग से जुड़े मुद्दों को लेकर चीनी अधिकारियों पर वीजा प्रतिबंध लगाने के अमरीका के फैसले नाजायज बताया। साथ ही चीन ने चेताया कि कि राष्ट्रीय सुरक्षा को बनाए रखने के लिए वह मजबूती से अपने कदम बढ़ाता रहेगा।

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण फैलने के बाद से अमरीका और चीन के संबध लगातार खराब हो रहे हैं। हांगकांग के लिए चीन के सुरक्षा कानून ने ट्रंप को विशेष आर्थिक पैकेज को समाप्त करने की प्रक्रिया शुरू करने के लिए प्रेरित किया। इससे हांगकांग को एक वैश्विक वित्तीय केंद्र रहने की अनुमति दी है।

हांगकांग में अपना कब्जा जमाना चाहता है

गौरतलब है कि हांगकांग के मुद्दे पर अमरीका हमेशा से चीन के खिलाफ रहा है। उसका कहना है कि हांगकांग में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून को लागू करना चीन की चाल है। वह इस तरह से हांगकांग में वह अपना कब्जा जमाना चाहता है। वह उसे पूरी तरह से अपने कंट्रोल करना चाहता है। अमरीका इसका विरोध कर कम्युनिटस पार्टी के नेताओं के वीजा पर बैन लगा दिया। उसका कहना है कि हांगकांग को अपनी स्वायत्तता का इस्तेमाल करने का पूरा अधिकार है। इन अधिकारों को हांगकांग प्रशासन की तरफ से संरक्षित किया जाना चाहिए।

चीन ने जताई थी कड़ी प्रतिक्रिया

अमरीका के फैसले पर चीन ने कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है। चीनी अधिकारियों पर वीजा प्रतिबंध लगाने के अमरीका के फैसले का कड़ा विरोध जताया। साथ ही चीन ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा को बनाए रखने के लिए वह मजबूती से कदम बढ़ाते रहेंगे।

Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned